मां की आंखों के सामने पोखरे में समा गईं रानी और रिया

मां की आंखों के सामने पोखरे में समा गईं रानी और रिया
ख़बर को शेयर करे

बरदह में हुए हादसे के बाद चीख पड़ा पूरा गांव

छोटी को बचाने के प्रयास में बड़ी बहन की भी गई जान

आजमगढ़(जनवार्ता)। जिले के बरदह थाना क्षेत्र में शुक्रवार की शाम लगभग पांच बजे बड़ा हादसा हो गया। बरदह गांव के नोनरा पुरवा स्थित पोखरे पर स्नान के बाद कपड़ा धुल रहीं दो सगी बहनों की डूबने से मौत हो गई।

पहले छोटी बहन कपड़ा साफ करते समय पैर फिसलने से डूबने लगी, तो उसे बचाने के प्रयास में बड़ी बहन भी गहरे पानी में समा गई। दो बेटियों को डूबते देख मां की चीख निकल पड़ी, तो उसे सुनकर ग्रामीण भी दौड़ पड़े, लेकिन पानी से बाहर निकालने के पहले दोनों की सांसें थम चुकी थीं।


बरदह गांव निवासी रमेश विश्वकर्मा की पुत्रियां दो रिया और रानी अपनी मां सरोज के साथ पोखरी पर नहाने व कपड़ा धोने गई थीं। मां कपड़ा धुल रहीं थीं, तो दोनों बेटियां उसे पानी में खंगाल रही थीं। ऐसा करते समय
रानी पानी में डूबने लगी, तो यह देखकर बड़ी बहन रिया छोटी बहन को बचाने के लिए गहरे पानी में चली गई।
दोनों बेटियों को पानी में डूबते देख माता सरोज ने शोर मचाना शुरू कर दिया, जिसे सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे और पोखरे से दोनों को बाहर निकालकर तत्काल सामुदायिक स्वास्थ्य बरदह ले गए, जहां डाक्टर ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। चार बहनों में बड़ी रिया 13 वर्ष व दूसरे नम्बर पर रानी 11 वर्ष थी। रिया कक्षा 6 में और रानी कक्षा 5 में पढ़ती थी। पिता घर पर रहकर लकड़ी का काम करते हैं। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। उधर एक साथ दो बेटियों की मौत से जहां पूरा परिवार बदहवास सा हो गया, वहीं पूरा गांव भी चीत्कार उठा।

इसे भी पढ़े   100 करोड़ का आलीशान बंगला,एक्टर के पास है खुद का प्राइवेट जेट

ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *