Sunday, August 14, 2022
spot_img
Homeराष्ट्रीयपार्थ चटर्जी की गिरफ्तारी के बाद बढ़ी मुश्किलें,कोर्ट ने दो दिन की...

पार्थ चटर्जी की गिरफ्तारी के बाद बढ़ी मुश्किलें,कोर्ट ने दो दिन की ED रिमांड पर भेजा

Updated on 23/July/2022 7:26:32 PM

नई दिल्ली। एसएससी भर्ती घोटाले के सिलसिले में पश्चिम बंगाल के मंत्री पार्थ चटर्जी को ईडी (ED) ने गिरफ्तार कर लिया है। इसी को लेकर भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस और पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी पर जोरदार हमला बोला। बीजेपी सांसद सौमित्र खान ने कहा कि ‘टीएमसी चोर पार्टी है’ और बनर्जी के नेतृत्व में पश्चिम बंगाल अब चोरों का राज्य बन गया है। उन्होंने पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री के भतीजे अभिषेक बनर्जी पर राज्य में हुए लगभग हर घोटाले का हिस्सा होने का भी आरोप लगाया।

उन्होंने कहा, “टीएमसी एक चोर पार्टी है। जो लोग सोचते हैं कि ममता बनर्जी एक ईमानदार महिला हैं, मैं उन सभी को बताना चाहता हूं कि ममता चोरों की डकैत रानी बन गई हैं। 2009 और 2022 की ममता में बहुत बड़ा अंतर है। उनके भतीजे अभिषेक बनर्जी के पास कम से कम 50,000 करोड़ रुपये हैं, वह कई घोटालों में शामिल हैं।

सौमित्र खान ने कहा,”उन पर विश्वास मत करो। भारत सरकार से उन्हें जो भी पैसा मिलता है, वे उसी से एक घोटाला करते हैं। वह कभी भी टीएमसी नेताओं की बैठक नहीं बुलाती हैं, और कभी भी केंद्र की योजनाओं का पालन नहीं करती हैं। पूरी टीएमसी चोर है और उन्होंने बंगाल को चोरों का राज्य बना दिया है।”

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दिलीप घोष ने भी एसएससी भर्ती घोटाले को लेकर पश्चिम बंगाल सरकार की खिंचाई की और कहा कि केंद्रीय एजेंसियों की जांच के दौरान और नाम सामने आएंगे। घोष ने कहा,”हर कोई शामिल है। टीएमसी लगातार ईडी और सीबीआई को धमकी दे रही है,पहले सीबीआई को रोका, और अब यह कड़ी कार्रवाई कर रही है। टीएमसी के कितने नेता और आसपास के लोग करोड़ों रुपये छिपा रहे हैं और यह सामने आएगा। मुझे लगता है कि जो दस्तावेज प्राप्त हुए हैं उनकी और जांच होनी चाहिए। आम लोगों को भी इस घोटाले के बारे में पता था। एक तरफ, ममता बनर्जी सब कुछ और सभी के बारे में जानती हैं लेकिन उन्हें अपने ही मंत्रियों के बारे में पता कैसे नहीं था? मुझे लगता है कि सीबीआई और ईडी के नाम हैं जो लोग इसमें शामिल हैं और वे उनसे पूछताछ कर रहे हैं।”

एसएससी भर्ती घोटाले में पार्थ चटर्जी गिरफ्तार
पश्चिम बंगाल के मंत्री पार्थ चटर्जी को ईडी ने एसएससी भर्ती घोटाले के सिलसिले में शनिवार को गिरफ्तार किया था। ईडी ने बंगाल के पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी के दक्षिण कोलकाता स्थित आवास पर छापा मारा और वर्तमान में एसएससी के माध्यम से सरकारी स्कूलों के शिक्षकों और गैर-शिक्षण कर्मचारियों की भर्ती में कथित अनियमितताओं की जांच के संबंध में उनसे पूछताछ कर रहा है।

सूत्रों के मुताबिक ईडी के अधिकारी शुक्रवार सुबह पश्चिम बंगाल के पूर्व शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी के आवास में घुसे। अधिकारी कथित तौर पर राज्य भर में 13 स्थानों पर छापेमारी कर रहे हैं। पश्चिम बंगाल के मंत्री परेश अधिकारी के कूचबिहार जिले में स्थित आवास पर भी छापेमारी की गयी।

गौरतलब है कि टीएमसी नेता पार्थ चटर्जी, जो वर्तमान में उद्योग और वाणिज्य राज्य मंत्री हैं, कथित कदाचार के समय शिक्षा मंत्री थे। इससे पहले सीबीआई ने उनसे मई में पूछताछ की थी। चटर्जी दो बार सीबीआई के समक्ष पूछताछ के लिए पेश हो चुके हैं। सीबीआई पश्चिम बंगाल एसएससी द्वारा दी गई कथित अवैध नियुक्तियों की जांच करेगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img