निजी अस्पताल पर स्वास्थ्य विभाग की छापेमारी से हड़कंप

निजी अस्पताल पर स्वास्थ्य विभाग की छापेमारी से हड़कंप
ख़बर को शेयर करे

जौनपुर।  नई आबादी मोहल्ले स्थित एक निजी मकान में लंबे समय से चल रहे निजी अस्पताल में सीएचसी प्रभारी डा. रफीक फारुकी ने टीम के साथ पहुंचकर छापेमारी की। जांच के दौरान चिकित्सक रमेश यादव नदारद मिले। अस्पताल का पंजीकरण व जरूरी दस्तावेज भी अस्पताल के कर्मचारी नहीं दिखा सके। चिकित्साधीक्षक ने 24 घंटे के भीतर जरूरी कागज उपलब्ध कराए जाने संबंधित नोटिस देते हुए चेतावनी दी कि कागजात न दिखाने पर अस्पताल को सीज करने के साथ ही एफआइआर भी दर्ज कराई जाएगी।रामअजोर ने अस्पताल में नीम हकीमों द्वारा इलाज करने की शिकायत की थी। साथ ही इसकी शिकायत आइजीआरएस पर भी दर्ज कराई गई थी। शिकायत का संज्ञान लेते हुए सीएचसी के अधीक्षक डा. फारुकी अस्पताल पहुंच गए। 

निरीक्षण के दौरान तमाम तरह की खामियां मिलीं। इस दौरान मरीजों से भी पूछताछ की गई। तकरीबन एक घंटे चले जांच के दौरान अस्पताल का पंजीकरण भी नहीं मिला, अस्पताल में आने वाले डाक्टरों जानकारी भी नहीं मिल सकी। एक महिला अस्पताल में भर्ती मिली जिसका आपरेशन किया गया था। सीएचसी प्रभारी की ओर आपरेशन करने वाले डाक्टर का नाम व उसकी डिग्री भी उपलब्ध कराने को कहा है। अस्पताल का मेडिकल स्टोर भी मानक के मुताबिक नहीं मिला।अधीक्षक डॉ. रफीक फारुकी ने बताया कि नियमों की अनदेखी कर अस्पताल संचालन करने को लेकर शिकायत मिली थी। जांच के दौरान कई खामियां मिली हैं। अस्पताल संचालक को नोटिस जारी कर 24 घंटे के भीतर जवाब मांगा गया है। ऐसा नहीं करने पर विधिक कार्यवाही की जाएगी।

इसे भी पढ़े   शिव पूजन से नवग्रह हो जाते हैं शांत,जानिए नवग्रह की प्रसन्नता के लिए शिवलिंग पर क्या चढ़ाएं

ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *