Friday, October 7, 2022
spot_img
Homeराज्य की खबरेंटेरर फंडिंग को लेकर पीएफआई पर एनआईए-ईडी का सबसे बड़ा एक्शन,11 राज्यों...

टेरर फंडिंग को लेकर पीएफआई पर एनआईए-ईडी का सबसे बड़ा एक्शन,11 राज्यों से 106 लोग गिरफ्तार

Updated on 22/September/2022 4:42:19 PM

नई दिल्ली। देश में आतंकवादियों की कमर तोड़ने के लिए गुरुवार को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA)और प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने तमिलनाडु और केरल समेत कुल 11 राज्यों में पॉपुलर फ्रेंट ऑफ इंडिया (PFI) के ठिकानों पर छामेमारी की। इस छापेमारी में 106 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। बता दें कि पीएफआई और उससे जुड़े लोगों की ट्रेनिंग गतिविधियों, टेरर फंडिंग और लोगों को संगठन से जोड़ने के खिलाफ ये एनआईए की अबतक की सबसे बड़ी कार्रवाई है।

गिरफ्तारी दो तरीके के लोगों के खिलाफ की गई है। एक तो वह जो सीधे तौर पर पीएफआई की गतिविधियों में शामिल थे और दूसरा वह जो छापेमारी यह सर्च के दौरान धरना प्रदर्शन कर रहे थे। पीएफआई के ऊपर कार्रवाई के मामले में ज्यादातर गिरफ्तार लोग इस संगठन के पदाधिकारी हैं। आइए आपको बताते हैं आज सुबह से लेकर अबतक एनआईए की इस कार्रवाई को लेकर कुछ बड़ी बातों के बारे में।

  1. एनआई और ईडी ने मलप्पुरम जिले के मंजेरी में पीएफआई के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओएमए सलाम के अलावा PFI के दिल्ली हेड परवेज अहमद के घर पर छापेमारी की और उन्हें गिरफ्तार किया। इस दौरान पीएफआई के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। इस छापेमारी पीएफआई के पूर्व कोषाध्यक्ष नदीम को भी गिरफ्तार किया गया है। नदीम को बाराबंकी मे कुर्सी थाना क्षेत्र के बहरौली गांव से एनआईए ने पकड़ा। बता दें कि नदीम का नाम सीएए और एनआरसी हिंसा में भी आया था।
  2. एनआईए ने जयपुर में मोती डूंगरी रोड पर पीएफआई दफ्तर पर सुबह 3 बजे रेड मारी थी। करीब घंटे तक एनआईए की टीम पीएफआई के दफ्तर में मौजूद रही। एनआईए के अधिकारियों ने दफ्तर में मिले दो पीएफआई के कार्यकर्ता जावेद और एक अन्य से पूछताछ की। हालांकि, यहां से किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया गया। एनआईए की टीम ने मौके कई दस्तावेज जब्त किए. बता दें की ये पूरा मामला टेरर फंडिंग और संदिग्ध गतिविधि से जुड़ा हुआ है।
  3. एनआईए सूत्रों के मुताबिक, राजस्थान में टेरर फंडिंग और हथियार से जुड़े मामले को लेकर छापेमारी की गई। केरल में देसी तलवार कटार सहित अन्य हथियार बनाए जाते थे। केरल से राजस्थान में कुछ महीनों पहले हथियार हुए थे सप्लाई। ये हथियार हिंदूवादी संगठन से निपटने के लिए भेजे गए थे। फिलहाल, राजस्थान में PFI संगठन बैन नहीं है। राजस्थान के जयपुर पीएफआई का हेड ऑफिस मौजूद है। इसके अलावा कोटा में भी इसका एक बड़ा दफ्तर है। कुछ दिनों पहले पीएफआई के नेशनल प्रेसिडेंट ओएम सलाम जयपुर आए थे। सैफुर रहमान नाशिक डिस्ट्रिक्ट प्रेसिडेंट PFI को NIA ने हिरासत में लिया है।
  4. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने PFI पर एनआईए के छापे को लेकर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA),गृह सचिव, डीजी एनआईए सहित अधिकारियों के साथ बैठक की।
  5. एनआईए के अधिकारियों की चार टीमों ने उत्तर प्रदेश के लखनऊ, नोएडा, वाराणसी में छापेमारी की। छापेमारी में एनआईए की टीम ने इंदिरा नगर इलाके से मोहम्मद वसीम उर्फ बबलू को गिरफ्तार किया. बबलू टेलरिंग का काम करता है। वहीं, वाराणसी में NIA ने छापेमारी में 2 लोगों को हिरासत में लिया है। हिरासत में लिए गए इन दोनों लोगों से पूछताछ की गई। सूत्रों के मुताबिक, गिरफ्तार किए गए दोनों लोग वाराणसी के जैतपुरा और आदमपुर इलाके के रहने वाले हैं और पीएफआई के कार्यकर्ता बताए जा रहे हैं।
  6. एनआईए की टीम ने दिल्ली में पीएफआई अध्य्क्ष परवेज को ओखला इलाके एनआईए ने किया गिरफ्तार किया. एनआईए की टीम आज सुबह करीब साढ़े तीन बजे परवेज के ठिकाने पर पहुंची थी, जहां से परवेज और उसके भाई को एनआईए की टीम गिरफ्तार कर अपने साथ ले गई।
  7. महाराष्ट्र के पुणे में एनआईए की टीम ने 20 जगह पर छापेमारी की, जिसमें पुणे समेत मुंबई और भिवंडी में छापेमारी की गई। कोल्हापुर से NIA ने अब्दुल मौला को हिरासत में लिया है। मोइनुद्दीन मोमिन नाम के PFI के पदाधिकारी को भिवंडी से हिरासत में लिया गया है।
  8. असम से 9 पीएफआई कार्यकर्ताओं को लोकल पुलिस और एनआईए टीम ने हिरासत में लिया है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक, कल रात असम पुलिस और एनआईए ने ज्वाइट ऑपरेशन कर गुवाहाटी के हाटीगांव इलाके से पीएफआई से जुड़े नौ लोगों को हिरासत में लिया।
  9. मध्य प्रदेश के इंदौर और उज्जैन में भी एनआईए ने पीएफआई के ठिकानों पर छापा मारा, जहां से पीएफआई के मध्य प्रदेश लीडर को गिरफ्तार किया गया है। इसके इलावा एनआईए की टीम ने PFI के अन्य चार नेताओं को इंदौर और उज्जैन से भी गिरफ्तार किया है।
  10. एनआईए ने PFI के अलग-अलग ठिकानों पर छापेमारी कर कुल 106 लोगों को गिरफ्तार किया है, जिसमें से दिल्ली-3, कर्नाटक-20, केरल-22, महाराष्ट्र-20, पुडुचेरी-3, राजस्थान-2, तमिलनाडु-10, आंध्र प्रदेश-5, असम-9, यूपी से आठ लोगों को गिरफ्तार किया है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img