Thursday, February 9, 2023
spot_img
Homeब्रेकिंग न्यूज़भारत जोड़ो यात्रा के दौरान काफिला रोककर राहुल गाँधी ने एम्बुलेंस को...

भारत जोड़ो यात्रा के दौरान काफिला रोककर राहुल गाँधी ने एम्बुलेंस को दिया रास्ता

उज्जैन | मध्यप्रदेश में भारत जोड़ो यात्रा का शुक्रवार को 10वां दिन है। राहुल गांधी की यात्रा अपने 86वें दिन आगर-मालवा जिले में पहुंची। भारत जोड़ो यात्रा सुबह छह बजे जनाहा गांव से शुरू हुई। राहुल गांधी के साथ मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, उनकी पत्नी अमृता सिंह और दिग्विजय सिंह के बेटे व विधायक जयवर्धन सिंह भी चलते रहे। सुबह छह बजे जनाहा गांव से निकलकर यात्रा आगर जिले के ही तनोदिया गांव में टी ब्रेक के लिए रुकी। आगर जिले में यात्रा तीन दिन और दो रात रुकेगी, जो भारत जोड़ो यात्रा की सबसे लंबी यात्रा होगी। आगर में 97 किमी की यात्रा होगी। आगर से यात्रा राजस्थान में प्रवेश कर जाएगी। 

आगर में यात्रा के दौरान राहुल गांधी बाबा बैजनाथ महादेव मंदिर और नलखेड़ा मां बगलामुखी मंदिर में जा सकते हैं। सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस ने तैयारी कर ली है। यात्रा की सुरक्षा के लिए करीब दो हजार पुलिसकर्मियों का बल तैनात किया गया है। आगर मालवा में कांग्रेस के मीडिया विभाग के प्रमुख जयराम रमेश ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि भारत जोड़ो एक मोमेंट है, इवेंट नहीं। इवेट मैनेजमेंट में भाजपा का कोई मुकाबला नहीं है। यह राजनीतिक तौर पर कोई बड़ा बदलाव नहीं लाने वाला। इवेंट कभी 140 दिन नहीं चलता। 12 राज्यों में रोज 24 किमी चलना कोई इवेंट नहीं है। नरेंद्र मोदी चलकर दिखाएं, अमित शाह चलकर दिखाएं। 

एंबुलेंस का वीडियो आया सामने

भारत जोड़ो यात्रा गुरुवार को उज्जैन जिले में थी। घोंसला के बाद एक किलोमीटर लंबा ट्रैफिक जाम लग गया था। इस दौरान सड़क निर्माणाधीन थी। सड़क पर गिट्टियां बिखरी पड़ी थी। सभी वाहन एक तरफ ही चल रहे थे। तब ट्रैफिक जाम लंबा होने से लोगों को परेशान होते नजर आया। इस दौरान पुलिस के जवानों और क्यूआरएफ के जवानों ने एंबुलेंस को निकालने के लिए आर्मी ऑपरेशन की तरह रास्ता भी बनाया। इसका एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें पुलिस यात्रा के दौरान एंबुलेंस निकाल रही है। पुलिस और क्यूआरएफ के जवानों ने तीन मिनट में 250 से अधिक गाड़ियों को हटवाया और एंबुलेंस के लिए रास्ता बनाया। एंबुलेंस में एक महिला को अस्पताल ले जाया जा रहा था। ऐसा एक बार नहीं बल्कि दो-तीन बार हुआ। हर बार एंबुलेंस को आगे निकालने के लिए पुलिस और क्यूआरएफ के जवानों ने तत्परता दिखाई। सोशल मीडिया पर इसे लेकर राहुल गांधी की तारीफ की जा रही है। 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img