Friday, August 12, 2022
spot_img
Homeराज्य की खबरेंप्रधानमंत्री मोदी और अर्जेटीना के राष्ट्रपति फर्नांडीज ने द्विपक्षीय संबंधों की समीक्षा...

प्रधानमंत्री मोदी और अर्जेटीना के राष्ट्रपति फर्नांडीज ने द्विपक्षीय संबंधों की समीक्षा की

Updated on 27/June/2022 12:48:25 PM

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को यहां जी-7 शिखर सम्मेलन से इतर अर्जेंटीना के राष्ट्रपति अल्बर्टो फर्नांडीज के साथ एक सार्थक बैठक की और द्विपक्षीय संबंधों की समीक्षा की।
बैठक के दौरान दोनों नेताओं ने व्यापार तथा निवेश,रक्षा सहयोग,कृषि,जलवायु कार्रवाई और खाद्य सुरक्षा जैसे विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की।
यह दोनों नेताओं के बीच पहली द्विपक्षीय मुलाकात थी। दोनों नेताओं ने 2019 में स्थापित द्विपक्षीय रणनीतिक साझेदारी को लागू करने में प्रगति की समीक्षा की।
मोदी जी-7 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए रविवार को जर्मनी के दो दिवसीय दौरे पर यहां पहुंचे। वह शक्तिशाली समूह और उसके सहयोगी देशों के नेताओं के साथ ऊर्जा, खाद्य सुरक्षा, आतंकवाद रोधी, पर्यावरण और लोकतंत्र जैसे मुद्दों पर चर्चा करेंगे।

मोदी ने ट्वीट किया, “म्यूनिख में राष्ट्रपति अल्बर्टो फर्नांडीज के साथ सार्थक बैठक के दौरान भारत-अर्जेंटीना के बीच मैत्रीपूर्ण संबंधों की समीक्षा की गई। हमारे देशों के बीच मजबूत सहयोग से हमारे लोगों को बहुत फायदा होगा।’’

प्रधानमंत्री कार्यालय ने मोदी की दो देशों की यात्रा के दौरान पहली द्विपक्षीय बैठक पर एक ट्वीट में कहा, ‘‘प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने म्यूनिख में राष्ट्रपति अल्बर्टो फर्नांडीज के साथ बातचीत की। दोनों नेताओं ने भारत और अर्जेंटीना के बीच वाणिज्यिक और सांस्कृतिक संबंधों को प्रगाढ़ बनाने के तरीकों पर चर्चा की।’’

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘प्रधानमंत्री मोदी ने अर्जेंटीना के राष्ट्रपति अल्बर्टो फर्नांडीज से मुलाकात की जो उनकी पहली द्विपक्षीय बैठक थी। व्यापार एवं निवेश, जलवायु कार्रवाई, दक्षिण-दक्षिण सहयोग, पारंपरिक चिकित्सा, कृषि जैसे विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई।’’

मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि व्यापार एवं निवेश, दक्षिण-दक्षिण सहयोग, विशेष रूप से फार्मास्युटिकल क्षेत्र में, जलवायु कार्रवाई, अक्षय ऊर्जा, परमाणु चिकित्सा, विद्युत गतिशीलता, रक्षा सहयोग, कृषि और खाद्य सुरक्षा, पारंपरिक चिकित्सा, सांस्कृतिक सहयोग, साथ ही अंतरराष्ट्रीय निकायों में समन्वय सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई। उसने कहा कि दोनों पक्ष इन क्षेत्रों में अपने द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ाने पर सहमत हुए।

भारत के अलावा जी7 शिखर सम्मेलन के मेजबान जर्मनी ने अर्जेंटीना, इंडोनेशिया, सेनेगल और दक्षिण अफ्रीका को वैश्विक लोकतंत्रों को अपने भागीदारों के रूप में मान्यता देने के लिए अतिथि के रूप में आमंत्रित किया है।

भारत-अर्जेंटीना संबंधों को 2019 में रणनीतिक साझेदारी के स्तर तक बढ़ा दिया गया था। दोनों देशों के बीच बहुआयामी संबंध पिछले कुछ वर्षों में मजबूत हुए हैं और इसमें राजनीतिक, आर्थिक, सांस्कृतिक और वैज्ञानिक एवं तकनीकी सहयोग शामिल है।

अर्जेंटीना में भारतीय मूल के लगभग 2,600 लोग रहते हैं, जिनमें भारतीय कंपनियों और बहुराष्ट्रीय निगमों के साथ काम करने वाले पेशेवर शामिल हैं।

मोदी 28 जून को जर्मनी से संयुक्त अरब अमीरात जाएंगे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img