Sunday, August 14, 2022
spot_img
Homeराज्य की खबरेंउत्त्तर प्रदेशटैटू बनवाने में बरतें सावधानी,लापरवाही से कई लोग हो गए एचआईवी संक्रमित

टैटू बनवाने में बरतें सावधानी,लापरवाही से कई लोग हो गए एचआईवी संक्रमित

Updated on 05/August/2022 5:28:34 PM

वाराणसी। टैटू बनवाने का शौक इन दिनों युवाओं में अधिक देखने को मिल रहा है। दुकानों पर पहुंचकर वह अपनी पसंद का टैटू बनवा रहे हैं। इस बीच कई चौंकाने वाले मामले सामने आए हैं। वाराणसी जिले में टैटू बनवाने वाले करीब छह से अधिक युवाओं में एचआईवी संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।

इसके बाद से स्वास्थ्य विभाग की ओर से लोगों को जागरूक किया जा रहा है। चिकित्सक के अनुसार टैटू बनवाने में अगर सावधानी नहीं बरती गई तो परेशानी बढ़ जाती है। बड़ागांव निवासी 20 वर्षीय युवक और नगवां की एक युवती जिसने मेले में टैटू बनवाया था। इसके बाद बुखार होने लगा। अस्पताल जाकर जांच कराई तो रिपोर्ट पॉजीटिव आई।

पैसे बचाने का चक्कर पड़ सकता है भारी
दीनदयाल उपाध्याय जिला अस्पताल स्थित एंटी रेट्रोवायरल ट्रीटमेंट (एआरटी) सेंटर की वरिष्ठ चिकित्सक डॉ.प्रीति अग्रवाल ने बताया कि पैसे बचाने के चक्कर में किसी मेले में अथवा फेरी वाले से टैटू बनवाना भारी पड़ सकता है। टैटू बनवाने से पहले यह जरूर देखना चाहिए कि मशीन में नई सुई लगायी गई है या नहीं।
जिन लोगों ने हाल ही में टैटू बनवाए हो उन्हें अपनी एचआईवी जांच जरूर करानी चाहिए ताकि यदि किसी लापरवाही के चलते उन्हें संक्रमण हुआ हो तो वह उसका तत्काल उपचार शुरू कर सकें।
उपचार में देरी जानलेवा हो सकती है।
नियमत:तो किसी एक का टैटू बनाने के बाद उस सुई को नष्ट कर देना चाहिए पर अधिक कमाई के चक्कर में टैटू बनाने वाले एक ही सुई का इस्तेमाल कई लोगों का टैटू बनाने में करते हैं। इससे एचआईवी का खतरा होने की पूरी संभावना होती हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img