Saturday, August 13, 2022
spot_img
Homeराज्य की खबरेंउत्त्तर प्रदेशगोरखनाथ मंदिर में अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगाते हुए आतंकी ने किया हमला...

गोरखनाथ मंदिर में अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगाते हुए आतंकी ने किया हमला !

Updated on 05/April/2022 7:09:32 AM

बढ़ाई गई गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा

ATS ने शुरू की जांच, खंगाल रही विदेशी कनेक्शन

तीनों जवानों को दिया जाएगा 5-5 लाख का इनाम

गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर में रविवार रात हुआ अटैक आतंकी हमला था। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने कहा कि मंदिर पर हमला एक गंभीर साजिश का हिस्सा है। उन्होंने कहा कि हमलावर अहमद मुर्तजा अब्बासी के लैपटॉप जो डिटेल्स मिली है उसके आधार पर यह कहा जा सकता है कि यह आतंकी घटना है। एटीएस और एसटीएफ दोनों मिलकर हमले की जांच कर रही है। हमलावर अब्बासी ने 2015 में मुंबई आईआईटी से केमिकल इंजीनियरिंग की थी। उधर, इससे पहले सोमवार सुबह इस हमले का करीब 34 सेकेंड का वीडियो सामने आया है। इस वीडियो को कार में बैठे एक शख्स ने बनाया है। वीडियो में साफ दिख रहा है कि हमलावर मुर्तजा हाथों में धारदार हथियार लिए हुए है। अफरा-तफरी का माहौल दिख रहा है।

रविवार शाम करीब 7 बजकर 20 मिनट पर PAC जवानों पर हमला किया गया। सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी मौके से भाग खड़े हुए। मंदिर के मुख्य पश्चिमी गेट से लेकर परिसर के अंदर तक करीब 15 मिनट तक संदिग्ध ने तांडव मचाया और मंदिर सुरक्षा में लगाए गए पुलिस वाले उसके डर से भागते रहे। लेकिन, अनुराग नाम के एक पुलिसकर्मी की सूझबूझ से वो पकड़ा गया।​​​​ 2015 में आईआईटी मुंबई से केमिकल इंजीनियर कर चुका मुर्तजा हाथ में हथियार लिए गोरखनाथ मंदिर और थाने के ठीक सामने वाली सड़कों पर दौड़ता रहा। पब्लिक और पुलिस वाले उसे देख भागते रहे। इस बीच मुर्तजा ने ‘अल्लाह हू अकबर’ का नारा भी लगाया और चिल्ला- चिल्ला कर पुलिस वालों से अपील कर रहा था कि ”मैं चाहता हूं कि तुम लोग मुझे गोली मार दो।”

तीनों जवानों को दिया जाएगा 5-5 लाख का इनाम
वहीं, एसीएस (गृह) अवनीश अवस्थी ने बताया कि दो पीएसी और एक पुलिस का जवान हमले में घायल हुए हैं। उन्होंने बहादुरी से हमले को विफल किया है। अगर हमलावर मंदिर में प्रवेश कर जाता तो भक्तों को नुकसान पहुंचा सकता था। इन तीनों बहादुर जवानों को 5-5 लाख रुपए का इनाम दिया जाएगा।


बढ़ाई गई गोरखनाथ मंदिर की सुरक्षा
बहरहाल, पुलिस सक्रियता और गोरखनाथ मंदिर सुरक्षा की पोल खुलते ही इस मामले की जांच UP ATS ने ले ली है। इसके साथ ही मंदिर की सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है। मंदिर के मुख्य गेट पर सख्त चेकिंग के बाद ही किसी को अंदर जाने दिया जा रहा है। इसके साथ ही युवक के आतंकी कनेक्शन और उसकी मंशा की जांच में ATS जुटी हुई है। बता दें, गोरखनाथ पीठ के पीठाधीश्वर CM योगी हैं, ऐसे में यहां आतंकी हमले की कोशिश बड़ा मामला है। संदिग्ध मुर्तजा अहमद अब्बासी शहर के मशहूर डॉ. अब्बासी के ही परिवार का सदस्य है। वे यहां अब्बासी नर्सिंग होम परिसर में ही परिवार के साथ रहता है। ATS परिवार के साथ-साथ बाकी लोगों से भी पूछताछ कर रही है।

ATS ने शुरू की जांच, खंगाल रही विदेशी कनेक्शन
SSP डॉ. विपिन टाडा ने बताया कि देर रात ATS ने जांच की कमान संभाल ली है। ATS और पुलिस टीम हमलावर अहमद मुर्तजा अब्बासी के घर पहुंची। उसके पिता और अन्य परिवार वालों से पूछताछ शुरू की। ATS उसका विदेशी कनेक्शन भी तलाश रही है।आरोपी के पास पासपोर्ट था या नहीं। कभी वह विदेश गया था या ​नहीं। साथ ही उसके मोबाइल और लैपटाप के IP एड्रेस से विदेशी लोगों से बातचीत या फंडिग आदि की जांच कर रही है।

मुंबई से सुबह ही गोरखपुर पहुंचा था
जैसे ही जवान अनिल साथी गोविंद को बचाने के लिए आया तो अब्बासी ने उनके हाथ व पेट पर हमला कर दिया। दोनों जवानों पर वार होता देख गेट के अंदर ड्यूटी पर तैनात सिपाही अनुराग राजपूत इंसास राइफल के साथ पहुंचे तो आरोपी भागने लगा। गेट पर मौजूद मंदिर के कर्मचारियों ने आरोपी को दौड़ाकर पकड़ लिया। बताया जा रहा है वह रविवार की सुबह मुंबई से गोरखपुर आया था। उसके पास से धार​दार हथियार व लैपटॉप भी बरामद हुआ है। घायल जवानों को गोरखनाथ अस्पताल में भर्ती किया गया है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img