Wednesday, July 6, 2022
spot_img
Homeब्रेकिंग न्यूज़राजनाथ सिंह ने नीतीश कुमार से फोन पर की बात;राष्ट्रपति पद के...

राजनाथ सिंह ने नीतीश कुमार से फोन पर की बात;राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार पर मांगी सहमति

Updated on 16/June/2022 2:09:44 PM

नई दिल्ली। राष्ट्रपति चुनाव के लिए एक उम्मीदवार पर आम सहमति बनाने की मांग करते हुए रक्षा मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह ने बुधवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से संपर्क किया। सूत्रों ने बताया कि सिंह ने देर रात जद (यू) प्रमुख के साथ टेलीफोन पर बातचीत की जो 5 मिनट तक चली।

इससे पहले दिन में राजनाथ सिंह ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव सहित कई प्रमुख विपक्षी नेताओं के साथ बातचीत की। उन्होंने राष्ट्रपति चुनाव के उम्मीदवार पर एनडीए के सहयोगी बीजद सुप्रीमो और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से भी बात की है।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने राजनाथ सिंह और पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा को राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार पर आम सहमति बनाने के लिए अन्य दलों के साथ परामर्श करने के लिए अधिकृत किया है। सूत्रों के अनुसार, विपक्षी नेताओं ने रक्षा मंत्री से राष्ट्रपति चुनाव के लिए एनडीए के उम्मीदवार के बारे में पूछा।

भाजपा ने जहां अभी तक अपने उम्मीदवार की घोषणा नहीं की है, वहीं संयुक्त विपक्ष भी शीर्ष पद के चुनाव के लिए कुछ नामों पर विचार कर रहा है।

दिल्ली में विपक्षी नेताओं का हुजूम
भारत के 15वें राष्ट्रपति के चुनाव के लिए मतदान 18 जुलाई को होगा क्योंकि मौजूदा रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है। नामांकन दाखिल करने की अंतिम तिथि 29 जून है और नामांकन की जांच 30 जून को होगी।

बुधवार को ममता बनर्जी द्वारा बुलाई गई बैठक में प्रमुख विपक्षी नेताओं ने एक आम उम्मीदवार को मैदान में उतारने के प्रस्ताव को अपनाया। सूत्रों के अनुसार, एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के चुनाव लड़ने से इनकार करने के बाद विपक्षी दल दो नामों – नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां) के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला और पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल गोपालकृष्ण गांधी पर विचार कर रहे हैं।

गोपालकृष्ण,जो महात्मा गांधी और सी राजगोपालाचारी के पोते हैं, 2017 के उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए विपक्ष के उम्मीदवार थे, लेकिन वे एम वेंकैया नायडू से हार गए।

नई दिल्ली में बनर्जी द्वारा बुलाई गई दो घंटे से अधिक की बैठक में कांग्रेस, समाजवादी पार्टी,द्रमुक,राजद,राकांपा और वाम दलों सहित 17 दलों ने भाग लिया,जबकि आप,शिअद,एआईएमआईएम, टीआरएस और बीजद ने इसे छोड़ दिया। शिवसेना,सीपीआई (एम),सीपीआई (एमएल),सीपीआई,नेशनल कॉन्फ्रेंस,पीडीपी,जेडी (एस),आईयूएमएल,आरएलडी,आरएसपी और झामुमो के नेता उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img