वट सावित्री व्रत में खुद का ऐसे रखें ख्याल, पूरे दिन रहेंगी एनर्जेटिक

वट सावित्री व्रत में खुद का ऐसे रखें ख्याल, पूरे दिन रहेंगी एनर्जेटिक

नई दिल्ली। 19 मई 2023 को पड़ रही वट सावित्री व्रत की काफी मान्यता है। इस दिन महिलाएं पूरे दिन भूखी प्यासी रह कर अखंड सौभाग्य की कामना करती हैं। ये व्रत जेष्ठ माह की अमावस्या को पड़ता है। इस दौरान देशभर में भयंकर गर्मी पड़ रही है ऐसे में व्रत के साथ खुद का ख्याल भी रखना बेहद जरूरी है। ऐसे में इस भीषण गर्मी में व्रत के दौरान खुद को हाइड्रेट कैसे रखे इस आर्टिकल में इसी के बारे में आपको बताने जा रहे हैं।

दरअसल, Vat Savitri की पूजा काफी कठिन होती है। इसमें बिना कुछ खाए पिए पूरे दिन रहना पड़ता है। यहां तक कि ये निर्जल ही रखा जाता है। मान्यता है कि व्रत के नियमों का सही से पालन करने पर ही इसका पूरा फल मिलता है। ऐसे में व्रत के दौरान खुद का ख्याल रखने के लिए आपको पहले से ही तैयारी करनी पड़ेगी ताकि आप डिहाइड्रेशन का शिकार होने से बच सकें।

व्रत के दौरान खुद को ऐसे रखें हाइड्रेट
Vat Savitri का व्रत रखने वाली महिलाएं पूजा के दो दिन पहले से नमक कम खाना शुरु कर दें। नमक ज्यादा खाने से प्यास भी ज्यादा लगती है ऐसे में निर्जला व्रत के दौरान आपको पानी न पीने से डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है।

व्रती महिलाएं को व्रत के दौरान एनर्जेटिक रहने के लिए उपवास रखने से पहले रात के खाने के कुछ देर बाद गुड़ खाना चाहिए। इससे आपका खाना आसानी से डाइजेस्ट होगा और शरीर में आयरन की भरपूर मात्रा होगी जो व्रत के दौरान एनर्जेटिक रखने में काफी मददगार होगी।

इसे भी पढ़े   BHU का फर्जी इंटर्न मामला गरमाया,शक के घेरे में सीनियर डॉक्टर भी

वैसे तो आपको रोजाना ही भरपूर मात्रा में पानी पीना चाहिए लेकिन अगर आप निर्जला व्रत रखने वाली हैं तो ऐसे में आपको शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए और भी जरूरी है ऐसे में व्रत रखने से पहले शाम के खाने के बाद आपको नींबू पानी का सेवन करना चाहिए।

अगर आप वट सावित्री का कठोर व्रत करने जा रही हैं तो आप व्रत के एक दिन पहले नारियल पानी जरूर पिएं और जितना हो सके उतना पानी वाले जैसे तरबूज, खरबूज और पपीते जैसे फलों का सेवन करें। ये आपके शरीर में पानी की कमी को पूरा करेगा और साथ ही इससे शरीर को भरपूर मात्रा में पोषक तत्व भी मिलेगा।

इन गलतियों को करने से बचें
इसके अलावा व्रत वाले दिन ज्यादा भागदौड़ और धूप में निकलने से परहेज करें।
रसोई या किसी भी गर्मी वाली जगह से बहुत दूर रहें।
उपवास वाले दिन ऐसा कोई भी काम करने से बचे जिससे आपको थकान महसूस हो सकती है।

इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीके और दावे अलग-अलग जानकारी के आधार पर हैं। REPUBLIC BHARAT इस आर्टिकल में दी गई जानकारी के सही होने का दावा नहीं करता है। किसी भी उपचार और सुझाव को अप्लाई करने से पहले संबंधित डॉक्टर और एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें।

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *