कलियुगी मां ने जिंदा बेटी को दी जलसमाधि, बोरे में शव बांध नाले में दिया फेंक, सामने आया ममता को शर्मसार कर देने वाला खुलासा

कलियुगी मां ने जिंदा बेटी को दी जलसमाधि, बोरे में शव बांध नाले में दिया फेंक, सामने आया ममता को शर्मसार कर देने वाला खुलासा
ख़बर को शेयर करे

शक्तिनगर (सोनभद्र) । पड़ोसी जनपद सिंगरौली (मध्यप्रदेश) से ममता को शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है। यहां एक मां ने महज, क्रोध के चलते अपनी आठ माह की पुत्री को पानी भरे टब में डूबाकर मार डाला। वारदात को किसी को पता न चलने पाए, इसके लिए शव को बोरे में बांधकर, घर से कुछ दूर स्थित नाले में लेकर फेंक दिया और घर वालों को बेटी के लापता होने की कहानी सुना दी लेकिन वारदात के 12 घंटे बाद जब मां को अपने किए पर पछतावा हुआ तो उसने फूट-फूटकर रोते हुए, स्वयं ही हत्या की पूरी कहानी परिवार वालों के सामने बयां कर डाली। मामला सिंगरौली जिले के बरगवां थाना क्षेत्र का है। सिंगरौली पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजने के साथ ही, आरोपी मां को हिरासत में लेकर पूछताछ में जुटी हुई है।

सनसनीखेज वारदात की यह है पूरी कहानी
बुधवार की दोपहर सिंगरौली की बरगवां पुलिस को सूचना मिली कि हिण्डाल्को महान अल्युमिनियम फैक्ट्री (सोनभद्र की हिण्डाल्को रेणुकूट से जुड़ी हिण्डाल्को ग्रुप की एक नई यूनिट) में कार्यरत रामलला तिवारी की पत्नी मधु तिवारी बुधवार की दोपहर घर में कपड़ा धो रही थी। इस दौरान उन्होंने अपनी आठ माह की बच्ची को कमरे में लिटाया हुआ था। कपड़े की धुलाई करने के बाद, वह बाथरूम से बाहर आई तो देखा कि उनकी बेटी गायब थी। देर शाम तक खोजबीन के बाद भी जब लापता बेटी का कोई पता नहीं चला तो परिवार वाले बरगवां थाने पहुंचे और उसे अगवा किए जाने की आशंका जताते हुए कार्रवाई की मांग की। सिंगरौली के एसपी निवेदिता गुप्ता के संज्ञान में मामला आया तो उन्होंने भी प्रंकरण में कार्रवाई के निदेश दिए जिसके क्रम में बरगवां निरीक्षक विद्या वारिधि तिवारी ने गुमसुदगी का मामला दर्ज कर प्रकरण की छानबीन शुरू कर दी।

इसे भी पढ़े   सोनिया ने खींची लक्ष्मण रेखा,यहां खूब बोलिए,पर बाहर एक ही संदेश देना

मां को हुआ गलती को एहसास तो उसने खुद बयां कर दिया अपराध
मां मधु तिवारी को बुधवार की आधी रात जब अपनी गलती का एहसास हुआ तो वह फूट-फूट कर रो पड़ी। पति रामलला तिवारी ने पहले समझा कि बेटी के अचानक से लापता होने का गम है लेकिन जब उसने रोने के साथ ही अपना अपराध बयां करना शुरू किया तो वहां मौजूद हर शख्स की आंखें हैरत से फटी रह गईं। बृहस्पतिवार को मामले की जानकारी बरगवां पुलिस को दी गईं। निरीक्षक बरगवां विद्यावारिधि ने आरोपी मां से उसके घर जाकर पूछताछ की और उसकी निशानदेही पर घर से कुछ दूर नाले में बोरे में बांध कर फेंके गए अबोध बच्ची का शव बरामद कर लिया। मां को भी पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया गया। पुलिस का दावा है कि परिवार से जुड़े मसले पर अचानक मधु को इतना क्रोध आ गया कि उसने ही जिंदा बेटी की जलसमाधि दे डाली। किए गए वारदात को किसी को जानकारी न होने पाए, इसके लिए शव को नाले में ले जाकर फेंक दिया।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *