थाईलैंड में अरेस्ट हुआ माफिया रवि काना! इस एक मुकदमे ने खत्म कर दिया काला साम्राज्य

थाईलैंड में अरेस्ट हुआ माफिया रवि काना! इस एक मुकदमे ने खत्म कर दिया काला साम्राज्य
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। यूपी के ग्रेटर नोएडा से इस वक्त स्क्रैफ माफिया रवि काना के बारे में बड़ी खबर आ रही है। सूत्रों का दावा है कि थाईलैंड में छिपे रवि काना और उसकी गर्लफ्रेंड काजल झा को वहां की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। इस खबर के सामने आने के बाद गौतमबुद्धनगर पुलिस ने सीबीआई के जरिए उसे भारत प्रत्यर्पित करवाने की तैयारी शुरू कर दी है। हालांकि रवि काना की अरेस्टिंग की पुलिस ने फिलहाल कोई पुष्टि नहीं की है। उसकी पत्नी मधु नागर को पुलिस पहले ही अरेस्ट कर चुकी है।

जान का खतरा बताकर मांगी पुलिस सुरक्षा
बता दें कि रवि काना दादूपुर के रहने वाले हरेंद्र प्रधान का छोटा भाई है। स्क्रैप कारोबार में लगे हरेंद्र प्रधान की विरोधी सुंदर भाटी गैंग ने वर्ष 2015 में हत्या कर दी थी। इसके बाद स्क्रैप और सरिया तस्करी का सारा काम रवि काना ने संभाल लिया। रवि काना हरेंद्र प्रधान की हत्या में प्रमुख गवाह भी है। उसने अपनी जान का खतरा बताते हुए सुरक्षा की मांग की। जिसके बाद सरकार ने उसे और उसकी भाभी बेवन नागर को पुलिस सुरक्षा उपलब्ध करवा दी थी।

स्क्रैप कारोबार का बना एकछत्र बादशाह
अपने स्क्रैप के काले धंधे को और बढ़ाने के लिए उसने सुनियोजित तरीके से अपनी भाभी बेवन नागर को बीजेपी में शामिल करवा दिया था। इसके बाद पूरे जिले में हर तीज-त्योहार पर बीजेपी के बड़े नेताओं के साथ बेवन नागर रवि काना के फोटो नजर आने लगे थे। इस राजनीतिक संपर्क और पुलिस सुरक्षा का रवि काना ने पूरा फायदा उठाया और ग्रेटर नोएडा में उसकी तूती बोलने लगी। उसके अलावा किसी और को कंपनियों से निकलने वाले स्क्रैप का ठेका लेने की हिम्मत नहीं होती थी।

इसे भी पढ़े   कोर्ट ने मुर्तजा की रिमांड 5 दिन बढ़ाई,अब 16 अप्रैल तक रहेगा एटीएस की कस्‍टडी में

मुकदमा दर्ज होने के बाद शुरू हुए बुरे दिन
जिले में बड़े पद पर तैनात रहे एक आईपीएस अफसर के साथ रवि काना के घनिष्ठ रिश्तों की भी खूब चर्चा उड़ी। इसकी शिकायत आने पर शासन ने उस अधिकारी का जिले से बाहर तबादला कर दिया था और उनकी जगह नए अफसर की तैनाती की। करीब 6 महीने पहले रवि काना के खिलाफ एक महिला ने गैंगरेप का मुकदमा दर्ज करवाया और इसके साथ ही उसके दुर्दिन शुरू हो गए। शासन के निर्देश पर उसकी पुलिस सुरक्षा हटा ली गई। साथ ही उसकी अवैध संपत्तियों और काले धंधों की पड़ताल भी शुरू हो गई।

120 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति जब्त
इसके बाद से गौतमबुद्धनगर पुलिस अब तक 120 करोड़ से अधिक की संपत्ति को कुर्क कर चुकी है। उसके काले कारोबार में शामिल पत्नी मधु नागर समेत रवि काना गिरोह के 15 बदमाशों को भी पुलिस अरेस्ट कर चुकी है। रवि काना गिरोह पर अब तक 11 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हो चुके हैं। सूत्रों का कहना है कि स्क्रैप के इस काले कारोबार में रवि काना की गर्लफ्रेंड काजल झा भी बराबर की हिस्सेदार रही है। वह भी उसके साथ फरार है। पुलिस रवि काना के खिलाफ कोर्ट में 500 पेज की चार्जशीट दायर कर चुकी है। ऐसे में रवि काना और काजल झा के प्रत्यर्पण के बाद इस काले धंधे के काफी राज सामने आ सकते हैं।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *