यूनिफार्म सिविल कोड और BPL परिवारों को मुफ्त सिलेंडर का वादा, भाजपा का घोषणापत्र जारी

यूनिफार्म सिविल कोड और BPL परिवारों को मुफ्त सिलेंडर का वादा, भाजपा का घोषणापत्र जारी
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली | कर्नाटक विधानसभा चुनाव (Karnataka Election 2023) के लिए भाजपा ने आज अपना घोषणापत्र (विजन डॉक्यूमेंट) जारी कर दिया है। अपने घोषणा पत्र में भाजपा ने सबसे बड़ा वादा राज्य में यूनिफार्म सिविल कोड लाने का किया है।

जेपी नड्डा ने जारी किया विजन डॉक्यूमेंट
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने आगामी कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी का घोषणापत्र ‘विजन डॉक्यूमेंट’ आज बेंगलुरु में जारी किया है। नड्डा ने घोषणापत्र जारी करते हुए कहा कि ये वातानुकूलित कमरे में बैठकर नहीं बनाया गया है, बल्कि राज्यों के कोने-कोने का दौरा कर कार्यकर्ताओं ने मेहनत कर लाखों लोगों से सुझाव प्राप्त कर इसे बनाया है।

BJP के घोषणापत्र की मुख्य बातें
कर्नाटक में यूनिफार्म सिविल कोड लाएगी भाजपा
BPL परिवार को 3 मुफ्त सिलेंडर और प्रतिदिन आधा लीटर दूध का वादा
अटल आहार केंद्र स्थापित कर किफायती भोजन देने की घोषणा
‘पोषण’ योजना होगी शुरू
जेपी नड्डा ने कहा कि हम किफायती और साफ भोजन उपलब्ध कराने के लिए पूरे राज्य में अटल आहार केंद्र स्थापित करेंगे। हम एक योजना ‘पोषण’ शुरू करेंगे, जिसके माध्यम से राज्य के बीपीएल परिवारों को दूध, श्री अन्ना और चावल मुफ्त उपलब्ध कराया जाएगा।

इन 6 विषयों पर केंद्रित है घोषणापत्र
खाद्य सुरक्षा
गुणवत्तापूर्ण शिक्षा
सस्ती और सुलभ स्वास्थ्य सेवा
सुनिश्चित आय सहायता
सभी के लिए सामाजिक न्याय
सभी के लिए विकास, समृद्धि
कृषि कोष के गठन का वादा
भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि हम 30,000 करोड़ रुपये के एक कृषि कोष का गठन करेंगे। सभी ग्राम पंचायतों में माइक्रो कोल्ड-स्टोरेज सुविधाएं और कृषि-प्रसंस्करण इकाइयों की स्थापना इसके तहत की जाएगी। नड्डा ने आगे कहा कि हम एपीएमसी का आधुनिकीकरण और डिजिटलीकरण करेंगे, कृषि-मशीनीकरण में तेजी लाएंगे।

इसे भी पढ़े   बच्चों की हत्या की वजह धार्मिक कट्टरता या…

सिद्धारमैया पर कटाक्ष
नड्डा ने इसी के साथ सिद्धारमैया पर भी निशाना साधा उन्होंने कहा कि उनकी सरकार बिल्कुल रिवर्स गियर वाली सरकार थी और उन्होंने प्राकृतिक संसाधनों को लूटने का काम किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार में आपराधिक और असामाजिक तत्व फलते-फूलते थे।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *