सुप्रीम राहत मिलते ही एक्शन में अडानी,एक झटके में कर डाली 426 करोड़ की खरीदारी

सुप्रीम राहत मिलते ही एक्शन में अडानी,एक झटके में कर डाली 426 करोड़ की खरीदारी

नई दिल्ली। अडानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडानी को हिंडनबर्ग मामले में हाल ही में राहत मिली है। इसके साथ ही अडानी एक्शन में आ गए हैं। उनकी सीमेंट कंपनी एसीसी लिमिटेड ने एशियन कंक्रीट्स एंड सीमेंट्स प्राइवेट लिमिटेड में 55% हिस्सेदारी खरीदने की घोषणा की है। इसकी वैल्यू 425.96 करोड़ रुपये है। एसीसी लिमिटेड की पहले से ही इस कंपनी में 45 फीसदी हिस्सेदारी है। सोमवार की खरीदारी के बाद इस कंपनी में एसीसी लिमिटेड की हिस्सेदारी 100 परसेंट हो गई है। बीएसई पर कंपनी का शेयर आज 0.67% की गिरावट के साथ 2361.40 रुपये पर ट्रेड कर रहा था।

एसीसी ने शेयर मार्केट्स को दी जानकारी में कहा कंपनी के बोर्ड की आठ जनवरी को हुई बैठक में एशियन कंक्रीट्स एंड सीमेंट्स प्राइवेट लिमिटेड को खरीदने पर सहमति जताई है। कंपनी में 55 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने की लागत 425.96 करोड़ रुपये होगी। ACCPL की हिमाचल प्रदेश के नालागढ़ में 13 लाख टन सालाना क्षमता वाला प्लांट है। इसकी सहायक कंपनी एशियन फाइन सीमेंट्स प्राइवेट लिमिटेड (AFCPL) का पंजाब के राजपुरा में 15 लाख टन सालाना क्षमता वाला संयंत्र है। अडानी ग्रुप ने पिछले साल एसीसी का अधिग्रहण पूरा किया था। इस बिजनस की कमान अडानी के बेटे करण अडानी के हाथों में है।

अडानी की नेटवर्थ
सुप्रीम कोर्ट ने हिंडनबर्ग रिसर्च मामले में हाल में गौतम अडानी को राहत दी थी। पिछले साल 24 जनवरी को अमेरिका की शॉर्ट सेलिंग फर्म हिंडनबर्ग रिसर्च ने अडानी ग्रुप के खिलाफ एक रिपोर्ट जारी की थी। इसमें ग्रुप पर शेयरों की कीमत में छेड़छाड़ करने जैसे कई आरोप लगाए गए थे। अडानी ग्रुप ने इन आरोपों का खंडन किया था लेकिन इससे ग्रुप के शेयरों में भारी गिरावट आई थी। अडानी भी अमीरों की लिस्ट में काफी नीचे फिसल गए थे। लेकिन सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद अडानी ग्रुप के शेयरों में तेजी है। ब्लूमबर्ग बिलिनेयर इंडेक्स के मुताबिक अडानी 94.5 अरब डॉलर की नेटवर्थ के साथ दुनिया के अमीरों की सूची में 14वें नंबर पर हैं। इस साल उनकी नेटवर्थ में सबसे अधिक 10.2 अरब डॉलर की तेजी आई है।

इसे भी पढ़े   उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने वाराणसी की अड़ी पर पी चाय और खाया पान

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *