iPhone 16 मॉडल्स में 4 नए कैमरा फीचर्स दे सकता है Apple,यूजर्स को कैसे मिलेगा इनका फायदा

iPhone 16 मॉडल्स में 4 नए कैमरा फीचर्स दे सकता है Apple,यूजर्स को कैसे मिलेगा इनका फायदा
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। ऐसी उम्मीद है कि Apple इस साल के अंत तक iPhone 16 सीरीज को लॉन्च कर देगा। अपकमिंग लाइनअप में चार नए स्मार्टफोन मॉडल शामिल होने की उम्मीद है: iPhone 16, iPhone 16 Plus, iPhone 16 Pro और iPhone 16 Pro Max । ऐसे में अपकमिंग iPhone सीरीज के प्रो वेरिएंट में बड़ी स्क्रीन, एक विशेष ट्रिगर और बहुत कुछ जैसी नई सुविधाओं के साथ आने की भी अफवाह है। आज हम उन खासियतों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आईफोन 16 के प्रो मॉडल्स में देखने को मिलेंगी।

बेहतर अल्ट्रा-वाइड कैमरा
जानकारी के अनुसार,iPhone 16 Pro और iPhone 16 Pro Max में इस साल बेहतर 48-मेगापिक्सल का अल्ट्रा-वाइड कैमरा इस्तेमाल किया जा सकता है। यह iPhone 15 Pro मॉडल पर मौजूदा 12-मेगापिक्सल अल्ट्रा-वाइड कैमरे की तुलना में एक जोरदार अपडेट हो सकता है। इस अपग्रेड का लक्ष्य विभिन्न शूटिंग सिनेरियो में बेहतरीन परफॉर्मेंस ऑफर करना है, खासकर कम रोशनी वाली स्थितियों में। नए अल्ट्रा-वाइड कैमरे से खींची गई इमेज अधिक डीटेल्ड और कलर करेक्ट दिख सकती हैं।

iPhone 16 Pro के लिए टेट्रा प्रिज्म लेंस
लेटेस्ट iPhone 15 Pro Max में एक नया टेट्राप्रिज्म कैमरा डिज़ाइन है जो 5x ऑप्टिकल ज़ूम और 25x डिजिटल ज़ूम ऑफर करता है। अपकमिंग iPhone 16 सीरीज को ध्यान में रखते हुए, Apple इस बेहतर टेट्राप्रिज्म कैमरे को छोटे iPhone 16 Pro मॉडल में एक्सपैंड करने की तैयारी बना रहा है। इसका मतलब है कि iPhone 16 Pro और iPhone 16 Pro Max दोनों कम से कम 5x ऑप्टिकल ज़ूम और 25x डिजिटल ज़ूम ऑफर करते हैं।

इसे भी पढ़े   भारतीय महिला टीम के पूर्व कोच के घर पुलिस का छापा,मिला नोटों से भरा बैग

बेहतर लेंस फ्लेयर नियंत्रण
ज्यादातर iPhone यूजर्स के लिए ये एक आम समस्या है कि जब वो तेज रोशनी में फ़ोटो लेते हैं तो इससे फोटो क्लियर नहीं आती है। नतीजतन इमेज में अनचाहे पैटर्न तैयार हो जाते हैं और इंटरनल रिफ्लेक्शन बनता है। जबकि यह समस्या बाज़ार के अधिकांश कैमरों के साथ आम है, Apple कथित तौर पर iPhone 16 Pro के लिए लेंस फ्लेयर कट्रोल पर काम कर रहा है।

iPhone 16 Pro में सोनी का नया में कैमरा सेंसर शामिल होने की उम्मीद है, जिसके बारे में कहा जाता है कि यह कम रोशनी में फोटोग्राफी को बेहतर बनाता है। रिपोर्ट के अनुसार, सोनी की लेटेस्ट मल्टी-लेयर सेंसर तकनीक फोटोडायोड और पिक्सेल ट्रांजिस्टर को अलग करती है। यह सेपरेशन एग्रीगेट पिक्सेल साइज को बनाए रखते हुए लाइट को कैप्चर करने के लिए जिम्मेदार फोटोडायोड को काफी बड़ा करने की अनुमति देता है।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *