इजरायली को मिली बड़ी सफलता,हमास के सुरंगों के नेटवर्ट सेंटर पर भी कब्जा

इजरायली को मिली बड़ी सफलता,हमास के सुरंगों के नेटवर्ट सेंटर पर भी कब्जा
ख़बर को शेयर करे

इजरायली। ग्राउंड ऑपरेशन के बीच इजरायली सेना को गाजा पट्टी में बड़ी सफलता मिली है। सबसे पहले तो सेना ने हमास के गढ़ चौकी 17 पर कब्जा कर लिया। इसके बाद उस चौकी और एक आवासीय पड़ोस में स्थित बच्चों के कमरे से सेना को हमास का बैटल प्लान भी मिला है। इस दौरान आईडीएफ ने एक टनल शाफ्ट भी ढूंढा,जिसमें अंडरग्राउंड रूट का पता लगाया गया है।

IDF ने कहा है कि गाजा पट्टी के उत्तर में शेख राडवान आवासीय पड़ोस के मध्य और स्कूलों के पास के इमारत में सैनिकों ने दूर से संचालित विमान और आतंकी संगठन हमास से संबंधित हथियारों के उत्पादन और भंडारण के लिए एक साइट का पता लगाया। IDF ने जो वीडियो जारी किया है, उसमें साफ देखा जा सकता है कि इमारत में भंडारण स्थल के पास आवासीय कमरे और बच्चों के कमरे हैं,जहां हमास के विस्फोटक उपकरण,विस्फोटक और ऑपरेशनल प्लान पाए गए हैं।

इसके अलावा नौसेना के फोर्स ने हमास की एंटी-टैंक मिसाइल लॉन्चिंग स्थिति पर भी हमला किया,जहां से युद्धाभ्यास फोर्स की ओर रॉकेट लॉन्च का पता लगाया गया था। वहीं, शिन बेट और अम्मान की खुफिया जानकारी के आधार पर आईडीएफ ने एक लड़ाकू जेट का उपयोग करके हमास के सेंट्रल कैंप ब्रिगेड के एंटी-टैंक मिसाइल सिस्टम के प्रमुख आतंकी इब्राहिम अबू माजिब को भी मार गिराया। वो इजरायल के नागरिकों और आईडीएफ के खिलाफ कई टैंक-विरोधी हमलों का निर्देशन और संचालन करता था।

ऑउटपोस्ट 17 पर भी मिले बैटल प्लान
इससे पहले आईडीएफ ने एक्स पर लिखकर बताया था कि ग्राउंड ऑपरेशन के बीच इजरायली सेना के नाहल इन्फैन्ट्री ब्रिगेड ने हमास के गढ़ कहे जाने वाले आउटपोस्ट 17 पर कब्जा कर लिया है। ऑपरेशन के दौरान कई हथियार और ऐसी सुरंगें भी मिली हैं, जो एक बड़े अंडरग्राउंड रूट का खुलासा करती है। इसके अलावा सैनिकों को चौकी 17 में हमास की महत्वपूर्ण युद्ध योजनाएं भी मिलीं। सेना ने कहा कि 10 घंटे तक जवानों ने वेस्ट जबालिया में हमास और इस्लामिक जिहाद ऑपरेटिव्स के साथ लड़ाई लड़ी और इस दौरान दर्जनों आतंकियों को ढेर कर दिया गया है।

इसे भी पढ़े   चोरी के आरोप में दरिंदगी की हदें हुई थीं पार,अब तीन आरोपियों को आजीवन कारावास

ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *