पहले पढ़ी नमाज फिर आया आदेश और ताबतोड़ हमला…इजरायल की ऐसी प्लानिंग?

पहले पढ़ी नमाज फिर आया आदेश और ताबतोड़ हमला…इजरायल की ऐसी प्लानिंग?
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। इजरायल और हमास के बीच युद्ध का आज 33वां दिन है। युद्ध के 33वें दिन बड़ा खुलासा हुआ है। बता दें, इजरायल ने अपने चारों ओर ऐसा सुरक्षा कवच बना रखा है, जिसे भेद पाना आसान नहीं है। बावजूद इसके हमास आतंकियों ने 7 अक्टूबर तो जो हमला किया, उसमें करीब 1400 लोगों की मौत हो गई। कई लापता हुआ तो कई लोगों को बंधक बना लिया गया। हमास आतंकियों के इस हमले को रोकने में इजरायल की जासूसी एजेंसी इंटेल मोसाद भी फेल हो गया। अब इस हमले को लेकर चौकाने वाले खुलासे हुए हैं।

इजरायल पर हमले से पहले गाजा पट्टी में हजारों हमास आतंकियों को मौखिक आदेश दिए गए थे। जिन आतंकियों ने इस हमले को अंजाम दिया, उन्हें भी पहले से नहीं बताया गया था कि आखिर क्या होने वाला है। हमले की प्लानिंग कहीं और की गई।

अमेरिकी मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इजरायल के ऊपर हमले की प्लानिंग चंद लोगों ने मिलकर की। यही कारण था कि हमास को जो आतंकी हमला करने वाले थे उन्हें भी पूरे ऑपरेशन के बारे में कोई जानकारी नहीं थी। इस पूरे गेम में दो बार दो आदेश हमास के सीनियर आतंकियों की तरफ से ग्रउंड में दिए गए।

सुबह हमास आतंकियों को मिला पहला आदेश
हमास के सीनियर आतंकियों ने ग्राउंड में सुबह 4 बजे पहला आदेश दिया। इस आदेश में कहा गया कि जो लोग रोजाना ट्रेनिंग में शामिल हो रहे हैं, लेकिन मस्जिद जाने की नहीं सोच रहे, उन्हें नमाज पढ़ना चाहिए।

इसे भी पढ़े   Mobile रिचार्ज हुए महंगे,India सस्ते डेटा की लिस्ट से बाहर,टॉप-5 रैकिंग

एक घंटे बाद आया दूसरा आदेश
मीडिया के अनुसार इसके ठीक एक घंटे बाद दूसरा आदेश जारी किया,जिसके अनुसार मस्जिद में नमाज पढ़कर सभी आतंकियों को पहले से तय जगह पर अपने हथियार और पास में मौजूद किसी भी गोला-बारूद के साथ पहुंचना था। इस वक्त तक भी किसी भी आतंकी को पता नहीं था कि आखिर वो किस कदर तबाही मचाने वाले हैं। हमास ने बिल्कुल ही गुप्त तरीके से इजरायल के खिलाफ इस हमले की साजिश रची।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *