‘अगले 25 सालों में भारत बनेगा दुनिया का बड़ा डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग हब’,बोले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह

‘अगले 25 सालों में भारत बनेगा दुनिया का बड़ा डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग हब’,बोले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। गुजरात के गांधीनगर में बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के अब तक के सबसे बड़े Defense Expo 2022 का उद्घाटन किया। इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एक्सपो के उद्घाटन सत्र में मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत अगले 25 सालों में दुनिया के बड़े डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग हब के रूप में उभरेगा। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रक्षा उत्पादों के निर्यात को लेकर देश को 2025 तक 5 बिलियन डॉलर का लक्ष्य दिया है।

बता दें कि Defense Expo 2022 के उद्घाटन सत्र में रक्षा मंत्री ने कहा,”आजादी के इस अमृतकाल के शुरुआत में इस Defense Expo का आयोजन, अगले 25 वर्षों में देश की सुरक्षा और दुनिया के लिए डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग हब बनने के हमारे मजबूत संकल्प को दर्शाता है। Defence Expo,‘आकांक्षी’ और ‘आत्मनिर्भरता’ की ओर आगे बढ़ रहे भारत का एक विशिष्ट प्रतीक है।”

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि इस एक्सपो की थीम ‘Path to Pride’रखी गई है,क्योंकि हमारा विजन भारत को एक मजबूत और आत्मनिर्भर भारत बनाने का है। उन्होंने कहा, “भारत को एक मजबूत,और आत्मनिर्भर देश बनाने के आपके विजन के अनुरूप, इस एक्स्पो का थीम ‘Path To Pride’ रखा गया। ‘पाथ टू प्राइड’ इस Expo का केवल थीम ही नहीं, बल्कि नए भारत का नया उद्देश्य है।”

गौरतलब है कि इससे पहले डिफेंस एक्सपो के कर्टन रेजर इवेंट में बोलते हुए,भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया कि भारत ने चालू वित्त वर्ष के छह महीनों में 8,000 करोड़ रुपये का रक्षा निर्यात किया है। इसके साथ ही उन्होंने 2025 तक निर्यात में 35,000 करोड़ रुपये के लक्ष्य को हासिल करने के सरकार के लक्ष्य को दोहराया। राजनाथ सिंह ने रक्षा उत्पादों के आयातक से निर्यातक तक की परिवर्तनकारी यात्रा को पूरा करने की भारत की उपलब्धि पर पर चर्चा की। उन्होंने रक्षा उपकरणों के विकास, डिजाइन और निर्माण के वैश्विक मानकों को प्राप्त करने की दिशा में देश की तीव्र प्रगति की ओर भी इशारा किया।

इसे भी पढ़े   पीरियड्स के दूसरे दिन आप भी भयानक दर्द से गुजरती हैं?इससे छुटकारा पाने के लिए ये ट्रिक्स आजमाएं

‘अकेले ब्रह्मोस 2025 तक करेगी PM के लक्ष्य को पूरा’: CEO ब्रह्मोस एयरोस्पेस
बता दें कि सोमवार को ब्रह्मोस एयरोस्पेस के चेयरमैन अतुल डी राणे ने डिफेंस एक्सपो 2022 के 12वें संस्करण के दौरान कहा कि PM ने 2025 तक 5 बिलियन डॉलर के रक्षा उत्पादों के निर्यात का लक्ष्य रखा है। मुझे उम्मीद है कि यह लक्ष्य अकेले ब्रह्मोस ही पूरा कर लेगी। गौरतलब है कि ब्रह्मोस ने 375 मिलियन डॉलर की फिलीपींस के साथ पहले निर्यात सौदा किया है,जो कि अब तक भारत की ओर से सबसे बड़ा स्वदेशी रक्षा सौदा है। बता दें, जो ब्रह्मोस भारत फिलीपींस को बेच रहा है,उसकी मारक क्षमता 290 किलोमीटर तक होगी।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *