Friday, December 2, 2022
Google search engine
Homeराज्य की खबरेंभारत को सौंपी गई G20 की अध्यक्षता;मुस्लिम समुदाय के लोगों ने मनाया...

भारत को सौंपी गई G20 की अध्यक्षता;मुस्लिम समुदाय के लोगों ने मनाया जश्न

नई दिल्ली। इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो ने बुधवार को बाली शिखर सम्मेलन के सपामन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को G-20 की अध्यक्षता सौंपी। ऐसे में भारत दिसंबर से ऑफिशियली G-20 की अध्यक्षता संभालेगा। ये पल देश के लोगों के लिए गर्वित कर देने वाला था। ऐसे में अलीगढ़ में मुस्लिम यूथ एसोसिएशन के कार्यकर्ताओं ने अध्यक्षता मिलने पर जश्न मनाया।

दरअसल, G-20 की अध्यक्षता भारत को सौंपे जाने पर अलीगढ़ में मुस्लिम यूथ एसोसिएशन के कार्यकर्ताओं ने अध्यक्ष मोहम्मद आमिर रसीद के नेतृत्व में जश्न मनाया। इस दौरान लोगों में खुशी और उत्साह देखने को मिला। इस जश्न के दौरान कार्यकर्ताओं ने ढोल नगाड़े के साथ लड्डू बांटे।

मुस्लिम यूथ एसोसिएशन के अध्यक्ष मोहम्मद आमिर रशीद ने जश्न के दौरान कहा, ‘जिस तरीके से देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में G-20 में भारत को अध्यक्षता करने का मौका मिला है, ऐसे में वो दिन दूर नहीं है जब दुनिया में भारत का परचम लहराएगा।’

बता दें कि अध्यक्षता सौंपे जाने पर पीएम मोदी ने कहा था, “भारत और बाली के संबंध बहुत पुराने हैं। भारत G-20 का जिम्मा ऐसे समय ले रहा है जब विश्व जियो पॉलिटिकल तनावों, आर्थिक मंदी और ऊर्जा की बढ़ी हुई कीमतों और महामारी के दुष्प्रभावों से एक साथ जूझ रहा है। ऐसे समय विश्व G-20 के तरफ आशा की नज़र से देख रहा है। मैं आश्वासन देना चाहता हूं कि भारत की G-20 अध्यक्षता समावेशी, महत्वाकांक्षी, निर्णायक और क्रिया-उन्मुख होगी। हमारा प्रयत्न रहेगा की G-20 नए विचारों की परिकल्पना और सामूहिक एक्शन को गति देने के लिए एक ग्लोबल प्राइम मूवर की तरह काम करेगा।”

पीएम मोदी ने G-20 Logo का किया अनावरण
इससे पहले पीएम मोदी ने G-20 के भारत की अध्यक्षता के लिए Logo,Theme और Website का अनावरण किया था। भारत की अध्यक्षता के G-20 Logo में कमल के साथ G-20 लिखा गया है। साथ ही इसकी थीम वसुधैव कुटुम्बकम-वन अर्थ, वन फैमिली और वन फ्यूचर रखी गई है। ऐसे में ये दुनिया के लिए भारत की प्राथमिकताओं वाले संदेश को दर्शाता है।

पीएम मोदी ने Logo को लेकर बोलते हुए कहा था, ”G-20 का ये Logo केवल एक प्रतीक चिन्ह नहीं है। बल्कि ये एक संदेश है, एक भावना है जो हमारी रगो में है। ये एक संकल्प है जो हमारी सोच में शामिल रहा है।”

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img