Wednesday, September 28, 2022
spot_img
Homeब्रेकिंग न्यूज़योग गुरु बाबा रामदेव ने किया प्रेस कॉन्फ्रेंस,देशवासियों को करेंगे आत्मनिर्भर

योग गुरु बाबा रामदेव ने किया प्रेस कॉन्फ्रेंस,देशवासियों को करेंगे आत्मनिर्भर

Updated on 16/September/2022 2:11:13 PM

नई दिल्ली योग गुरु बाबा रामदेव ने एक बार फिर दोहराया कि देश को खाद्य तेल में आत्मनिर्भर बनाएंगे, साथ ही अगले पांच साल में पांच लाख रोजगार देंगे। उन्होंने बताया कि एक लाख करोड़ का टर्नओवर हासिल करना हमारा लक्ष्य है। इसी के साथ उन्होंने एक बात ये भी कही कि हर तरह के माफिया पतंजलि और स्वामी रामदेव को बर्बाद करने की साजिश रच रहे हैं। दिल्ली में पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कई बातें भी कहीं। .

उन्होंने कहा कि लोग मुझे पिछले दो ढाई दशकों से देख रहे हैं। हमने हमेशा मिथ्या आरोपों को झेला है। आज भी पंतजलि के खिलाफ षडयंत्र किया गया। किसी को ब्रांड बनाने में वर्षों लगते हैं और एक आरोप से ब्रांड ढह जाते हैं। बहुत से लोगों को पंतजलि से ईषर्या होती है। रूचि सोया 4300 करोड़ रूपये में अधिग्रहण किया। वह 50 हजार करोड़ की नेटवर्थ वाली कंपनी बन गई है। 2047 में भारत की आजादी के 100 वर्ष होंगे। उन्होंने बताया रि 40 हजार करोड़ आज हमारा ग्रुप टर्नओवर है। पांच साल में यह एक लाख करोड़ का हो जाएगा। आने वाले चार नाम जुड़ने वाले हैं। पंतजलि आर्युवेद, पंतजलि वैलनेस। हम मीडिया में आ रहे हैं।

उन्होंने बताया कि आज हम पांच लाख लोग रोजगार दे रहे हैं। भारतीय शिक्षा बोर्ड से हम एक लाख स्कूलों को मान्यता देंगे। हम वैलनेस के जरिये लोगों को आपातकालीन स्थिति में इलाज देंगे। सुप्रीम कोर्ट में केसे करेंगे एक इंटरगिटी पैथी होनी चाहिए । केवल एलोपैथी ही मोनोपोली क्यों? हम 15 लाख एकड़ से ज्यादा जमीन पर पाम पौधारोपण करने वाले है।

मिलावट पर बोलते हुए उन्होंने बताया कि आंवला-एलोवेरा जूस में हम एक बूंद पानी नहीं मिलाते। योग-आयुर्वेद में जितना बड़ा लैब, जितना बड़ा सिस्टम और जितना बड़ा यंत्र हमारे पास है किसी के पास नहीं है। एफएसएसएआइ घी को दस पैमानों पर जांचता है, जबकि हम 75 पैमानों पर जांचते हैं उसी के बाद उसे बाजार में उतारा जाता है।

हमारे किसी उत्पाद में कोई मिलावट नहीं होती है मगर प्रतिद्वंदी कंपनियां ऐसा दुष्प्रचार करती हैं कि हम मिलावट करते हैं। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में पैरवी करेंगे कि एक इंटीग्रेटेड पैथी की बात होनी चाहिए, केवल एलोपैथी में विश्व के संपूर्ण आयुर्विज्ञान को समेट दिया जाए, ये अन्यायपूर्ण है।

उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया से लेकर इलेक्ट्रानिक मीडिया और प्रिंट मीडिया तक बाबा को कठघरे में खड़ा करने लगा है, ऐसा दर्शाने लगा जैसे स्वामी रामदेव कोई आतंकवादी हो। उन्होंने बताया कि हमारा घी का सैम्पल अनधिकृत लैब में भेजा गया और फेल कर दिया गया, गाजियाबाद की लैब ने घी के उसी सैम्पल की जांच की तो बताया कि इससे अच्छा घी हो ही नहीं सकता। अब लोग खुद ही समझ सकते हैं कि क्या षडयंत्र रचा जा रहा है।

उन्होंने बताया कि कुछ लोगों ने पतंजलि का नाम खराब किया था, उनको लीगल नोटिस जारी किया गया है। ऐसे लगभग 90 लोग हैं, इन सभी को नोटिस दे दिया गया है। पतंजलि ने करोड़ों लोगों के मन में अपना विश्वास पैदा किया है। ऐसे लोगों को छोड़ा नहीं जाएगा। ऐसे लोग सामने नहीं आते हैं मगर जो लोग छिपकर काम कर रहे हैं वो भी बच नहीं पाएंगे।

एक ओर बड़ी साजिश गाय को खत्म करने की चल रही है। कोरोना क्या है मानव निर्मित हैं या नहीं ये कोई बता नहीं सका। कोरोना के बाद चल रहे टीकाकरण से विभिन्न रोग हो रहे हैं। जैसे कोरोना अपने आपमें रहस्यमय हैं। एक शताब्दी तक कोरोना के टीकाकरण का असर वर्तमान और भविष्य आबादी पर फर्क पड़ेगा। हमारी 50 प्रतिशत गाय का को लंपी वायरस हो गई। हमने गिलोय खिलाकर ठीक किया। लंपी वायरस की जांच होनी चाहिए। यह एक षडयंत्र है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img