Tuesday, July 5, 2022
spot_img
Homeराज्य की खबरेंलखीसराय में ट्रेन में आगजनी के दौरान 1 की मौत,9 ट्रेनें फूंकीं;भाजपा...

लखीसराय में ट्रेन में आगजनी के दौरान 1 की मौत,9 ट्रेनें फूंकीं;भाजपा दफ्तर जलाया

Updated on 17/June/2022 3:15:48 PM

बिहार। केंद्र की सेना में अग्निपथ योजना के खिलाफ बिहार तीसरे दिन भी जला। लखीसराय में विक्रमशिला एक्सप्रेस में आगजनी के दौरान एक शख्स की मौत हुई है। बताया जा रहा है कि वो ट्रेन में मौजूद था। आग की चपेट में वो गया,जिससे उसकी मौत हो गई।

राजधानी पटना समेत 25 जिलों में जमकर उपद्रव हुआ। दानापुर और लखीसराय स्टेशन समेत आधा दर्जन से अधिक स्टेशनों पर आगजनी की गई। 9 ट्रेनों को आग के हवाले कर दिया गया। पुलिस पर पथराव किया गया। कुछ जगहों पर पुलिस ने लाठीचार्ज और फायरिंग की।

बेतिया में प्रदर्शनकारियों ने डिप्टी सीएम रेणु देवी, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष संजय जायसवाल के घर पर हमला किया। यहां पर भाजपा विधायक विनय बिहारी की गाड़ी पर पथराव किया गया। सासाराम और मधेपुरा में भाजपा दफ्तर को प्रदर्शनकारियों ने फूंक दिया। एक दिन पहले नवादा में भाजपा कार्यालय को जला दिया गया था। दो विधायकों पर हमले हुए थे।

सुबह से अब तक 8 ट्रेनों को निशाना बनाया गया है। समस्तीपुर में 2, लखीसराय में 2, दानापुर, फतुहा, आरा और सुपौल में एक-एक यात्री ट्रेन में प्रदर्शनकारियों ने आग लगा दी। वहीं, बक्सर और नालंदा समेत कई जिलों में रेलवे ट्रैक पर आगजनी की गई है। आरा के बिहिया रेलवे स्टेशन पर उपद्रवियों ने स्टेशन पर लूटपाट की है। टिकट काउंटर से लगभग 3 लाख रुपए लूट लिए हैं। बेतिया में यात्रियों को ट्रेन से उताकर मारपीट की गई।

प्रदर्शनकारियों ने इस्लामपुर रेलवे स्टेशन पर इस्लामपुर-हटिया एक्सप्रेस ट्रेन में आग लगा दी। एसी बोगी समेत करीब 4 कोच धू धू कर जले।
सासाराम में टोल प्लाजा में घुसकर प्रदर्शनकारियों ने तोड़फोड़ की। टोल प्लाजा में आगजनी भी की गई है। प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी है। कई राउंड फायरिंग की खबर है। आरा में सड़क पर आगजनी के बाद जाम लगाया गया है।

​​​​वैशाली के हाजीपुर रेलवे स्टेशन पर उग्र छात्रों ने तोड़फोड़ की है। समस्तीपुर में प्रदर्शनकारियों ने जम्मूतवी-गुवाहाटी एक्सप्रेस, बिहार संपर्क क्रांति में आग लगा दी। हाजीपुर-बरौनी रेलखंड के मोहिउद्दीननगर स्टेशन पर भी आगजनी की गई है। प्रदर्शनकारी सुबह 6 बजे से ही ट्रैक पर डटे हुए हैं। रेलवे ने जहां-तहां ट्रेनों को रोक दिया है। कई ट्रेनें रद्द भी कर दी गई हैं।

खगड़िया में भी फिर से प्रदर्शन शुरू हो गया है। मानसी जंक्शन पर प्रदर्शनकारियों की भीड़ जुटने लगी है। इधर, छपरा में छपरा-सीवान मुख्य मार्ग पर चैनवा टोल बोर्ड पर प्रदर्शकारियों ने जमकर हंगामा किया। टोल बूथ पर तोड़फोड़ के बाद रोड जाम कर दिया गया है। तीनों सेनाओं में भर्ती के लिए केंद्र सरकार की तरफ से बनाई गई अग्निपथ योजना के खिलाफ छात्रों के आक्रोश से जु़ड़ी पूरी खबर पढ़ने से पहले आप इस पोल में हिस्सा लेकर खबर पर अपनी राय जरूर दें।

इन जिलों में उग्र प्रदर्शन
बक्सर,भोजपुर,मुंगेर,समस्तीपुर,लखीसराय,नालंदा,अरवल,जहानाबाद,पटना-बिहटा,बेगूसराय,वैशाली, औरंगाबाद,सुपौल,खगड़िया,जमुई,रोहतास,नवादा,सीतामढ़ी,बेतिया,शेखपुरा,सीवान,बगहा और मधेपुरा में उग्र प्रदर्शन हो रहा है।

समस्तीपुर में 2 ट्रेन जलाई, कई बोगियां खाक
समस्तीपुर में प्रदर्शनकारियों ने 2 ट्रेनों में आग लगा दी। इसमें जम्मूतवी-गुवाहाटी एक्सप्रेस की दो बोगियां खाक हो गई। जलाई गई बोगियों में एक AC कोच भी है। इधर, दिल्ली से लौट रही बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस में भी आगजनी हुई है।

उपद्रवियों ने बगहा में बीजेपी कार्यालय को निशाना बनाया है। बगहा 2 प्रखण्ड के कैलाशनगर नारायणपुर में बीजेपी कार्यालय में तोड़फोड़ की गई। प्रदर्शनतकारियों ने पहले रेल ट्रैक और NH 727 पर आगजनी के बाद बीजेपी दफ्तर पहुंचे। वहां तोड़फोड़ की।

आरा में प्रदर्शनकारियों ने पैसेंजर ट्रेन को आग के हवाले कर दिया। इस दौरान स्टेशन पर जमकर तोड़फोड़ भी की गई। केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी हुई। नवादा में हिसुआ के विश्व शांति चौक आक्रोशित छात्रों ने सड़क पर आगजनी कर जमकर बवाल किया। उग्र छात्रों ने तिलैया जंक्शन में भी आगदजली की है।

नालंदा में भी प्रदर्शकारियों ने रेलवे ट्रैक पर आग लगा दी। राजगीर-बख्तियारपुर रेलखंड के पावापुरी फाटक पर सेना भर्ती के अभ्यर्थियों ने ट्रैक को जाम किया। NH- 20 पर जाम लगा दिया। इसके चलते दोनों और गाड़ियों की लंबी लाइन लग गई है।

आरा के बिहिंया में आज फिर से हंगामा शुरू हो गया है। प्रदर्शनकारियों ने वहां भी तोड़फोड़ की है। वहीं मुंगेर में कृष्ण सेतु पुल पर भी दर्जनों युवा जमा हो गए हैं। सड़क को जाम कर नारेबाजी कर रहे हैं। मुंगेर से खगड़िया बेगूसराय, भागलपुर और पटना जाने वाली सड़क पर आवागमन बाधित है।

बेगूसराय के लखमीनिया स्टेशन पर अभ्यर्थी रेलवे ट्रैक पर टायर जलाकर की आगजनी कर रहे हैं। और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी जारी है।
औरंगाबाद में NH-2 के जसोईया मोड़ पर प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम कर दी। जिसके चलते 5 किलोमीटर लंबा जाम लग गया है।
सुपौल में भी प्रदर्शनकारियों ने पैसेंजर ट्रेन को फूंक दिया। ये ट्रेन सहरसा से सरायगढ़ जा रही थी।
नवादा जिले के नारदीगंज बाजार में प्रदर्शनकारियों ने राजगीर-बोधगया NH-82 पर नारदीगंज में छात्रों ने किया सड़क जाम। प्रदर्शनकारियों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।
नवादा में उग्र प्रदर्शन के दौरान सीओ की गाड़ी पर पथराव किया गया। साथ ही थाने की जिप्सी को आग के हवाले कर दिया। 2-3 बसों में भी तोड़फोड़ की गई। पुलिस उपद्रवियों को हटाने की कोशिश कर रही है। दहशत में इलाके की सभी दुकानें बंद हो गई है।

आक्रोशित युवाओं का कहना है कि महज 4 साल के लिए भर्ती किया जाना रोजगार के अधिकार का हनन करना है। प्रदर्शनकारियों ने इस दौरान विधायक, सांसद पर भी तंज कसते हुए कहा कि क्या किसी विधायक, सांसद और मुख्यमंत्री का बेटे सेना में भर्ती है। सेना में केवल गरीब किसान का बेटा है। सरकार इन लोगों के साथ नाइंसाफी कर रही है। इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे। केन्द्र की मोदी सरकार युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है।

कल बिहार में कुल 5 ट्रेनें जलाई गईं
गुरुवार को 17 जिलों में युवा सड़क और ट्रैक पर उतर गए। प्रदर्शनकारियों ने छपरा, कैमूर और गोपालगंज में 5 ट्रेनों को आग के हवाले कर दिया। 12 ट्रेनों में तोड़फोड़ की गई। अकेले छपरा में ही 3 ट्रेनों में आग लगा दी। यात्रियों ने भागकर अपनी जान बचाई। छपरा में सबसे ज्यादा प्रदर्शन का असर रहा।

आरा में पुलिस को उपद्रवियों पर काबू पाने के लिए आंसू गैस के गोले दागने पड़े। मोतिहारी में भी ट्रेन पर पथराव किया गया। प्रदर्शन के कारण रेल सेवा सुबह 6.25 के बाद ठप हो गई थी। करीब नौ घंटे तक ट्रेनें ठप रहीं। साढ़े तीन बजे के बाद सभी रूट क्लियर कराकर ट्रेनें शुरू की गईं।प्रदर्शन के दौरान बीजेपी के 2 विधायकों पर हमले भी किए गए हैं। छपरा सदर के बीजेपी विधायक डॉ. सीएन गुप्ता के घर पर प्रदर्शनकारियों ने तोड़फोड़ की है। वहीं वारिसलीगंज की विधायक अरुणा देवी पर भी हमला हुआ। नवादा में प्रदर्शनकारियों ने बीजेपी ऑफिस में आग लगा दी। हाजीपुर में पुलिस पर पथराव किया गया। पुलिस जवानों ने भाग कर जान बचाई।

4 साल तीनों सेनाओं में भर्ती की योजना
केंद्र सरकार ने 14 जून को सेना की तीनों शाखाओं- थलसेना, नौसेना और वायुसेना में युवाओं की बड़ी संख्या में भर्ती के लिए अग्निपथ भर्ती योजना शुरू की है। इस स्कीम के तहत नौजवानों को 4 साल के लिए डिफेंस फोर्स में सेवा देनी होगी। माना जा रहा है कि सरकार ने यह कदम तनख्वाह और पेंशन का बजट कम करने के लिए उठाया है।

चार साल की नौकरी का विरोध
एक प्रदर्शनकारी अभ्यर्थी अंकित सिंह ने बताया, ‘2021 में सेना में नियुक्ति के लिए आवेदन मांगे गए थे। मुजफ्फरपुर समेत आठ जिलों के हजारों अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था। उनमें से जिन्होंने फिजिकल टेस्ट पास किए उनका मेडिकल हुआ था। मेडिकल होने के बाद अब एक साल से लिखित परीक्षा का इंतजार कर रहे हैं। अब तक परीक्षा नहीं ली गई।’

प्रदर्शनकारियों ने कहा, ‘रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को इसका ऐलान किया था कि अग्निपथ स्कीम के तहत अग्निवीरों की नियुक्ति होगी, जिन्हें 4 साल के लिए सेना में नौकरी दी जाएगी। 4 साल बाद 75 फीसदी जवानों को 11 लाख रुपए देकर घर वापस कर दिया जाएगा। सिर्फ 25 फीसदी की सेवा में कुछ विस्तार होगा। इसी नए नियम को लेकर हंगामा व प्रदर्शन कर रहे हैं।’

बेतिया में प्रदर्शनकारियों ने डिप्टी सीएम रेणु देवी, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष संजय जायसवाल के घर पर हमला किया। यहां पर भाजपा विधायक विनय बिहारी की गाड़ी पर पथराव किया गया। सासाराम और मधेपुरा में भाजपा दफ्तर को प्रदर्शनकारियों ने फूंक दिया। एक दिन पहले नवादा में भाजपा कार्यालय को जला दिया गया था। दो विधायकों पर हमले हुए थे।

सुबह से अब तक 8 ट्रेनों को निशाना बनाया गया है। समस्तीपुर में 2, लखीसराय में 2, दानापुर, फतुहा, आरा और सुपौल में एक-एक यात्री ट्रेन में प्रदर्शनकारियों ने आग लगा दी। वहीं, बक्सर और नालंदा समेत कई जिलों में रेलवे ट्रैक पर आगजनी की गई है। आरा के बिहिया रेलवे स्टेशन पर उपद्रवियों ने स्टेशन पर लूटपाट की है। टिकट काउंटर से लगभग 3 लाख रुपए लूट लिए हैं। बेतिया में यात्रियों को ट्रेन से उताकर मारपीट की गई।

प्रदर्शनकारियों ने इस्लामपुर रेलवे स्टेशन पर इस्लामपुर-हटिया एक्सप्रेस ट्रेन में आग लगा दी। एसी बोगी समेत करीब 4 कोच धू धू कर जले।
सासाराम में टोल प्लाजा में घुसकर प्रदर्शनकारियों ने तोड़फोड़ की। टोल प्लाजा में आगजनी भी की गई है। प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी है। कई राउंड फायरिंग की खबर है। आरा में सड़क पर आगजनी के बाद जाम लगाया गया है।

​​​​वैशाली के हाजीपुर रेलवे स्टेशन पर उग्र छात्रों ने तोड़फोड़ की है। समस्तीपुर में प्रदर्शनकारियों ने जम्मूतवी-गुवाहाटी एक्सप्रेस, बिहार संपर्क क्रांति में आग लगा दी। हाजीपुर-बरौनी रेलखंड के मोहिउद्दीननगर स्टेशन पर भी आगजनी की गई है। प्रदर्शनकारी सुबह 6 बजे से ही ट्रैक पर डटे हुए हैं। रेलवे ने जहां-तहां ट्रेनों को रोक दिया है। कई ट्रेनें रद्द भी कर दी गई हैं।

खगड़िया में भी फिर से प्रदर्शन शुरू हो गया है। मानसी जंक्शन पर प्रदर्शनकारियों की भीड़ जुटने लगी है। इधर, छपरा में छपरा-सीवान मुख्य मार्ग पर चैनवा टोल बोर्ड पर प्रदर्शकारियों ने जमकर हंगामा किया। टोल बूथ पर तोड़फोड़ के बाद रोड जाम कर दिया गया है। तीनों सेनाओं में भर्ती के लिए केंद्र सरकार की तरफ से बनाई गई अग्निपथ योजना के खिलाफ छात्रों के आक्रोश से जु़ड़ी पूरी खबर पढ़ने से पहले आप इस पोल में हिस्सा लेकर खबर पर अपनी राय जरूर दें।

इन जिलों में उग्र प्रदर्शन
बक्सर, भोजपुर, मुंगेर, समस्तीपुर, लखीसराय, नालंदा, अरवल, जहानाबाद, पटना- बिहटा, बेगूसराय, वैशाली, औरंगाबाद, सुपौल, खगड़िया, जमुई, रोहतास, नवादा, सीतामढ़ी, बेतिया, शेखपुरा, सीवान, बगहा और मधेपुरा में उग्र प्रदर्शन हो रहा है।

समस्तीपुर में 2 ट्रेन जलाई, कई बोगियां खाक
समस्तीपुर में प्रदर्शनकारियों ने 2 ट्रेनों में आग लगा दी। इसमें जम्मूतवी-गुवाहाटी एक्सप्रेस की दो बोगियां खाक हो गई। जलाई गई बोगियों में एक AC कोच भी है। इधर, दिल्ली से लौट रही बिहार संपर्क क्रांति एक्सप्रेस में भी आगजनी हुई है।

उपद्रवियों ने बगहा में बीजेपी कार्यालय को निशाना बनाया है। बगहा 2 प्रखण्ड के कैलाशनगर नारायणपुर में बीजेपी कार्यालय में तोड़फोड़ की गई। प्रदर्शनतकारियों ने पहले रेल ट्रैक और NH 727 पर आगजनी के बाद बीजेपी दफ्तर पहुंचे। वहां तोड़फोड़ की।

आरा में प्रदर्शनकारियों ने पैसेंजर ट्रेन को आग के हवाले कर दिया। इस दौरान स्टेशन पर जमकर तोड़फोड़ भी की गई। केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी हुई। नवादा में हिसुआ के विश्व शांति चौक आक्रोशित छात्रों ने सड़क पर आगजनी कर जमकर बवाल किया। उग्र छात्रों ने तिलैया जंक्शन में भी आगदजली की है।

नालंदा में भी प्रदर्शकारियों ने रेलवे ट्रैक पर आग लगा दी। राजगीर-बख्तियारपुर रेलखंड के पावापुरी फाटक पर सेना भर्ती के अभ्यर्थियों ने ट्रैक को जाम किया। NH- 20 पर जाम लगा दिया। इसके चलते दोनों और गाड़ियों की लंबी लाइन लग गई है।

आरा के बिहिंया में आज फिर से हंगामा शुरू हो गया है। प्रदर्शनकारियों ने वहां भी तोड़फोड़ की है। वहीं मुंगेर में कृष्ण सेतु पुल पर भी दर्जनों युवा जमा हो गए हैं। सड़क को जाम कर नारेबाजी कर रहे हैं। मुंगेर से खगड़िया बेगूसराय, भागलपुर और पटना जाने वाली सड़क पर आवागमन बाधित है।

बेगूसराय के लखमीनिया स्टेशन पर अभ्यर्थी रेलवे ट्रैक पर टायर जलाकर की आगजनी कर रहे हैं। और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी जारी है।
औरंगाबाद में NH-2 के जसोईया मोड़ पर प्रदर्शनकारियों ने सड़क जाम कर दी। जिसके चलते 5 किलोमीटर लंबा जाम लग गया है।
सुपौल में भी प्रदर्शनकारियों ने पैसेंजर ट्रेन को फूंक दिया। ये ट्रेन सहरसा से सरायगढ़ जा रही थी।
नवादा जिले के नारदीगंज बाजार में प्रदर्शनकारियों ने राजगीर-बोधगया NH-82 पर नारदीगंज में छात्रों ने किया सड़क जाम। प्रदर्शनकारियों ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।
नवादा में उग्र प्रदर्शन के दौरान सीओ की गाड़ी पर पथराव किया गया। साथ ही थाने की जिप्सी को आग के हवाले कर दिया। 2-3 बसों में भी तोड़फोड़ की गई। पुलिस उपद्रवियों को हटाने की कोशिश कर रही है। दहशत में इलाके की सभी दुकानें बंद हो गई है।

आक्रोशित युवाओं का कहना है कि महज 4 साल के लिए भर्ती किया जाना रोजगार के अधिकार का हनन करना है। प्रदर्शनकारियों ने इस दौरान विधायक, सांसद पर भी तंज कसते हुए कहा कि क्या किसी विधायक, सांसद और मुख्यमंत्री का बेटे सेना में भर्ती है। सेना में केवल गरीब किसान का बेटा है। सरकार इन लोगों के साथ नाइंसाफी कर रही है। इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे। केन्द्र की मोदी सरकार युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है।

कल बिहार में कुल 5 ट्रेनें जलाई गईं
गुरुवार को 17 जिलों में युवा सड़क और ट्रैक पर उतर गए। प्रदर्शनकारियों ने छपरा, कैमूर और गोपालगंज में 5 ट्रेनों को आग के हवाले कर दिया। 12 ट्रेनों में तोड़फोड़ की गई। अकेले छपरा में ही 3 ट्रेनों में आग लगा दी। यात्रियों ने भागकर अपनी जान बचाई। छपरा में सबसे ज्यादा प्रदर्शन का असर रहा।

आरा में पुलिस को उपद्रवियों पर काबू पाने के लिए आंसू गैस के गोले दागने पड़े। मोतिहारी में भी ट्रेन पर पथराव किया गया। प्रदर्शन के कारण रेल सेवा सुबह 6.25 के बाद ठप हो गई थी। करीब नौ घंटे तक ट्रेनें ठप रहीं। साढ़े तीन बजे के बाद सभी रूट क्लियर कराकर ट्रेनें शुरू की गईं।प्रदर्शन के दौरान बीजेपी के 2 विधायकों पर हमले भी किए गए हैं। छपरा सदर के बीजेपी विधायक डॉ. सीएन गुप्ता के घर पर प्रदर्शनकारियों ने तोड़फोड़ की है। वहीं वारिसलीगंज की विधायक अरुणा देवी पर भी हमला हुआ। नवादा में प्रदर्शनकारियों ने बीजेपी ऑफिस में आग लगा दी। हाजीपुर में पुलिस पर पथराव किया गया। पुलिस जवानों ने भाग कर जान बचाई।

4 साल तीनों सेनाओं में भर्ती की योजना
केंद्र सरकार ने 14 जून को सेना की तीनों शाखाओं- थलसेना, नौसेना और वायुसेना में युवाओं की बड़ी संख्या में भर्ती के लिए अग्निपथ भर्ती योजना शुरू की है। इस स्कीम के तहत नौजवानों को 4 साल के लिए डिफेंस फोर्स में सेवा देनी होगी। माना जा रहा है कि सरकार ने यह कदम तनख्वाह और पेंशन का बजट कम करने के लिए उठाया है।

चार साल की नौकरी का विरोध
एक प्रदर्शनकारी अभ्यर्थी अंकित सिंह ने बताया, ‘2021 में सेना में नियुक्ति के लिए आवेदन मांगे गए थे। मुजफ्फरपुर समेत आठ जिलों के हजारों अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था। उनमें से जिन्होंने फिजिकल टेस्ट पास किए उनका मेडिकल हुआ था। मेडिकल होने के बाद अब एक साल से लिखित परीक्षा का इंतजार कर रहे हैं। अब तक परीक्षा नहीं ली गई।’

प्रदर्शनकारियों ने कहा, ‘रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को इसका ऐलान किया था कि अग्निपथ स्कीम के तहत अग्निवीरों की नियुक्ति होगी, जिन्हें 4 साल के लिए सेना में नौकरी दी जाएगी। 4 साल बाद 75 फीसदी जवानों को 11 लाख रुपए देकर घर वापस कर दिया जाएगा। सिर्फ 25 फीसदी की सेवा में कुछ विस्तार होगा। इसी नए नियम को लेकर हंगामा व प्रदर्शन कर रहे हैं।’

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img