‘रामचरितमानस’ मामले पर पहली बार बोले अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया

‘रामचरितमानस’ मामले पर पहली बार बोले अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया
ख़बर को शेयर करे

बिहार। बिहार के शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर सिंह के रामचरितमानस वाले बयान को लेकर बयानबाजी थमने का नाम नहीं ले रही है। शिक्षा मंत्री ने कहा था कि तब रामचरितमानस को नफरत फैलाने वाला ग्रंथ बताया था। उन्होंने कहा कि इस ग्रंथ में निचली जाति के लोगों को गालियां दी गई हैं। इसपर पहली बार अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया का बयान आया है।

कानपुर दौरे के दौरान प्रवीण तोगड़िया ने कहा, “किसी के कहने से रामचरितमानस कोई छोटा नहीं होता है। ये करोड़ों हिंदूओं के दिल में है और श्रद्धा के साथ है। जिसको पूरी समझ नहीं है वो ऐसा बोलता है तो उनपर दुर्लक्ष्य करो। रामचरितमानस सभी के दिल में श्रद्धा के साथ है।” उन्होंने कहा, “अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद और बजरंग दल करोड़ों हिंदूओं ने जागकर सामूहिक प्रयास से राम मंदिर बना दिया।”

भगवान राम को अयोध्या में मिल रहा घर- प्रवीण तोगड़िया
अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद के अध्यक्ष ने कहा,”अब ये जागे हुए हिंदूओं के द्वारा हिंदू ही आगे अर्थात भगवान राम को बढ़ाकर मंदिर मिला। अब राम के बेटे सभी हिंदूओं को रहने के लिए अच्छा घर मिले, सभी हिंदूओं का परिवार स्वस्थ रहे, सभी हिंदू परिवार सुरक्षित रहे और सभी हिंदूओं के बच्चों का शिक्षा में टैलेंट बढ़कर आगे बढ़े, ऐसा अभियान पूरे देश में हमने शुरू किया है। नवरात्र में हमने घरों और कॉलोनियों में चंड़ी पाठ,शस्त्र पुजन और कन्या पूजन के कार्यक्रम दिए थे।”

उन्होंने कहा, “ये कार्यक्रम 92,300 जगहों पर हुए हैं। तो शस्त्र पूजन, चंड़ी पाठ और कन्या पूजन में जो लोग जुटे थे। उनके घरों में जाकर उनका कुशल पूछना, उनको मदद करना, उनकी सुरक्षा में परिवार के साथ खड़े रहना, वह परिवार स्वस्थ्य रहे इसकी कोशिश करना और उनके परिवार के बच्चे पढ़ने में आगे बढ़ें,ऐसी उनकी शिक्षा देना। ऐसा हमने शुरू कर दिया है।”

इसे भी पढ़े   केन्द्रीय राज्य मंत्री बीके सिंह ने कृषि प्रमुख वैज्ञानिकों (एमएसीएस) की जी 20 बैठक का किया उद्घाटन

ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *