पटना एयरपोर्ट पर दिखा Manish Kashyap का आक्रामक रूप, कहा- नेताओं पर भरोसा नहीं

पटना एयरपोर्ट पर दिखा Manish Kashyap का आक्रामक रूप, कहा- नेताओं पर भरोसा नहीं

पटना । तमिलनाडु में बिहारी श्रमिकों पर हमले का झूठा वीडियो शेयर करने के आरोपित यूट्यूबर मनीष कश्यप (Youtuber Manish Kashyap) को तमिलनाडु पुलिस (Tamil Nadu Police) प्रोडक्शन वारंट पर अपने साथ ले गई। इस दौरान पटना एयरपोर्ट पर मनीष कश्यप का आक्रामक रूप देखने को मिला।

मीडिया से बात करते हुए मनीष कश्यप ने कहा कि उसे नेताओं पर भरोसा नहीं है। बिहार के नेताओं ने राज्य को बर्बाद कर दिया है। भारत में पहली बार किसी पत्रकार के साथ ऐसा हो रहा है। आज नहीं तो कल बिहार जरूर बदलेगा। मेरे सारे वीडियो देख लीजिए, मैंने सिर्फ मजदूरों की आवाज उठाई है।

मुझपर झूठे राजनीतिक आरोप लगाए गए- मनीष
वहीं, बिहार और तमिलनाडु पुलिस को लेकर उसने कहा कि मेरे साथ पुलिस ने कोई बदतमीजी नहीं की है। मैंने किसी के बारे में कुछ गलत नहीं बोला है। आपलोग मेरा वीडियो देख सकते हैं। लड़ाई आपलोगों को भी लड़ना पड़ेगा। मुझपर राजनीतिक आरोप लगाए गए हैं। सब झूठ है।

बता दें कि प्रोडक्शन वारंट लेकर पहुंची तमिलनाडु पुलिस न्‍यायालय के आदेश के बाद आज यूट्यूबर मनीष कश्‍यप को लेकर चेन्‍नई रवाना हो गई। बिहार पुलिस की टीम भी साथ गई है। मनीष को 31 मार्च को मदुरई कोर्ट में पेश किया जाएगा। चेन्‍नई ले जाए जाते वक्‍त पटना एयरपोर्ट पर मनीष कश्‍यप ने कहा कि उसे न्‍यायालय व कानून पर भरोसा है।

पांच दिन तक रिमांड पर लेकर हुई पूछताछ
मालूम हो कि पांच दिनों तक रिमांड पर लेकर आर्थिक अपराध इकाई (EOU) ने मनीष (Manish) से सोमवार तक पूछताछ की थी। मंगलवार को उसे न्यायिक हिरासत में भेजा गया था। इसी बीच आर्थिक अपराध के विशेष न्यायिक दंडाधिकारी आदिदेव की अदालत ने मनीष कश्यप (Manish Kashyap) के खिलाफ मंगलवार को प्रोडक्शन वारंट (Production Warrant) जारी किया।

इसे भी पढ़े   यूपी से पटना जा रही ट्रेन के इंजन से शराब की बड़ी खेप जब्त, तीन बोरियों से 260 टेट्रा पैक बरामद

तमिलनाडु पुलिस 15 दिनों की मांगेगी रिमांड
इस मामले में तमिलनाडु की पुलिस ने अदालत में आवेदन देकर मनीष कश्यप को तमिलनाडु की अदालत में पेश करने के लिए प्रोडक्शन वारंट देने का अनुरोध किया था। अदालत ने तमिलनाडु पुलिस को 31 मार्च तक मदुरई की अदालत में पेश करने का आदेश दिया है। मदुरई कोर्ट में पेशी के बाद तमिलनाडु पुलिस 15 दिनों की रिमांड मांगेगी।

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *