Pakistan में शिकार नाबालिग युवती,अपहरण के बाद जबरन धर्मांतरण

Pakistan में शिकार नाबालिग युवती,अपहरण के बाद जबरन धर्मांतरण
ख़बर को शेयर करे

पाकिस्तान। पाकिस्तान में एक बार फिर नाबालिग हिंदू युवती के अपहरण और जबरन धर्म परिवर्तन की खबर सामने आई है। पीड़ित युवती पाकिस्तान के सिंध प्रांत के मीरपुर खास जिले के नौकोट की रहने वाली है। पीड़िता के परिवार ने बताया कि वह 15 फरवरी को अपने भाई के साथ बाजार गई थी,वहीं से आरोपियों ने उसका अपहरण कर लिया।

मिली जानकारी के अनुसार, पीड़िता के भाई ने बताया कि लड़की को उमेरकोट के रहने वाले रऊफ और उसके दो दोस्त परेशान कर रहे थे। 15 फरवरी को जब भाई-बहन नौकोट बाजार पहुंचे,तो रउफ अपने दोस्तों के साथ जबरदस्ती युवती को अपने साथ ले गया। युवती के पिता रमेश भील ने कहा कि नौकोट पुलिस ने रऊफ और उसके दोस्तों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज नहीं की है।

रमेश भील ने पुलिस पर आरोप लगाया कि उन्होंने पहले युवती को आरोपियों के साथ मर्जी से जाने की बात कही और उसे वहां से भगा दिया था। भील ने आगे कहा कि पुलिस ने दोबारा जाने पर उसे एक हफ्ते तक इंतजार करने की सलाह दी।

पुलिस ने कहा लड़की कबूल लिया है इस्लाम
युवती के पिता रमेश भील ने बताया कि 19 फरवरी को नौकोट पुलिस ने उसे बुलाया और 18 फरवरी के सर्टिफिकेट की कॉपी दी। सर्टिफिकेट में लिखा था कि लड़की ने अपनी मर्जी से इस्लाम कबूल किया है। पुलिस ने बताया कि धर्म परिवर्तन के बाद लड़की का नाम भी बदल दिया गया है। नौकोट पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर के अनुसार,”एक कॉल में लड़की ने इस्लाम कबूल करने की बात कही है। उसने कहा कि वह उमरकोट के समंदखाला में रऊफ के परिवार के साथ रहना चाहती है।”

इसे भी पढ़े   लखनऊ में महिला पर 7 कुत्तों का हमला,पैर-पेट में काटा;अस्पताल में भर्ती

लड़की के पिता को अब डर है कि वह अपनी बेटी से अब और नहीं मिल सकता है क्योंकि जब वह तीन महीने में बालिग हो जाएगी,तो उसकी शादी उसके अपहरणकर्ता से करवा दी जाएगी।

गौरतलब है कि पाकिस्तान के कुछ इलाकों में पिछले कुछ समय से हिंदू लड़कियों के जबरन धर्मांतरण और अपहरण की घटनाएं बढ़ गई हैं। सबसे ज्यादा मामले पाकिस्तान के सिंध प्रांत से सामने आ रहे हैं,जिसमें भील समुदाय के लोग ज्यादा प्रभावित हैं।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *