ED ने थर्ड डिग्री टॉर्चर देकर लोगों से जबरन कराए साइन’, AAP सांसद संजय सिंह ने जांच एजेंसियों पर उठाए सवाल

ED ने थर्ड डिग्री टॉर्चर देकर लोगों से जबरन कराए साइन’, AAP सांसद संजय सिंह ने जांच एजेंसियों पर उठाए सवाल
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली । आम आदमी पार्टी लगातार जांच एजेंसियों पर सवाल खड़े कर रही है। बुधवार को आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है। आप सांसद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा कि ईडी ने लोगों को थर्ड डिग्री टॉर्चर देकर, मारपीट करके और उनके परिवार को धमकी देकर बयान लिया है।

चंदन रेड्डी के कान के पर्दे फट गए

संजय सिंह ने कहा कि चंदन रेड्डी हाई कोर्ट में याचिका दाखिल करके बताते हैं कि ईडी ने इनको मारा, इनके परिवार को धमकी दी और कहा, “जैसा हम कहते हैं, वैसे लिख, वरना तेरे परिवार का वो अंजाम करेंगे, तू कहीं मुंह दिखाने लायक नहीं रहेगा।” उन्होंने आगे कहा कि चंदन रेड्डी को इतना मारा गया कि इसके दोनों कान के पर्दे फट गए।

थर्ड डिग्री टॉर्चर देकर कराया गया साइन
आप नेता कहा कि ईडी के हिटलरशाही के गैस चेंबर में थर्ड डिग्री टॉर्चर देकर जबरन साइन कराया गया। इसके बाद कोर्ट में जाकर चंदन ने अपने दुख सुनाए। यहां तक डॉक्टरी जांच कहती हैं कि चंदन रेड्डी को मार-मारके उसके कान के पर्दे फाड़ दिए गए हैं, उसको सुनई नहीं देता है।

इसके साथ ही अरुण पिल्लई का जिक्र करते हुए संजय सिंह ने कहा कि अरुण पिल्लई ने कोर्ट में कहा है कि मुझसे ईडी ने जबरन झूठा बयान लिया है। यहीं नहीं आप सांसद ने कहा कि समीर महेंद्रू के परिवार को प्रताड़ित किया गया। यह सब कोर्ट में समीर ने लिखकर दिया। मनीष सिसोदिया के पीएस रिंकू को प्रताड़ित किया गया।

इसे भी पढ़े   प्रधानमंत्री कार्यालय पर ज्ञापन देने जा रहे कांग्रेसजनों को पुलिस ने रोका,हुई नोकझोक

बाहरी लोग ईडी दफ्तर में कर रहे मारपीट
संजय सिंह ने आगे कहा कि मैं पूछना चाहता हूं कि किसके इशारे पर काम रही है। राघव रेड्डी के बारे में बात करते हुए कहा कि उन्होंने कोर्ट में बताया है कि हमको तो दबाव बनाया जा रहा राजनीतिक नेताओं के नाम लेने के लिए। पूछताछ के दौरान ईडी दफ्तर में कुछ ऐसे भी लोग थे, जो ईडी के अधिकारी नहीं थे, उन्होंने हमारे साथ मारपीट की। कौन-से पार्टी के लोग हैं, जो ईडी के दफ्तर में जाकर मारपीट कर रहे हैं। कौन-से लोग हैं, जो ईडी के दफ्तर में जाकर पूछताछ करते हैं।

आप नेता ने कहा कि सारे प्रमाण कहते हैं कि ED की जांच कूड़ेदान में डाल देनी चाहिए। लोगों द्वारा HC में दी याचिकाएं चिल्ला-चिल्ला कर कह रही हैं कि प्रवर्तन निदेशालय, अरविंद केजरीवाल और दिल्ली सरकार को बदनाम करने के लिए झूठे मुक़दमे बना रही है।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *