बीएसए के निरीक्षण में लापता मिले कई शिक्षक,हुई कार्रवाई

बीएसए के निरीक्षण में लापता मिले कई शिक्षक,हुई कार्रवाई
ख़बर को शेयर करे

जौनपुर। जनपद स्तर एवं सीयूजी नंबर पर लगातार प्राप्त हो रही शिकायतों के क्रम में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ0 गोरखनाथ पटेल द्वारा विकासखंड रामपुर के बेसिक शिक्षा परिषद उत्तर प्रदेश के अधीन संचालित परिषदीय विद्यालयों का स्थलीय निरीक्षण कर शिक्षकों की उपस्थिति, छात्र नामांकन, स्कूल रेडीनेस प्रोग्राम, एवं आगामी लोकसभा चुनाव के तैयारियों की समीक्षा की गई।

बीएसए द्वारा सर्वप्रथम कंपोजिट विद्यालय नेवादा का निरीक्षण प्रातः 10.20 पर किया गया। बीएसए के निरीक्षण में विद्यालय में कार्यरत सहायक अध्यापक प्रमोद कुमार राय एवं शांति भूषण तथा अनुदेशक शिवनारायण दूबे, अजय कुमार एवं शांति देवी बिना किसी पूर्व सूचना के विद्यालय पर अनधिकृत रूप से अनुपस्थित पाए गए। परिणाम स्वरूप जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा अनुपस्थित समस्त शिक्षकों को ऑनलाइन प्रेरणा निरीक्षण माड्यूल पर अनुपस्थित करते हुए वेतन बाधित करने की कार्यवाही की गई।

विद्यालय के प्रधानाध्यापक द्वारा संबंधित शिक्षकों की अनुपस्थिति कार्मिक उपस्थित पंजिका पर दर्ज नहीं की गई प्राप्त हुई। विद्यालय में कुल नामांकित 230 छात्रों के सापेक्ष 100 छात्रों की उपस्थिति छात्र उपस्थिति पंजिका में विद्यालय द्वारा दर्ज की गई पाई गई, जबकि जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डा0 गोरखनाथ पटेल द्वारा छात्रों की उपस्थिति का सत्यापन किए जाने पर विद्यालय में मौके पर कुल 45 छात्र ही उपस्थित पाए गए। अनुपस्थित छात्रों का विवरण छात्र उपस्थिति पंजिका में विद्यालय द्वारा दर्ज नहीं किया गया पाया गया। विद्यालय में रंगाई पुताई का अभाव एवं शौचालय गंदा पाया गया। कंपोजिट धनराशि के आय व्यय से संबंधित अभिलेखों को प्रधानाध्यापक द्वारा अपने घर पर रखे होने के संबंध में बीएसए को अवगत कराया गया।

इसे भी पढ़े   केंद्रीय मंत्री ने लव जिहाद को बताया ‘आतंकवाद का नया रूप’,कहा…

शौचालय के साफ-सफाई हेतु मौके पर ही बीएसए द्वारा संबंधित ग्राम प्रधान से वार्ता कर सफाई कर्मी से शौचालय एवं विद्यालय परिसर की साफ-सफाई कराए जाने हेतु निर्देशित किया गया। बीएसए द्वारा कक्षा 7 में अध्ययनरत छात्रों से गणित के प्रश्न पूछे जाने पर कुछ ही छात्रों द्वारा प्रश्नों का सही उत्तर प्रस्तुत किया जा सका। विद्यालय में प्राप्त उपरोक्त कमियों के कारण बीएसए द्वारा प्रधानाध्यापक पर अनुशासनात्मक कार्यवाही/कठोर स्पष्टीकरण जारी करते हुये एक सप्ताह का समय सुधार हेतु दिया गया।

प्राथमिक विद्यालय ढूंढापुर, भानपुर का औचक निरीक्षण बीएसए द्वारा पूर्वाह्न 11.20 पर किया गया। विद्यालय के प्रधानाध्यापक राम श्रृंगार एवं सहायक अध्यापक रत्नेश कुमार निरीक्षण के दौरान विद्यालय पर बिना किसी पूर्व सूचना के अनुपस्थित पाए गए। बीएसए द्वारा ऑनलाइन प्रेरणा निरीक्षण मॉड्यूल पर उक्त शिक्षकों की अनुपस्थिति दर्ज करते हुए कार्यवाही की गई। विद्यालय की मध्यान्ह भोजन पंजिका में निरीक्षण तिथि को लाभार्थी छात्रों की संख्या 30 दर्ज की गई पाई गई। बीएसए द्वारा सत्यापन किए जाने पर मौके पर विद्यालय में सिर्फ 5 छात्र ही विद्यालय में उपस्थित पाए गए। विद्यालय में भौतिक रूप से उपस्थित छात्रों के सापेक्ष मध्यान्ह भोजन पंजिका में लाभार्थी छात्रों का विवरण अधिक दर्ज किये जाने के कारण बीएसए द्वारा प्रधानाध्यापक के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही/स्पष्टीकरण जारी करते हुये एक सप्ताह का समय सुधार हेतु दिया गया। विद्यालय द्वारा छात्रों की उपस्थिति से संबंधित विवरण को छात्र उपस्थिति पंजिका पर विद्यालय द्वारा अद्यतन नहीं किया जा रहा पाया गया। कंपोजिट धनराशि के आय व्यय से संबंधित अभिलेखों का अवलोकन जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ0 गोरखनाथ पटेल द्वारा प्रधानाध्यापक की अनुपस्थिति की वजह से नहीं किया जा सका।

इसे भी पढ़े   हर-हर महादेव’ और ‘जय श्रीराम’ के उद्घोष से गूँजी काशी

कंपोजिट विद्यालय पर परमालपुर का निरीक्षण जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा पूर्वाह्न 11.45 पर किया गया। विद्यालय में कार्यरत समस्त कर्मचारी विद्यालय में उपस्थित पाए गए। विद्यालय में नामांकित कुल 294 छात्रों के सापेक्ष कुल 130 छात्र उपस्थित पाए गए। छात्र उपस्थिति पंजिका के अवलोकन में बीएसए द्वारा पाया गया कि विद्यालय द्वारा निरीक्षण तिथि के किसी भी अनुपस्थित छात्र का का विवरण पंजिका पर अद्यतन नहीं किया गया है। जिसके कारण जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ0 गोरखनाथ पटेल द्वारा संबंधित प्रधानाध्यापक पर कार्यवाही की गई। विद्यालय को प्राप्त कंपोजिट धनराशि 75000 के सापेक्ष आय-व्यय से संबंधित अभिलेख विद्यालय द्वारा अवलोकित नहीं कराये जा सके। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा गुरुवार को किए गए निरीक्षण से संबंधित किसी भी विद्यालय द्वारा कंपोजिट धनराशि के आय-व्यय से संबंधित अभिलेखों को अवलोकित न कराए जाने से जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ0 गोरखनाथ पटेल द्वारा खंड शिक्षा अधिकारी रामपुर गौतम प्रसाद को विकासखंड के समस्त विद्यालयों के कंपोजिट धनराशि के आय-व्यय से संबंधित पंजिका को अवलोकित कर एक सप्ताह में आख्या प्रस्तुत करने हेतु निर्देशित किया गया।

बीएसए डॉ0 गोरखनाथ पटेल द्वारा प्राथमिक विद्यालय सकरा का निरीक्षण अपराह्न 12.30 पर किया गया। विद्यालय के प्रभारी प्रधानाध्यापक अरविंद कुमार कार्मिक उपस्थिति पंजिका पर अपनी उपस्थिति दर्ज कर निरीक्षण के दौरान विद्यालय पर अनधिकृत रूप से अनुपस्थित पाए गए। जिसके कारण बीएसए द्वारा संबंधित प्रधानाध्यापक के विरुद्ध कार्यवाही की गई। विद्यालय में कार्यरत शेष समस्त कर्मचारी मौके पर उपस्थित पाए गए। विद्यालय में नामांकित कुल 75 छात्रों के सापेक्ष सिर्फ 33 छात्र मौके पर उपस्थित पाए गए, जबकि विद्यालय द्वारा 25 अप्रैल 2024 से छात्रों की उपस्थिति से संबंधित विवरण छात्र उपस्थिति पंजिका पर अद्यतन नहीं किया गया पाया गया। विद्यालय में बाउंड्री वाल का अभाव पाये जाने पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ0 गोरखनाथ पटेल द्वारा मौके पर ही ग्राम प्रधान एवं खंड शिक्षा अधिकारी से वार्ता कर बाउंड्रीवॉल के निर्माण हेतु उप जिलाधिकारी एवं संबंधित खंड विकास अधिकारी से समन्वय स्थापित करते हुए बाउंड्रीवॉल का निर्माण यथाशीघ्र कराए जाने हेतु निर्देशित किया गया।

इसे भी पढ़े   कैबिनेट मंत्री वाराणसी दौरे पर,सर्किट हाउस में की प्रेस कॉन्फ्रेंस

ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *