Friday, December 2, 2022
Google search engine
Homeराज्य की खबरेंदुल्हन देखने बरेली पहुंचा फर्जी दरोगा अरेस्ट:बेढंगी वर्दी देख शक हुआ;थाने में...

दुल्हन देखने बरेली पहुंचा फर्जी दरोगा अरेस्ट:बेढंगी वर्दी देख शक हुआ;थाने में बोला…

बरेली। बरेली में एक फर्जी दरोगा पकड़ा गया है। वो खुद को दरोगा बताकर शादी के लिए दुल्हन देखने पहुंचा था। युवक 2 महीने से युवती से बातचीत कर रहा था। युवती पेशे से वकील है। उसने ट्रेनिंग सेंटर और थाने से जांच कराई, तो युवक का झूठ सामने आ गया।

इसके बाद युवती ने कहा कि तुम बरेली मुझसे मिलने आना। एक साथ काफी पियेंगे। युवती ने पुलिस बुलाकर युवक को वर्दी में ही अरेस्ट करा दिया।

इस केस को खोलने वाली लड़की पेशे से वकील है। बरेली कचहरी में प्रैक्टिस करती है। उसकी दोस्ती 2 महीने पहले सत्यम तिवारी से हुई। उसने खुद को दरोगा बताया। युवती ने बताया कि मैं ब्राहमण हूं, जिसके बाद आरोपी सत्यम ने कहा कि मैं भी पंडित हूं। दोनों की मैसेंजर में बातचीत होने लगी। आरोपी शादी करने के लिए बात करने लगा, इस पर युवती भी सहमत हो गई। सत्यम ने खुद को बताया कि मैं 2019 बैच का दरोगा हूं और इस समय लखनऊ के हजरतगंज थाने में तैनात हूं। मैं सुपर कॉप है। कई केस सॉल्व किए हैं। लाइम लाइट से दूर रहता है। दरोगा ने अपने वर्दी के फोटो भी युवती को भेजे।

लड़की ने पूछा तुम वर्दी में क्यों आए ?
युवती ने कहा कि मेरे परिवार वाले आपका घर बार देखने आएंगे। उसके बाद आगे बातचीत बढ़ाई जाएगी। युवक ने कहा कि मेरे पिता की मौत हो चुकी है, मम्मी गांव में बनारस में रहती हैं। मैं ही बरेली आ जाता हूं। इसी बीच युवती ने पता कराया तो पता चला कि इस नाम का हजरतगंज थाने में कोई दरोगा नहीं है।

गुरुवार को दरोगा वर्दी पहनकर बरेली पहुंचा। युवती ने कहा कि तुम दरोगा हो तो फिर वर्दी में आने की क्या जरूरत है, क्या कोई लड़की देखने वर्दी में जाता है। इस पर दरोगा हिचकने लगा।

3 बटा 25 की फर्द ने खोली सच्चाई
युवती ने दरोगा से पूछा कि अच्छा मुझे आप पसंद हैं, लेकिन घर परिवार को भी मेरे परिवार वाले देखेंगे। जिसके बाद युवती ने पूछा कि अब तो ट्रेनिंग हो गई। थाने में भी एक साल का प्रशिक्षण पूरा हो चुका है यह बताओ 3 बटा 25 की फर्द कैसे बनती है। इस पर दरोगा भागने लगा। जिसके बाद युवती ने शोर मचाकर पकड़ लिया। सूचना पर कोतवाली पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। जिसके बाद पुलिस फर्जी दरोगा को कोतवाली थाने लेकर पहुंची। यहां दरोगा अपनी पूरी डिटेल तक नहीं दे सका। बोला- मुझसे गलती हो गई।

वो दरोगा नहीं गाड़ी का ड्राइवर निकला
एक महीने पहले आरोपी बरेली होकर गुजर रहा था। वकील लड़की उससे मिलने पहुंची। युवती ने जब ट्रेनिंग सेंटर के बारे में पूछा तो आरोपी टाल गया। उसने सही जानकारी नहीं दी। दरोगा ने वर्दी पर बैज भी गलत तरह से लगा रखे थे। इस पर युवती को मामला संदिग्ध लगा। इसके बाद कोतवाली पुलिस को जानकारी दी।

पुलिस ने जांच की तो पता चला की युवक शादी के लिए दरोगा बनकर बरेली पहुंचा है। आरोपी को अरेस्ट कर फर्जी दरोगा का आई-कार्ड और वर्दी बरामद की है। पुलिस ने बताया कि केस दर्ज कर लिया गया है। सत्यम लखनऊ के आशियाना कॉलोनी में रहकर गाड़ी चलाने का काम करता है।

एसपी ने कहा-हम जांच कर रहे हैं
एसपी सिटी राहुल भाटी ने बताया कि एफआईआर दर्ज कर ली गई है। अभी तक की जांच में आया है कि शादी करने के लिए युवक वर्दी पहनकर दरोगा बनकर बरेली आया था। आगे की जांच भी की जा रही है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img