Sunday, August 14, 2022
spot_img
Homeअंतर्राष्ट्रीयचीन की ताइवान के खिलाफ मिलिट्री ड्रिल:ताइवान के समुद्री तट के पास...

चीन की ताइवान के खिलाफ मिलिट्री ड्रिल:ताइवान के समुद्री तट के पास 11 बैलिस्टिक मिसाइलें दागीं

Updated on 04/August/2022 6:06:25 PM

बीजिंग। चीन और ताइवान के बीच विवाद बढ़ता जा रहा है। अमेरिकी संसद की स्पीकर नैंसी पेलोसी के ताइवान से लौटते ही चीन और एग्रेसिव हो गया है। गुरुवार से चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) ने ताइवान के ईदगिर्द 6 इलाकों में सैन्य अभ्यास शुरू किया है।

इस बीच, ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने दावा किया है कि PLA ने ताइवान के उत्तर-पूर्व और दक्षिण-पश्चिमी तट के पास 11 डोंगफेंग बैलिस्टिक मिसाइलें दागी हैं। वहीं, ताइवान ने कहा है कि हम जंग नहीं चाहते लेकिन इसके लिए तैयार रहेंगे। ताइवान आने-जाने वाली करीब 50 इंटरनेशनल फ्लाइट्स को कैंसिल कर दिया गया है।

7 अगस्त तक चलेगी मिलिट्री एक्सरसाइज
चीन ने इस मिलिट्री एक्सरसाइज को ‘लाइव फायरिंग’ नाम दिया है। चीन के सरकारी मीडिया के मुताबिक, यह मिलिट्री ड्रिल ताइवानी तट से सिर्फ 16 किमी दूर की जा रही है। इसमें असली हथियारों और गोला-बारूद का इस्तेमाल किया जा रहा है।

यह एक्सरसाइज 7 अगस्त तक चलेगी। चीन पहले यह ड्रिल ताइवान से करीब 100 किमी दूर करता था। लेकिन नैंसी के दौरे के बाद अब बेहद नजदीक पहुंच गया है। PLA ईस्टर्न थिएटर कमांड के प्रवक्ता सीनियर कर्नल शी यी ने कहा- लंबी दूरी तक मार करने वाले हथियारों की टेस्टिंग की जाएगी। मिसाइल का भी टेस्ट होगा।

ग्लोबल सप्लाई चेन पर होगा असर
चीन ताइवान के आस-पास समुद्र में मिलिट्री ड्रिल कर रहा है। ये इलाका काफी बिजी शिपिंग रूट है। इसी रास्ते से सेमीकंडक्टर और अन्य इलेक्ट्रॉनिक इक्यिपमेंट्स दुनियाभर में भेजे जाते हैं। नैचुरल गैस सप्लाई के लिए भी ये सी-रूट महत्वपूर्ण है। दुनिया के लगभग आधी कंटेनर शिप इसी रास्ते से निकलती हैं। ऐसे में चीन के यहां मिलिट्री एक्सरसाइज करने से शिप को आने-जाने से रोका जा सकता है।

ताइवान के दक्षिण-पूर्व में दिखा US का जहाज
वेस्टर्न पैसेफिक के फिलिपींस सी में गुरुवार को अमेरिकी नेवी का पोत दिखाई दिया है। जहां ये पोत दिखा है वह ताइवान का दक्षिणपूर्वी इलाका है। US नेवी ने बताया कि USS रोनाल्ड रीगन पोत वहां रेगुलर पेट्रोलिंग कर रहा है।

चीन के फाइटर जेट्स ताइवान के डिफेंस जोन में घुसे थे
न्यूज एजेंसी AFP के मुताबिक, नैंसी पेलोसी के ताइवान से लौटते ही 3 अगस्त को चीन के 27 फाइटर जेट्स ताइवान के एयर डिफेंस जोन में घुस गए थे।

US के 24 फाइटर जेट्स ने पेलोसी को दिया था सिक्योरिटी कवर
नैंसी पेलोसी की ताइवान विजिट को लेकर US और चीन के बीच तनाव बना हुआ था। चीन अमेरिका को धमकी दे रहा था। वो नहीं चाहता था कि पेलोसी ताइवान का दौरा करें। इसी बीच 2 अगस्त को नैंसी ताइवान पहुंच गईं।

चीन ने कहा था कि अगर पेलोसी का प्लेन ताइवान की तरफ गया तो वो उस पर हमला कर देगा। इस धमकी के बाद अमेरिकी नेवी और एयरफोर्स के 24 एडवांस्ड फाइटर जेट्स ने नैंसी के प्लेन को एस्कॉर्ट किया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img