कॉलेज टॉयलेट में छुपाकर रखा था मोबाइल, महिला प्रोफेसर का बनाया आपत्तिजनक वीडियो

कॉलेज टॉयलेट में छुपाकर रखा था मोबाइल, महिला प्रोफेसर का बनाया आपत्तिजनक वीडियो
ख़बर को शेयर करे

मुरादाबाद। उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद के जीके पीजी कॉलेज में एक महिला एसोसिएट प्रोफेसर का आपत्तिजनक वीडियो बनाए जाने का शर्मनाक मामला सामने आया है। ये वीडियो लेडीज टॉयलेट में छुपाकर रखे गए मोबाइल फोन से शूट किया गया था। पुलिस छानबीन में पता चला है कि कॉलेज के एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी ने मोबाइल फोन को चालू करके लेडीज टॉयलेट में छुपाकर वीडियो बनाया था। एसोसिएट प्रोफेसर को जब इसकी भनक लगी तो उन्होंने पहले कॉलेज प्रबंधन को खबर दी फिर पुलिस के पास पहुंचीं।

पुलिस ने कॉलेज के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी राजेश कुमार का मोबाइल फोन चेक किया तो उसमें टॉयलेट में शूट की गई वीडियो मिली है। वहां एक मोबाइल फोन छुपा हुआ मिला। जो चालू हालत में था. मोबाइल को इस तरह सेट किया गया था कि उससे टॉयलेट यूज करने वाले की वीडियो रिकॉर्ड हो सके। मामला पकड़ में आते ही कॉलेज में हड़कंप मच गया। इसके बाद पुलिस ने एसोसिएट प्रोफेसर की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ मझोला थाने में एफआईआर दर्ज कर ली है। आरोपी राजेश कुमार कॉलेज के लॉ डिपार्टमेंट में अंशकालिक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के पद पर तैनात था। पुलिस राजेश की तलाश में छापामारी कर रही है।

क्या है पूरा मामला?
दरअसल, यह मामला मुरादाबाद के थाना मझोला क्षेत्र का है, जहां पर के.जी.के महाविद्यालय में तैनात एसोसिएट प्रोफेसर का वीडियो बनाने का मामला सामने आया है। मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी की तलाश शुरू कर दी है। बता दें कि यह वीडियो महाविद्यालय के चपरासी के द्वारा बनाया गया था। मामले की भनक तब लगी जब एसोसिएट प्रोफेसर ने चपरासी को लेडीज टॉयलेट से निकलते हुए देखा। जिसके बाद उसे टोका तो चपरासी ने बहाना बना दिया। इसी आधार पर प्रोफेसर ने लेडीज टॉयलेट यूज करते वक्त उसे सही से चेक किया। एसोसिएट प्रोफेसर को जब इसकी भनक लगी तो उन्होंने पहले कॉलेज प्रबंधन को खबर दी फिर पुलिस के पास पहुंचीं।

इसे भी पढ़े   नेजल वैक्सीन INCOVACC की कीमतें हुईं तय? निजी अस्पतालों में इतने रुपए में लगेगा टीका

आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज
एसएसपी मुरादाबाद हेमराज मीणा ने बताया कि थाना मझोला में एक एफआईआर प्राप्त हुई है, जिसमें एक महिला प्रोफेसर के द्वारा ये बताया गया है कि टायलेट में जब वो अंदर गई थी तो वहां पर एक मोबाइल चालू हालत में पाया गया और जब जांच की गई तो वो मोबाइल एक फोर्थ क्लास कर्मचारी है। इसी के साथ सुसंगत धाराओं में मामला दर्ज किया गया है, जिस व्यक्ति पर आरोप है वो फरार है। उसकी गिरफ्तारी के लिए टीम लगी है, जल्द ही उसकी गिरफ्तारी की जाएगी। जो मोबाइल है उस पर पैटर्न लॉक लगा हुआ है। साइबर सेल के माध्यम से उसे खोलने का प्रयास किया जा रहा है। जैसी भी जानकारी प्राप्त होगी उसमे आगे की इन्वेस्टिगेशन की जाएगी।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *