Wednesday, July 6, 2022
spot_img
Homeब्रेकिंग न्यूज़पटना में प्रदर्शनकारियों-पुलिस के बीच 100 राउंड से ज्यादा फायरिंग;स्टेशन में आगजनी...

पटना में प्रदर्शनकारियों-पुलिस के बीच 100 राउंड से ज्यादा फायरिंग;स्टेशन में आगजनी के बाद बवाल

Updated on 18/June/2022 2:15:48 PM

बिहार। केंद्र की अग्निपथ योजना के खिलाफ बिहार में प्रदर्शन का शनिवार को चौथा दिन है। पटना के मसौढ़ी में तारगेना स्‍टेशन के पास पत्‍थरबाजी और फायरिंग हुई है। प्रदर्शनकारी स्टेशन में तोड़फोड़ करने लगे। पार्किंग में खड़ी गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया है। काबू पाने के लिए पुलिस ने कई राउंड फायर किए हैं।

बताया जा रहा है कि मसौढ़ी में सुबह 8 बजे कोचिंग से छुट्‌टी के बाद छात्र स्टेशन पर जुटने लगे। छात्र तोड़फोड़ करने लगे। स्टेशन मास्टर और बुकिंग काउंटर को फूंक दिया। गाड़ियों में भी तोड़फोड़ की। इसके बाद प्रदर्शनकारियों की ओर से पुलिस पर 10-15 राउंड फायर किए। बचाव में पुलिस ने 100 से ज्यादा राउंड गोलियां चलाई हैं।

बक्सर के नवानगर में NH 120 को जाम कर आंदोलन कर रहे प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प हुई। उपद्रवियों ने पुलिस पर हमला किया। पुलिस निरीक्षक की गाड़ी में आग लगा दी। बचाव में पुलिस ने दो-चार राउंड फायरिंग की।

15 जिलों में 19 जून तक इंटरनेट बंद कर दिया गया है। प्रदर्शन को देखते हुए प्राइवेट स्कूलों ने भी आज छुट्‌टी रखी है। जहानाबाद के टेहटा बाजार में प्रदर्शनकारियों ने सुबह साढ़े 7 बजे पथराव के बाद ट्रक में आगजनी की है। सूचना मिलने पर पुलिस के अफसर पहुंचे, लेकिन तब तक प्रदर्शनकारी वहां से निकल चुके थे। और ट्रक पूरी तरह से जलकर खाक हो चुका था।

इधर मुंगेर में प्रदर्शनकारियों ने हंगामा किया। तारापुर बीडीओ की गाड़ी में तोड़फोड़ की। अब तक राज्य के अंदर कुल 31 FIR दर्ज हुई और 435 प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारी हुई।

पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय दीजिए…
मुंगेर में प्रदर्शनकारियों ने अधिकारी की गाड़ी को निशाना बनाया। तारापुर के प्रखंड विकास अधिकारी की गाड़ी को क्षतिग्रस्त किया गया।

भागलपुर में बिहार बंद को लेकर रेलवे स्टेशन पर आधा दर्जन ट्रेनों को रद्द कर दिया है। वहीं, सुरक्षा को लेकर फायर ब्रिगेड और पुलिस बल स्टेशन पर तैनात है।

वहीं,मुंगेर में बंद का कोई खास असर देखने को नहीं मिला। जिले में NH-80 पर भी आवागमन सुबह से ही जारी है। यात्री वाहन से लेकर स्कूली बस सहित सभी तरह के वाहनों का परिचालन चालू है। जहानाबाद में भी बिहार बंद को लेकर पुलिस प्रशासन हर एक चौक-चौराहों पर चौकस है।

खगड़िया में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अफसरों की तैनाती की गई है। रेलवे स्टेशन से यात्रियों को हटाया जा रहा है। खगड़िया स्टेशन से गुजरने वाली तीन ट्रेन को छोड़ सभी ट्रेन के परिचालन पर रोक है।

महानन्दा एक्सप्रेस,अवध-आसाम,सीमांचल एक्सप्रेस आज चलेंगी। बंद का यहां भी कोई खास असर देखने को नहीं मिला है।

पूर्णिया में रेलवे जंक्शन पर पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। अभी तक बंद का कोई असर नहीं दिख रहा। स्थिति सामान्य है, पूर्णिया रेलवे जंक्शन पर रेलवे पुलिस और आरपीएफ पूरी तरह मुस्तैद है।

जीआरपी में 12 जवान और आरपीएफ में 12 जवान ही मौजूद है। जीआरपी थानाध्यक्ष लल्लू सिंह ने बताया कि रेलवे पुलिस हर परिस्थितियों से निपटने के लिए तैयार है। लेकिन पुलिस बल की कमी से परेशानी हो रही है।

गोपालगंज जिले में बिहार बंद को लेकर पुलिस और जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर है। विभिन्न जगह पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है। वहीं, गोपालगंज रेलवे स्टेशन की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है।

यहां पुलिस कर्मियों के साथ सदर बीडीओ, सीओ और नगर इंस्पेक्टर सुबह से ही तैनात है। यहां देर रात से धारा 144 लागू कर दी गई है।
सहरसा में अग्निपथ स्कीम को लेकर आज बंद बुलाया गया है। ऐसे में स्टेशन पर पूरी तरह से सन्नटा छाया हुआ है। सभी ट्रेनों को रद कर दिया गया है।

अभी छात्रों और नेताओं का आंदोलन शुरू नहीं हुआ है। सुरक्षा की बात करें तो सहरसा स्टेशन पर कोई सुरक्षा की व्यवस्था नहीं की गई है।

जमुई रेलवे स्टेशन पर बिहार बंद को लेकर अभी तक पुलिस बल की तैनाती नहीं की गई है। सारी ट्रेनों को कैंसिल कर दिया गया है। जिले में स्थिति सामान्य है।

जमुई मे भी वाहनों का आवागमन सुबह से ही जारी है। बंद का असर फिलहाल अभी सामान्य है। यात्री वाहन से लेकर स्कूली बस सहित सभी तरह के वाहनों का परिचालन चालू है।

शेखपुरा में शनिवार की सुबह से सामान्य स्थित बाजारों में देखने को मिल रही है। दुकानें खुलने लगी है।लोग आवश्यक सामानों की खरीददारी करना शुरू कर दिए है। चाय पान की दुकानों पर लोग नजर आ रहे है।

सीवान जिले के दरौंदा रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस बल पूरी तरह से मुस्तैद है। जिला प्रशासन ने साफ तौर पर प्रदर्शनकारियों को यह हिदायत दी है कि बिना अनुमति के सीवान के किसी भी हिस्से में धरना प्रदर्शन जुलूस नहीं निकाल सकते।

प्रशासन ने कहीं भी सार्वजनिक जगह पर 5 या 5 से अधिक लोगों को एकत्रित होने पर पाबंदी लगा दिया है। सीवान डीएम अमित कुमार पांडे ने बताया कि प्रशासन से बिना अनुमति के किसी भी प्रोटेस्ट पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

कटिहार में बंद को देखते हुए रेलवे जंक्शन पर भी धारा 144 के तहत सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। स्टेशन परिसर के बाहर पूर्वी एवं पश्चिमी भाग में दंगा से निपटने के लिए दंडाधिकारी के रूप में अंचलाधिकारी सोनू भगत के साथ दंगा निरोधक दस्ता पुलिस बल को नियुक्त किया गया है।

वहीं स्टेशन परिसर में दंगा निरोधक दस्ता के साथ रेलवे के हेडक्वार्टर डीएसपी कुमार देवेंद्र बल के साथ सुबह 4:00 बजे से ही मौजूद है।

मधुबनी में अग्निपथ योजना को लेकर लगातार छात्र द्वारा किए जा रहे सरकार के खिलाफ उग्र प्रदर्शन को देखते हुए आज बिहार बंद किया गया है।

वहीं पुलिस प्रशासन के द्वारा शहर और मधुबनी रेलवे स्टेशन पर पुलिस की तैनाती की गई। प्रदर्शनकारियों के द्वारा दोबारा किसी तरह की क्षति नहीं पहुंचाई जा सके इसके लिए पुलिस प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है।

बता दें कि तीन दिनों से प्रदर्शनकारियों ने राजधानी पटना समेत 25 जिलों में जमकर उपद्रव किया। दानापुर और लखीसराय स्टेशन समेत आधा दर्जन से अधिक स्टेशनों पर आगजनी की गई। 10 ट्रेनों को आग के हवाले कर दिया गया।

राज्य में बढ़ते प्रदर्शन को देखते हुए देर शाम सरकार ने कैमूर, भोजपुर, औरंगाबाद, रोहतास, बक्सर, नवादा, पश्चिम चंपारण, समस्तीपुर, लखीसराय, बेगूसराय, वैशाली, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, दरभंगा और सारण में सोशल नेटवर्किंग साइट और मैसेजिंग सर्विस को दो दिनों के लिए बंद करने का आदेश दिया है।

ऐसे लोगों को भविष्य में नहीं मिलेगा कोई बेनिफिट्स
शुक्रवार को ADG लॉ एंड ऑर्डर संजय सिंह ने बताया कि गुरुवार को हुए हिंसक उपद्रव और सरकारी संपत्तियों को पहुंचाए गए मामले में राज्य के अंदर कुल 31 FIR दर्ज हुई और 435 गिरफ्तारी हुई।

इसमें गुरुवार के उपद्रव पर 24 FIR व 125 गिरफ्तारी की गई। इनके अनुसार आज हुए उपद्रव के मामले में भी कानूनी कार्रवाई होगी। वीडियो फुटेज और फोटो के आधार पर पहचान कर उपद्रव करने वालों को गिरफ्तार किया जाएगा। इनके खिलाफ चार्जशीट दाखिल की जाएगी। पूरी कोशिश होगी भविष्य में ऐसे लोगों को कोई बेनिफिट्स नहीं मिले।

लखीसराय में एक की मौत
इससे पहले लखीसराय में जनसेवा एक्सप्रेस में आगजनी के दौरान एक 25 वर्षीय यात्री की मौत हो गई। जगह-जगह

पटना के मसौढ़ी में प्रदर्शनकारियों-पुलिस के बीच 100 राउंड से ज्यादा फायरिंग;स्टेशन में आगजनी के बाद बवाल-4
बिहार। केंद्र की अग्निपथ योजना के खिलाफ बिहार में प्रदर्शन का शनिवार को चौथा दिन है। पटना के मसौढ़ी में तारगेना स्‍टेशन के पास पत्‍थरबाजी और फायरिंग हुई है। प्रदर्शनकारी स्टेशन में तोड़फोड़ करने लगे। पार्किंग में खड़ी गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया है। काबू पाने के लिए पुलिस ने कई राउंड फायर किए हैं।

बताया जा रहा है कि मसौढ़ी में सुबह 8 बजे कोचिंग से छुट्‌टी के बाद छात्र स्टेशन पर जुटने लगे। छात्र तोड़फोड़ करने लगे। स्टेशन मास्टर और बुकिंग काउंटर को फूंक दिया। गाड़ियों में भी तोड़फोड़ की। इसके बाद प्रदर्शनकारियों की ओर से पुलिस पर 10-15 राउंड फायर किए। बचाव में पुलिस ने 100 से ज्यादा राउंड गोलियां चलाई हैं।

बक्सर के नवानगर में NH 120 को जाम कर आंदोलन कर रहे प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प हुई। उपद्रवियों ने पुलिस पर हमला किया। पुलिस निरीक्षक की गाड़ी में आग लगा दी। बचाव में पुलिस ने दो-चार राउंड फायरिंग की।

15 जिलों में 19 जून तक इंटरनेट बंद कर दिया गया है। प्रदर्शन को देखते हुए प्राइवेट स्कूलों ने भी आज छुट्‌टी रखी है। जहानाबाद के टेहटा बाजार में प्रदर्शनकारियों ने सुबह साढ़े 7 बजे पथराव के बाद ट्रक में आगजनी की है। सूचना मिलने पर पुलिस के अफसर पहुंचे, लेकिन तब तक प्रदर्शनकारी वहां से निकल चुके थे। और ट्रक पूरी तरह से जलकर खाक हो चुका था।

इधर मुंगेर में प्रदर्शनकारियों ने हंगामा किया। तारापुर बीडीओ की गाड़ी में तोड़फोड़ की। अब तक राज्य के अंदर कुल 31 FIR दर्ज हुई और 435 प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारी हुई।

पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय दीजिए…
मुंगेर में प्रदर्शनकारियों ने अधिकारी की गाड़ी को निशाना बनाया। तारापुर के प्रखंड विकास अधिकारी की गाड़ी को क्षतिग्रस्त किया गया।

भागलपुर में बिहार बंद को लेकर रेलवे स्टेशन पर आधा दर्जन ट्रेनों को रद्द कर दिया है। वहीं, सुरक्षा को लेकर फायर ब्रिगेड और पुलिस बल स्टेशन पर तैनात है।

वहीं,मुंगेर में बंद का कोई खास असर देखने को नहीं मिला। जिले में NH-80 पर भी आवागमन सुबह से ही जारी है। यात्री वाहन से लेकर स्कूली बस सहित सभी तरह के वाहनों का परिचालन चालू है। जहानाबाद में भी बिहार बंद को लेकर पुलिस प्रशासन हर एक चौक-चौराहों पर चौकस है।

खगड़िया में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अफसरों की तैनाती की गई है। रेलवे स्टेशन से यात्रियों को हटाया जा रहा है। खगड़िया स्टेशन से गुजरने वाली तीन ट्रेन को छोड़ सभी ट्रेन के परिचालन पर रोक है।

महानन्दा एक्सप्रेस, अवध-आसाम,सीमांचल एक्सप्रेस आज चलेंगी। बंद का यहां भी कोई खास असर देखने को नहीं मिला है।

पूर्णिया में रेलवे जंक्शन पर पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है। अभी तक बंद का कोई असर नहीं दिख रहा। स्थिति सामान्य है, पूर्णिया रेलवे जंक्शन पर रेलवे पुलिस और आरपीएफ पूरी तरह मुस्तैद है।

जीआरपी में 12 जवान और आरपीएफ में 12 जवान ही मौजूद है। जीआरपी थानाध्यक्ष लल्लू सिंह ने बताया कि रेलवे पुलिस हर परिस्थितियों से निपटने के लिए तैयार है। लेकिन पुलिस बल की कमी से परेशानी हो रही है।

गोपालगंज जिले में बिहार बंद को लेकर पुलिस और जिला प्रशासन अलर्ट मोड पर है। विभिन्न जगह पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है। वहीं, गोपालगंज रेलवे स्टेशन की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है।

यहां पुलिस कर्मियों के साथ सदर बीडीओ, सीओ और नगर इंस्पेक्टर सुबह से ही तैनात है। यहां देर रात से धारा 144 लागू कर दी गई है।
सहरसा में अग्निपथ स्कीम को लेकर आज बंद बुलाया गया है। ऐसे में स्टेशन पर पूरी तरह से सन्नटा छाया हुआ है। सभी ट्रेनों को रद कर दिया गया है।

अभी छात्रों और नेताओं का आंदोलन शुरू नहीं हुआ है। सुरक्षा की बात करें तो सहरसा स्टेशन पर कोई सुरक्षा की व्यवस्था नहीं की गई है।

जमुई रेलवे स्टेशन पर बिहार बंद को लेकर अभी तक पुलिस बल की तैनाती नहीं की गई है। सारी ट्रेनों को कैंसिल कर दिया गया है। जिले में स्थिति सामान्य है।

जमुई मे भी वाहनों का आवागमन सुबह से ही जारी है। बंद का असर फिलहाल अभी सामान्य है। यात्री वाहन से लेकर स्कूली बस सहित सभी तरह के वाहनों का परिचालन चालू है।

शेखपुरा में शनिवार की सुबह से सामान्य स्थित बाजारों में देखने को मिल रही है। दुकानें खुलने लगी है।लोग आवश्यक सामानों की खरीददारी करना शुरू कर दिए है। चाय पान की दुकानों पर लोग नजर आ रहे है।

सीवान जिले के दरौंदा रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस बल पूरी तरह से मुस्तैद है। जिला प्रशासन ने साफ तौर पर प्रदर्शनकारियों को यह हिदायत दी है कि बिना अनुमति के सीवान के किसी भी हिस्से में धरना प्रदर्शन जुलूस नहीं निकाल सकते।

प्रशासन ने कहीं भी सार्वजनिक जगह पर 5 या 5 से अधिक लोगों को एकत्रित होने पर पाबंदी लगा दिया है। सीवान डीएम अमित कुमार पांडे ने बताया कि प्रशासन से बिना अनुमति के किसी भी प्रोटेस्ट पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

कटिहार में बंद को देखते हुए रेलवे जंक्शन पर भी धारा 144 के तहत सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। स्टेशन परिसर के बाहर पूर्वी एवं पश्चिमी भाग में दंगा से निपटने के लिए दंडाधिकारी के रूप में अंचलाधिकारी सोनू भगत के साथ दंगा निरोधक दस्ता पुलिस बल को नियुक्त किया गया है।

वहीं स्टेशन परिसर में दंगा निरोधक दस्ता के साथ रेलवे के हेडक्वार्टर डीएसपी कुमार देवेंद्र बल के साथ सुबह 4:00 बजे से ही मौजूद है।

मधुबनी में अग्निपथ योजना को लेकर लगातार छात्र द्वारा किए जा रहे सरकार के खिलाफ उग्र प्रदर्शन को देखते हुए आज बिहार बंद किया गया है।

वहीं पुलिस प्रशासन के द्वारा शहर और मधुबनी रेलवे स्टेशन पर पुलिस की तैनाती की गई। प्रदर्शनकारियों के द्वारा दोबारा किसी तरह की क्षति नहीं पहुंचाई जा सके इसके लिए पुलिस प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है।

बता दें कि तीन दिनों से प्रदर्शनकारियों ने राजधानी पटना समेत 25 जिलों में जमकर उपद्रव किया। दानापुर और लखीसराय स्टेशन समेत आधा दर्जन से अधिक स्टेशनों पर आगजनी की गई। 10 ट्रेनों को आग के हवाले कर दिया गया।

राज्य में बढ़ते प्रदर्शन को देखते हुए देर शाम सरकार ने कैमूर, भोजपुर, औरंगाबाद, रोहतास, बक्सर, नवादा, पश्चिम चंपारण, समस्तीपुर, लखीसराय, बेगूसराय, वैशाली, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, दरभंगा और सारण में सोशल नेटवर्किंग साइट और मैसेजिंग सर्विस को दो दिनों के लिए बंद करने का आदेश दिया है।

ऐसे लोगों को भविष्य में नहीं मिलेगा कोई बेनिफिट्स
शुक्रवार को ADG लॉ एंड ऑर्डर संजय सिंह ने बताया कि गुरुवार को हुए हिंसक उपद्रव और सरकारी संपत्तियों को पहुंचाए गए मामले में राज्य के अंदर कुल 31 FIR दर्ज हुई और 435 गिरफ्तारी हुई।

इसमें गुरुवार के उपद्रव पर 24 FIR व 125 गिरफ्तारी की गई। इनके अनुसार आज हुए उपद्रव के मामले में भी कानूनी कार्रवाई होगी। वीडियो फुटेज और फोटो के आधार पर पहचान कर उपद्रव करने वालों को गिरफ्तार किया जाएगा। इनके खिलाफ चार्जशीट दाखिल की जाएगी। पूरी कोशिश होगी भविष्य में ऐसे लोगों को कोई बेनिफिट्स नहीं मिले।

लखीसराय में एक की मौत
इससे पहले लखीसराय में जनसेवा एक्सप्रेस में आगजनी के दौरान एक 25 वर्षीय यात्री की मौत हो गई। जगह-जगह पुलिस पर पथराव किया गया। पुलिस ने लाठीचार्ज और फायरिंग की। इसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए। 50 से अधिक प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img