दामाद की गिरफ्तारी के लिए मिर्जापुर में पुलिस ने दी दबिश, तलाश के लिए चार टीमें लगाई गईं

दामाद की गिरफ्तारी के लिए मिर्जापुर में पुलिस ने दी दबिश, तलाश के लिए चार टीमें लगाई गईं
ख़बर को शेयर करे

वाराणसी | मिल्कीपुर गांव में मां, बेटी और बेटे की हत्या के मामले में आरोपी दामाद अरविंद की तलाश में पुलिस की चार टीमें दबिश दे रही हैं। अरविंद के परिजनों और करीबियों को भी हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है। पुलिस की दो टीमें मिर्जापुर में दबिश दे रही हैं। वहीं, सूत्रों के अनुसार वारदात के बाद अरविंद के एमपी और छत्तीसगढ़ भागने की सूचना है। वारदात के बाद से ही उसका मोबाइल बंद है। उधर, पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने तीनों का शव परिजनों को सौंप दिया। शुक्रवार की देर शाम तीनों का दाह संस्कार हरिश्चंद्र घाट पर किया गया। मुखाग्नि भोला गुप्ता ने दी।

थाना क्षेत्र के मिल्कीपुर में बृहस्पतिवार की दोपहर भोला गुप्ता की पत्नी रानी गुप्ता (55), विवाहित बेटी पूजा (28) और बेटे मोहन (23) का शव कमरे में मिला। तीनों की धारदार हथियार से वार कर हत्या की गई थी। हत्या का आरोप रोहनिया के बंदेपुर निवासी दामाद अरविंद और पनियरा निवासी मनोज मिश्रा उर्फ अलगू पर है। अलगू को गिरफ्तार कर पुलिस ने पूछताछ की। हालांकि उसकी संलिप्ता मामले में पुलिस को नहीं लग रही है। तफ्तीश में सामने आया कि दामाद सोमवार की रात से ही लापता है। एसीपी राजातालाब अंजनी राय के अनुसार दामाद की गिरफ्तारी के बाद ही असली वजह सामने आएगी। वाराणसी समेत आसपास जिलों में उसकी तलाश की जा रही है।

काफी समझाने के बाद घाट पर पहुंचे भोला
पत्नी, बेटे और बेटी का शव लेने से भोला इंकार कर रहे थे। हालांकि पुलिस और ग्राम प्रधान के समझाने के बाद भोला शव की सुपुर्दगी लेने को तैयार हुआ और मोर्चरी हाउस पहुंचा। इसके बाद तीनों का दाह संस्कार कराया। दूसरी ओर घटनास्थल पर और मिल्कीपुर में सन्नाटा पसरा रहा। आने जाने वाले लोग घर की तरफ ही देख रहे थे।

इसे भी पढ़े   मैं चीन का नाम ले रहा हूं...' C H I N A बोलकर विदेश मंत्री ने राहुल गांधी को दिया करारा जवाब

ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *