Sunday, August 14, 2022
spot_img
Homeराज्य की खबरेंपंजाब के स्वास्थ्य मंत्री ने बाबा फरीद यूनिवर्सिटी के VC को अस्पताल...

पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री ने बाबा फरीद यूनिवर्सिटी के VC को अस्पताल के गंदे गद्दे पर लेटने का दिया आदेश

Updated on 30/July/2022 6:08:44 PM

नई दिल्ली। अस्पताल के वार्डों में सफाई की कमी की शिकायतों से नाराज पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री चेतन सिंह जौरामाजरा ने शुक्रवार को फरीदकोट के गुरु गोबिंद सिंह मेडिकल कॉलेज और अस्पताल का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने संस्थान के कुलपति को मरीजों के लिए नामित गंदे गद्दे पर लेटने के लिए कहा।

प्रेस और कैमरामैन के साथ, जौरामाजरा ने अस्पताल का दौरा किया और इसके बुनियादी ढांचे और व्यवस्थाओं का जायजा लिया। अस्पताल के बेड की खराब स्थिति को देखते हुए मंत्री ने बाबा फरीद यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंसेज के कुलपति डॉ राज बहादुर को गद्दे पर लेटने का आदेश दिया।

समाचार एजेंसी एएनआई द्वारा साझा किए गए एक वीडियो में,जौरामाजरा को बहादुर से पूछते हुए सुना जा सकता है “यह सब आपके हाथ में है लेकिन यह क्या है?” मंत्री का एक साथी गद्दा उठाकर उसकी खराब हालत की ओर इशारा कर रहा है। इसके बाद जौरामाजरा ने अस्पताल के स्टोर रूम को देखने की मांग की। उन्होंने अस्पताल में मरीजों से भी बात की और उनकी शिकायतें सुनीं।

डॉ राज बहादुर,71,भारत में एक प्रशंसित स्पाइनल सर्जन हैं, और क्षेत्रीय स्पाइनल इंजरी सेंटर, मोहाली के परियोजना निदेशक और सदस्य सचिव हैं। वह देश के सर्वोच्च चिकित्सा नियामक निकाय, राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग के सदस्य भी हैं।

विपक्ष ने VC के प्रति जौरामाजरा के ‘अपमानजनक व्यवहार’ की निंदा की

संस्थान के कुलपति के प्रति आप मंत्री के व्यवहार की विपक्षी नेताओं ने तीखी आलोचना की और जौरामाजरा से माफी की मांग की। राज्य कांग्रेस प्रमुख अमरिंदर सिंह राजा वारिंग ने शुक्रवार को ट्वीट किया, “पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री का डॉ राज बहादुर के साथ अपमानजनक व्यवहार बेहद निंदनीय है। मंत्री को माफी मांगनी चाहिए।”

कांग्रेस नेता परगट सिंह ने जौरामाजरा के कार्यों की आलोचना करते हुए कहा कि इस तरह की भीड़ का व्यवहार केवल हमारे चिकित्सा कर्मचारियों का मनोबल गिराएगा।

परगट सिंह ने ट्वीट किया “आम आदमी पार्टी का सस्ता थियेट्रिक्स कभी खत्म नहीं होता। आज बाबा फरीद चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति राज बहादुर सिंह को स्वास्थ्य मंत्री चेतन सिंह जौरामाजरा (+2 पास) ने सार्वजनिक रूप से अपमानित किया। इस प्रकार का भीड़ व्यवहार केवल हमारे चिकित्सा कर्मचारियों का मनोबल गिराएगा।”

मई में,पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने भ्रष्टाचार के आरोप में अपने तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री विजय सिंगला को कैबिनेट से बर्खास्त कर दिया था।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img