6 महीने में 43% बढ़ी तस्करी वाले सोने की जब्ती,इन कारणों से बढ़ी स्मगलिंग

6 महीने में 43% बढ़ी तस्करी वाले सोने की जब्ती,इन कारणों से बढ़ी स्मगलिंग
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। देश में सोने की स्मगलिंग में बढ़ोतरी आई है जिसके बाद तस्करी कर भारत लाये जाने वाले सोने की जब्ती में भारी इजाफा देखा गया है। मौजूदा वित्त वर्ष 2023-24 के अप्रैल – सितंबर महीने के दौरान स्मगलिंग वाले सोने की जब्ती 43 फीसदी के साथ 2,000 किलो तक जा पहुंचा है। भारत में सबसे ज्यादा सोने की स्मगलिंग म्यांमार नेपाल और बांग्लादेश की सीमाओं के जरिए कया जा रहा है।

6 महीने में 43% बढ़ी सोने की जब्ती
सीबीआईसी के चेयरमैन संजय कुमार अग्रवाल ने कहा, 2022-23 के अप्रैल-सितंबर के दौरान कुल 1,400 किलोग्राम सोना जब्त किया गया था, जबकि मौजूदा वित्त वर्ष के पहले छह महीने में 2000 किलो सोना जब्त किया गया है जो 43 फीसदी ज्यादा है। जबकि वित्त वर्ष 2022-23 में करीब 3,800 किलो सोना जब्त किया गया था। संजय अग्रवाल ने कहा कि सोने के इंपोर्ट ड्यूटी में कोई बदलाव नहीं किया गयाहै इसके बावजूद सोने की स्मगलिंग देश में बढ़ी है। उन्होंने आशंका जाहिर किया कि सोने की स्मगलिंग की वजह कीमतों में बड़ी उछाल हो सकती है।

म्यांमार और बांग्लादेश तस्करी का मुफीद रास्ता
डीआरआई ने भी 2021-22 के अपने रिपोर्ट में कहा था कि देश में गोल्ड की स्मगलिंग में भी भारी इजाफा हुआ है. म्यांमार और बांग्लादेश बार्डर स्मगलरों के लिए सबसे मुफीद रास्ता बन चुका है। रिपोर्ट के मुताबिक 2021-22 में डीआरआई ने 405.35 करोड़ रुपये के वैल्यू के बराबर 833.07 किलो सोना जब्त किया था। जिसमें सबसे ज्यादा 37 फीसदी सोना म्यांमार ऑरिजिन का है। जबकि पहले स्मगलिंग वाले सोने में वेस्ट एशिया का बड़ा हिस्सा हुआ करता था। 73 फीसदी सोना म्यांमार और बांग्लादेश के रास्ते भारत में तस्करी किया गया। पूर्वोत्तर राज्य मणिपुर के रास्ते सबसे ज्यादा सोने की स्मगलिंग हो रही है।

इसे भी पढ़े   पति के खिलाफ 'दूसरी पत्नी' द्वारा क्रूरता की ये शिकायत सुनवाई योग्य नहीं,इलाहाबाद HC ने क्यों कहा ऐसा

भारी भरकम है इंपोर्ट ड्यूटी
सोने की तस्करी बढ़ने की बड़ी वजह देश में सोने में लगने वाले भारी भरकम इंपोर्ट ड्यूटी भी है। एक जुलाई 2022 को सरकार ने सोने के आयात में नकेल कसने के लिए सोने पर इंपोर्ट ड्यूटी को 7.5 फीसदी से बढ़ाकर 12.50 फीसदी कर दिया गया था। सोने पर 2.50 फीसदी कृषि इंफ्रास्ट्रक्टर डेवलपमेंट सेस और 3 फीसदी आईजीएसटी अलग से देना होता है। सब मिलाकर 18.45 फीसदी सोने के आयात पर टैक्स देना पड़ता है इसलिए इंपोर्ट ड्यूटी देने से बचने के लिए सोने की तस्करी देश में बढ़ी है।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *