Thursday, May 19, 2022
spot_img
Homeराज्य की खबरेंसड़क बाधित कर कोई आयोजन न हो,ईद से पहले सीएम का अफसरों...

सड़क बाधित कर कोई आयोजन न हो,ईद से पहले सीएम का अफसरों को आदेश

Updated on 02/May/2022 4:38:41 PM

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कड़े सुरक्षा इंतजामों के बीच पहले से तय 31 हजार 151 स्थानों पर मंगलवार को ईद की नमाज अता की जायेगी। इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदत्यिनाथ ने सोमवार को कहा कि तीन मई को ईद, परशुराम जयंती और अक्षय तृतीया का पावन पर्व है। वर्तमान परिवेश को देखते हुए पुलिस/प्रशासन को अतिरक्ति संवेदनशील रहना होगा। हर एक पर्व शांति और सौहार्द के बीच सम्पन्न हों, इसके लिए स्थानीय जरूरतों के मद्देनजर सभी जरूरी प्रयास किए जाएं। धार्मिक कार्यक्रम,पूजा-पाठ आदि निर्धारित स्थान पर ही हों। धर्मगुरुओं से संवाद बनाकर यह सुनश्चिति करें कि सड़क मार्ग, यातायात बाधित कर कोई धार्मिक आयोजन न हो।

सूत्रों ने बताया कि प्रदेश में 7436 ईदगाहों और 19949 मस्जिदों समेत 31 हजार 151 स्थानो पर ईद की नमाज अदा की जायेगा। इस दौरान अतिसंवेदनशील 2846 नमाज स्थलों पर सुरक्षा के अतिरक्ति इंतजाम किये गये है। ईद को नर्विघ्नि संपन्न कराने के लिये 46 कंपनी पीएसी और सात कंपनी सीएपीएफ के अलावा स्थानीय पुलिस के जवान मुस्तैद रहेंगे।

उन्होने बताया कि सुरक्षा के मद्देनजर आज रात से ही ईदगाह और मस्जिदों के बाहर पुलिस के जवान तैनात किये जायेंगे जो शरारती और अवांछनीय तत्वों पर कड़ी नजर रखेंगे। इस दौरान अफवाहों पर लगाम के लिये सोशल मीडिया पर कडी नजर रखी जायेगी।

सूत्रों ने बताया कि ईद के सिलसिले में अब तक धर्मगुरूओं के साथ 29 हजार 808 बैठके की जा चुकी हैं और सहमति के आधार पर 60 हजार 150 लाउडस्पीकर उतारे जा चुके हैं जबकि 60 हजार 178 की आवाज कम की गयी है। ईद के मद्देनजर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को बिजली पानी के समुचित प्रबंध किये जाने के नर्दिेश दिये हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img