वाराणसी में बड़ा हादसा: दक्षिण भारतीय यात्रियों से भरी नाव डूबी

वाराणसी में बड़ा हादसा: दक्षिण भारतीय यात्रियों से भरी नाव डूबी

वाराणसी(जनवार्ता)।प्रशासन की लापरवाही के कारण वाराणसी में गंगा नदी में सैलानियों से भरी नाव डूब गई। नाव में दक्षिण भारतीय यात्री सवार थे।

गंगा में नौका संचालन के दौरान अधिक यात्रियों को बैठाने और सुरक्षा के मानकों का पालन न किए जाने की वजह से तीस से अधिक सैलानी नाव में सवार थे।

जिला प्रशासन की ढिलाई,लापरवाही और नाविकों की कारगुजारी एक बार फ‍िर गंगा में जानलेवा साबित हुई है। शनिवार की सुबह दक्षिण भारत के करीब 34 सैलानियों से भरी ओवरलोडेड नौका गंगा में डूब गई। हादसे की जानकारी होने के बाद पुलिस प्रशासन के हाथ पांव फूल गए। वाराणसी में जैकेट पहनकर ही नाव में सवार होने का नियम है परंतु नाविकों से मिलीभगत होने के कारण यह नियम प्रभावी नहीं हो पाता है।

स्‍थानीय लोगों के अनुसार नौका विहार करते हुए हादसे में नाव में सवार करीब 34 लोग नदी में डूब गए। वहीं सूचना मिलने के बाद एनडीआरएफ और जल पुलिस टीम राहत और बचाव कार्य में जुट गई। पुलिस के अनुसार सभी लोगों को स्‍थानीय लोगों के सहयोग से सुरक्षित निकाल लिया गया है। बताया गया कि इसमें से दो लोगों की हालत गंभीर होने की वजह से उनको अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

हादसा होने के बाद चीख पुकार मचते ही लोग बचाव के लिए अपने संसाधानों के साथ मौके पर पहुंचने लगे। एक एक कर सैलानियों को बचाने का क्रम शुरू हुआ तब तक दो लोगों की हालत चिंताजनक होने की वजह से उनको अस्‍पताल में भर्ती कराना पड़ा। हादसा होते देखकर मानकों का पालन न करने वाला नाविक भी मौके से फरार हो गया। वहीं पुलिस इस मामले में अब अभियोग पंजीकृत कर कार्रवाई की तैयारी में है।

इसे भी पढ़े   केजरीवाल ने मोदी को लिखा पत्र,10 लाख स्कूलों को अपग्रेड करने की मांग

नाव डूबी नही पानी भरा:पुलिस

इस संबंध में पुलिस उपायुक्त काशी जोन, पुलिस कमिश्नरेट, वाराणसी ने एक विज्ञप्ति जारी कर कहा है की आज दिनांक 26.11.2022 सुबह करीब 7:10 बजे एक नाव केदार घाट से शीतला घाट की तरफ जा रही थी। नाव में छेद हो जाने के कारण पानी भरने लगा जिससे नाव में बैठे लोग घबरा गए, उनमें से दो व्यक्ति घबराकर पानी में कूद गए थे जिनको तत्काल जल पुलिस व मौके पर मौजूद नाविकों/स्थानीय लोगों द्वारा बचाया गया। जिन्हें प्राथमिक उपचार हेतु कबीर चौरा हॉस्पिटल भेजा गया है। कोई जनहानि नहीं हुई है, नाव डूबने की घटना असत्य है । उक्त घटना से संबंधित नाव संचालक के विरुद्ध थाना दशाश्वमेध पर सुसंगत धारा में अभियोग पंजीकृत किया गया है। विधिक कार्यवाही की जा रही है।

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *