हिट एंड रन केस का आरोपी मिहिर शाह गिरफ्तार,पुलिस ने दबोचा

हिट एंड रन केस का आरोपी मिहिर शाह गिरफ्तार,पुलिस ने दबोचा
ख़बर को शेयर करे

मुंबई। मुंबई BMW हिट-एंड-रन के मुख्य आरोपी मिहिर शाह को पुलिस ने पालघर से गिरफ्तार कर लिया है। घटना के लगभग 72 घंटे बाद आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ा। मिहिर शाह पर आरोप है कि उसने अपनी लग्जरी सेडान कार से रविवार सुबह वर्ली में एक दोपहिया वाहन को कुचल दिया। जिसमें एक 45 वर्षीय महिला की मौत हो गई और उसका पति घायल हो गया।

मिहिर शाह गिरफ्तार
बता दें कि मिहिर शाह मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के शिवसेना गुट के नेता राजेश शाह का बेटा है। हादसे के बाद से मिहिर शाह फरार चल रहा था। पुलिस ने आरोपी को दबोचने के लिए कई टीमें बनाई थीं। आखिरकार मंगलवार को उसकी लोकेशन पालघर में मिली और उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

घटना के बाद से था फरार
मिहिर शाह को वर्ली पुलिस स्टेशन ले जाया गया है। पुलिस का मानना है कि हादसे के बाद मिहिर शाह उसकी मां और उसकी बहन एक साथ पालघर के लिए निकल थे। हो सकता है इन लोगों ने ही मिहिर शाह को छिपने में मदद की हो। सूत्रों की मानें तो मिहिर शाह के साथ कुछ अन्य लोगों को भी गिरफ्तार किया गया है। मिहिर के पिता की गिरफ्तारी पहले ही हो चुकी है। गिरफ्तारी के कुछ देर बाद ही उन्हें जमानत मिल गई थी।

प्रदीप नखवा ने बयां किया दर्द
इससे पहले बीएमडब्ल्यू कार की टक्कर के कारण मारी गई कावेरी नखवा के पति प्रदीप नखवा ने कहा था कि ड्राइवर को कठोर सजा मिलनी चाहिए। अगर उसने कार रोक दी होती तो उनकी पत्नी बच सकती थी। नखवा ने घटना का जिक्र करते हुए बताया था कि वह पत्नी के साथ क्रॉफर्ड मार्केट से मछली खरीदकर लौट रहे थे, तभी सुबह करीब साढ़े पांच बजे एक तेज रफ्तार कार ने उनके दोपहिया वाहन को पीछे से टक्कर मार दी। कावेरी दोपहिया वाहन पर पीछे बैठी थीं।

इसे भी पढ़े   ग्लोबल संकेतों और आईटी स्टॉक्स में बिकवाली के चलते लाल निशान में बंद हुआ बाजार,सेंसेक्स 65000 के नीचे फिसला

मेरी पत्नी अगले पहिये के नीचे फंस गई..
उन्होंने कहा कि हमारी गाड़ी 30 से 35 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से चल रही थी, तभी पीछे से एक तेज रफ्तार कार ने हमें टक्कर मार दी। टक्कर की वजह से हम कार के बोनट पर गिर गए। चालक ने ब्रेक दबा दिया, जिससे मैं तो गिर गया, लेकिन मेरी पत्नी अगले पहिये के नीचे फंस गई। प्रदीप ने बताया कि उन्होंने बोनट पर जोर से धक्का देकर कार रोकने की कोशिश की, लेकिन चालक ने कार नहीं रोकी और कावेरी को घसीटते हुए सी लिंक के वर्ली छोर की ओर ले गया।

मेरी पत्नी बच सकती थी…
उन्होंने कहा कि मैं कार के पीछे दौड़ा और ड्राइवर से कार रोकने को कहा। अगर उसने कार रोकी होती तो मेरी पत्नी बच सकती थी। उन्होंने दावा किया कि कार को 24-वर्षीय युवक चला रहा था, जो कार का मालिक था, जबकि एक अन्य व्यक्ति उसके बगल में बैठा था। प्रदीप नखवा ने दुख और गुस्से से भरी आवाज में कहा, “मेरे दो बच्चे हैं। हमने सब कुछ खो दिया। मेरी पत्नी चली गई, लेकिन आरोपी को इस दुर्घटना के लिए कड़ी सजा मिलनी चाहिए।”


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *