लैंडस्लाइड से भारी तबाही;20-25 लोगों के दबे होने की आशंका,अब तक 9 शव निकाले गए…NDRF मौके पर

लैंडस्लाइड से भारी तबाही;20-25 लोगों के दबे होने की आशंका,अब तक 9 शव निकाले गए…NDRF मौके पर
ख़बर को शेयर करे

शिमला। हिमाचल प्रदेश में लगातार हो रही बारिश ने लोगों की जिंदगी को बुरी तरह प्रभावित कर दिया है। बीते कई दिन से पहाड़ों पर पानी बरस रहा है और ऐसे में भूस्खलन की घटनाओं में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। अभी हिमाचल की राजधानी शिमला में बारिश के चलते लैंडस्लाइ़ड की घटना हुई है,जिसमें अभी 9 लोगों के मारे जाने की सूचना है। बताया जा रहा है कि अचानक से पहाड़ का पूरा मलबा मंदिर के ऊपर आ गया,जिससे वहां पूजापाठ कर रहे दर्जनों लोग दब गए हैं।

शिमला में एक मंदिर लैंडस्लाइड की चपेट में आया
मंदिर में पूजा पाठ कर रहे दर्जनों लोग मलबे में दबे
सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू घटनास्थल पर पहुंचे हैं

पहाड़ का पूरा मलबा मंदिर के ऊपर आया
शिमला के समर हिल क्षेत्र में भूस्खलन की ये घटना हुई है। बताया जा रहा है कि अचानक से पहाड़ का पूरा मलबा मंदिर के ऊपर आ गया, जिससे वहां पूजापाठ कर रहे दर्जनों लोग दब गए हैं। अभी जानकारी मिल रही है कि मलबे से 9 लोगों के शवों को निकाला जा चुका है।

मलबे से कुछ शव निकाले गए हैं:मंत्री विक्रमादित्य
भूस्खलन के बाद राहत और बचाव की टीमें मौके पर पहुंची हैं। मंदिर के अंदर फंसे लोगों को बाहर निकालने की कोशिश हो रही है। हिमाचल प्रदेश के मंत्री विक्रमादित्य सिंह ने जानकारी दी है कि मलबे के नीचे से कुछ शव निकाले गए हैं। उन्होंने बताया कि 10-15 लोग अभी भी मलबे के नीचे दबे हुए हैं। लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं।

इसे भी पढ़े   रोहित शर्मा की जगह ये खिलाड़ी करेगा ओपनिंग! कोच राहुल द्रविड़ ने लिया ये नाम

सीएम सुक्खू घटनास्थल पर पहुंचे
मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने बारिश से प्रभावित शिमला के समर हिल क्षेत्र में भूस्खलन स्थल पर स्थिति का निरीक्षण किया है। सुक्खू ने शिमला में भूस्खलन की घटना पर कहा कि 20-25 लोग यहां (समर हिल,शिमला) मलबे में फंसे हुए हैं।

सोलन में बादल फटने से 7 की मौत
इसके पहले हिमाचल के सोलन में बादल फटने से तबाही मची है। बादल फटने के बाद दो घर और एक गौशाला बह गए। घटना में अभी तक 7 लोगों की मौत की जानकारी मिली है। अभी भी वहां राहत और बचाव का काम चल रहा है।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *