‘कांग्रेस मुस्लिम आरक्षण बढ़ाकर 6% करेगी तो कम किसका होगा?’ बोले शाह-प्रचार खत्म होने से पहले चाहिए जवाब

‘कांग्रेस मुस्लिम आरक्षण बढ़ाकर 6% करेगी तो कम किसका होगा?’ बोले शाह-प्रचार खत्म होने से पहले चाहिए जवाब
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आरक्षण के मुद्दे को लेकर कांग्रेस को घेरते हुए तीखे सवाल पूछे हैं। साथ ही उन्होंने कर्नाटक में बीजेपी की प्रचंड जीत का दावा किया है। 10 मई को कर्नाटक में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर शाह ने कहा कि सभी क्षेत्रों में भारतीय जनता पार्टी के लिए रुझान हैं। इस बार कर्नाटक में बीजेपी पूर्ण बहुमत के साथ आ रही है। कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस को इस तरह की राजनीति नहीं करनी चाहिए। कांग्रेस को कर्नाटक की जनता जवाब देगी।

अमित शाह ने सोमवार (8 मई) को न्यूज़ एजेंसी से बातचीत में कहा कि कांग्रेस मुस्लिम आरक्षण बढ़ाकर 6% करेगी तो कम किसका होगा। ओबीसी का कम करेंगे या लिंगायत का करेंगे। ये प्रचार खत्म होने से पहले कांग्रेस को इस बारे में बताना चाहिए। 4% मुसलिम आरक्षण हमारी पार्टी ने ही खत्म किया है क्योंकि वो गैर-संवैधानिक था। हमारे संविधान में धर्म के आधार पर आरक्षण का कोई प्रावधान नहीं है। कांग्रेस ने तुष्टीकरण की नीति के तहत ये मुस्लिम आरक्षण किया था,जिसको हमने हटा दिया है।

“आरक्षण अब नहीं हटेगा”
शाह ने कहा कि आरक्षण के भीतर आरक्षण हमने बहुत सोच समझकर किया है। हमने अनुसूचित जनजाति के आरक्षण के भीतर आरक्षण में हमने कुछ लिमिट तय किए हैं। इसे कांग्रेस हटाना चाहती है मगर मैं ये स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि एससी के आरक्षण के भीतर जो आरक्षण है,वो नहीं हटेगा। उन्होंने कहा कि हमने कर्नाटक के सभी क्षेत्रों का दौरा किया है और हम राज्य में डबल इंजन सरकार के लिए उत्सुकता देख सकते हैं। कर्नाटक में पीएम मोदी की लोकप्रियता अपार है और ये सीधे तरह से वोट में तब्दील होगा, बीजेपी प्रचंड बहुमत से सरकार बनाएगी।

इसे भी पढ़े   वाराणसी के वाटर पार्क में डूबने से बच्‍चे की मौत

“पीएम मोदी के नेतृत्व पर रखें भरोसा”
केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने जब जब मोदी जी के खिलाफ विषैली भाषा का इस्तेमाल किया है तब तब उसे मुंह की खानी पड़ी है। सिद्धारमैया ने पीएम मोदी को सिर्फ 19 किसानों के नाम भेजे थे, लेकिन बसवराज की सरकार आई तो उन्होंने 54 लाख किसानों के नाम भेजे और 54 लाख करोड़ सीधे उनके बैंक अकाउंट में चले गए। इसलिए आपको पीएम मोदी के नेतृत्व में भरोसा रखना चाहिए।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *