स्पाइसजेट के सीसीओ का इस्तीफा,शेयर में आ गई 10% की गिरावट

स्पाइसजेट के सीसीओ का इस्तीफा,शेयर में आ गई 10% की गिरावट
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। मंगलवार को शेयर बाजार चढ़ कर खुले। लेकिन स्पाइसजेट एयरलाइन के शेयर सुबह के सत्र में ही 10% तक लुढ़क गए। इसके शेयर बीएसई पर 54.60 रुपये के निचले स्तर पर पहुंच गए। यह गिरावट कंपनी की कमर्शियल टीम के कई सदस्यों के इस्तीफे के बाद आई है, जिसमें चीफ कमर्शियल ऑफिसर भी शामिल हैं। चीफ कामर्शियल ऑफिसर के इस्तीफे की खबर की कंपनी ने पुष्टि भी कर दी है।

छंटनी की बनाई है योजना
नकदी की कमी से जूझ रही इस एयरलाइन ने अपने रणनीतिक पुनर्गठन की एक योजना तैयार की है। लागत में कटौती और निवेशकों की रुचि बनाए रखने के लिए इसने लगभग 1,400 कर्मचारियों की छंटनी करने की योजना बनाई थी। हालांकि इस समय कंपनी ने रेवेन्यू और लोड फैक्टर में लगातार वृद्धि दर्ज की जा रही है।

फंड जुटाने में मिल रही है सफलता
कंपनी के प्रवक्ता ने कहा, ‘हाल ही में, फंड के आने से, स्पाइसजेट ने पिछले सभी विवादों को सुलझाने की प्रक्रिया को तेज कर दिया है। कंपनी क्षमता बढ़ाने, तेजी से विकास करने और भारतीय विमानन क्षेत्र में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की उम्मीद करती है।’ स्पाइसजेट वर्तमान में एक पुनरुद्धार योजना के बीच है और अतिरिक्त सदस्यता अनुमोदन लंबित होने के साथ, 744 करोड़ रुपये जुटाने की पहली किश्त सफलतापूर्वक पूरी कर ली है। कंपनी ने अतिरिक्त 1,000 करोड़ रुपये जुटाने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। स्पाइसजेट के पास पहले से ही QIP के माध्यम से 2,500 करोड़ रुपये तक जुटाने के लिए वैध शेयरधारक अनुमोदन है।

इसे भी पढ़े   कार्तिक आर्यन को दूसरी बार हुआ कोरोना

पिछली तिमाही हुआ था घाटा
इस एयरलाइन ने सितंबर तिमाही के लिए 449 करोड़ रुपये का समेकित शुद्ध घाटा दर्ज किया, जबकि पिछले साल की समान अवधि में 830 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। कंपनी ने पिछली जून तिमाही में 198 करोड़ रुपये का मुनाफा दर्ज किया था। कंपनी के परिचालन से होने वाले कुल राजस्व में साल-दर-साल 27% की गिरावट देखी गई और यह 1,429 करोड़ रुपये रहा।

पिछले हफ्ते ही निकला था समाधान
स्पाइसजेट ने पिछले हफ्ते ही हेलॉन आयरलैंड मैडिसन वन लिमिटेड के साथ 413 करोड़ रुपये के विवाद के समाधान की घोषणा की। समझौते के तहत, स्पाइसजेट दो विमानों का अधिग्रहण करेगा, जिससे एयरलाइन के बेड़े और परिचालन क्षमताओं में वृद्धि होगी।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *