PMO का एक ट्वीट और HAL के शेयर में लग गई आग,सरकार से 45000 करोड़ की डील फाइनल

PMO का एक ट्वीट और HAL के शेयर में लग गई आग,सरकार से 45000 करोड़ की डील फाइनल
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड के शेयर में मंगलवार के कारोबारी सत्र में जबरदस्‍त तेजी देखी जा रही है। मंगलवार सुबह एचएएल का शेयर 260 रुपये की तेजी के साथ 5460 रुपये पर खुला। इसके बाद शेयर में और तेजी देखी जा रही है। एचएएल (HAL) के शेयर में यह‍ तेजी रक्षा मंत्रालय की तरफ से 156 लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्‍टर (LCH) की डील फाइनल होने के बाद आ रही है। यह डील 45000 करोड़ रुपये की है। पीएमओ के ऑफ‍िश‍ियल एक्‍स अकाउंट पर इस बारे में जानकारी द‍िये जाने के बाद शेयर बाजार में तेजी आई है।

90 हेलीकॉप्टर भारतीय सेना के लिए और 66 एयरफोर्स के ल‍िए
पीएमओ ने ज‍िस पोस्‍ट में इस डील से जुड़ी जानकारी शेयर की है, उसके साथ जी मीड‍िया की खबर का ल‍िंक शेयर क‍िया गया है। बेंगलुरु की एक सरकारी कंपनी की तरफ से बताया गया क‍ि ड‍िफेंस म‍िन‍िस्‍ट्री ने 156 हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्‍टर (LCH) खरीदने के लिए कंपनियों से आवेदन मांगे हैं। इनमें से 90 हेलीकॉप्टर भारतीय सेना के लिए और 66 हेलीकॉप्टर इंड‍ियन एयरफोर्स के ल‍िए होंगे। यह जानकारी कंपनी ने नियमों के अनुसार एक आधिकारिक दस्‍तावेज में दी है। इंड‍ियन एयरफोर्स और भारतीय सेना द्वारा खरीदे जाने वाले हेलीकॉप्टर के साथ टेंडर की कीमत 45,000 करोड़ रुपये है। कंपनी की तरफ से दी गई जानकारी में बताया गया क‍ि 156 लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर में से 90 भारतीय सेना के लिए और बाकी 66 इंड‍ियन एयरफोर्स (IAF) के लिए हासिल किए जाने हैं।

कंपनी के शेयर का हाल
मंगलवार सुबह 5460 रुपये पर खुलने के बाद हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) के शेयर में लगातार तेजी देखी जा रही है। कारोबारी सत्र के दौरान दोपहर 2 बजे करीब यह 5545 रुपये पर ट्रेंड कर रहा है। इस दौरान इसने 5565 रुपये का हाई और 5390 रुपये का लो लेवल टच क‍िया। शेयर का 52 हफ्ते का हाई लेवल 5,565 रुपये है। इस तेजी के साथ कंपनी का मार्केट कैप बढ़कर 3,71,136 करोड़ रुपये पहुंच गया है।

इसे भी पढ़े   अतीक की आखिरी चिट्ठी भेजी गई सुप्रीम कोर्ट,धमकी देने वाले अफसर पर होगा बड़ा खुलासा!

एलसीएच की खास‍ियत
एलसीएच (LCH) को प्रचंड के नाम से भी जाना जाता है। यह दुनिया का एकमात्र लड़ाकू हेलीकॉप्टर है जो 5000 मीटर (16,400 फीट) की ऊंचाई पर उड़ान भर सकता है। इसकी यह क्‍वाल‍िटी इसे सियाचिन ग्लेशियर और पूर्वी लद्दाख के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में उड़ान भरने के ल‍िए सक्षम बनाते हैं। यह हवा से जमीन और हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइलों को दागने में भी सक्षम है। इतना ही नहीं दुश्मन के वायु रक्षा अभियानों को भी नष्ट कर सकता है। सरकार मेक इन इंडिया के जर‍िये ड‍िफेंस मैन्‍युफैक्‍चर‍िंग पर जोर दे रही है।

इस साल अप्रैल के महीने में ड‍िफेंस म‍िन‍िस्‍ट्री ने हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड नामक सरकारी कंपनी को देश में बने 97 LCA मार्क 1A लड़ाकू विमान खरीदने के लिए टेंडर जारी किया था। इन विमानों की कीमत 65,000 करोड़ रुपये से भी ज्यादा होने का अनुमान है।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *