म्याऊं म्याऊं ड्रग,2 करोड़ रुपये प्रति किलो दाम…नशे का ये कॉकटेल है बेहद खतरनाक

म्याऊं म्याऊं ड्रग,2 करोड़ रुपये प्रति किलो दाम…नशे का ये कॉकटेल है बेहद खतरनाक
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। म्याऊं-म्याऊं…उस ड्रग का नाम है, जिसका नशा इन दिनों युवाओं के बीच तेजी से बढ़ रहा है। सोमवार को महाराष्ट्र पुलिस और यूपी एसटीएफ ने वाराणसी से इसी म्याऊं-म्याऊं ड्रग की इतनी बड़ी खेप पकड़ी, जिसकी कीमत लाख-10 लाख नहीं,बल्कि 30 करोड़ बताई जा रही है। पहले इस ड्रग की कीमत इतनी ज्यादा नहीं थी, लेकिन युवाओं के बीच इसका चलन तेजी से बढ़ा और आज यही ड्रग 2 करोड़ रुपए प्रति किलो के रेट पर मिलती है। कुछ लोग इसे इसलिए भी इस्तेमाल करते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि इससे उनकी यौन शक्ति बढ़ जाती है। आखिर इस ड्रग में ऐसा क्या है? इस ड्रग का सेक्स से क्या कोई कनेक्शन है? ये इतनी महंगी क्यों मिलती है? आइए इस ड्रग के बारे में सब कुछ जानते हैं।

सिथेंटिक खाद कैसे बन गई नशे की गोली
सबसे पहले यह जान लीजिए कि म्याऊं-म्याऊं नाम की ये ड्रग कोकीन या हेरोइन की तरह प्राकृतिक नशीला पदार्थ नहीं है, बल्कि एक सिंथेटिक ड्रग है और इसका असली नाम मेफेड्रोन है। इसे कुछ खास पौधों के कीड़े मारने के लिए एक सिंथेटिक खाद के तौर पर तैयार किया गया था। बाद में इसे नशे के तौर पर इस्तेमाल किया जाने लगा और देखते ही देखते नशेड़ियों के बीच इस ड्रग की मांग बढ़ने लगी। इसकी डिमांड इसलिए भी तेजी से बढ़ी, क्योंकि शुरुआत में बाकी ड्रग्स के मुकाबले ये काफी सस्ती थी। नशे में मदहोश कर देने वाली ये ड्रग बेहद खतरनाक भी है और एनडीपीएस एक्ट के तहत इसपर बैन लगा हुआ है।

इसे भी पढ़े   रिश्वत लेने पर दो भारतीय श्रमिकों पर जुर्माना लगाया गया

म्याऊं-म्याऊं ड्रग इतनी महंगी क्यों?
पहले इस ड्रग की पहचान खाद के तौर पर थी,तो सस्ती थी। लेकिन, जब ये नशे के तौर पर बिकने लगी तो इसके रेट भी बढ़े। हालांकि, बेहद महंगी ड्रग होने के बावजूद इस ड्रग की डिमांड काफी ज्यादा है। डिमांड बढ़ने की सबसे बड़ी वजह है, इसका नशा। म्याऊं-म्याऊं को लेकर जो जानकारी उपलब्ध है, उसके मुताबिक इसका नशा कुछ अलग होता है और इसे लेने के बाद शरीर में उत्तेजना एकदम तेजी से बढ़ जाती है। हाल के मामलों को देखें तो मुंबई में इस ड्रग्स की सबसे ज्यादा रिकवरी हुई है।

क्या इसका सेक्स से कोई कनेक्शन है?
म्याऊं-म्याऊं के नशे को लेकर कुछ लोग सोचते कि इससे उनकी यौन शक्ति बढ़ जाती है, लेकिन ऐसा नहीं है। इसका नशा काफी हाई होता है और शरीर में उत्तेजना पैदा कर देता है। लेकिन, इस ड्रग को तैयार करने में जिन केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है, वो दिल से लेकर शरीर के बाकी अंगों पर खतरनाक असर डालते हैं। म्याऊं-म्याऊं को लगातार लेने से दिमाग पर भी गहरा असर पड़ता है। इसके अलावा गुस्से में कंट्रोल खो देना, जिम्मेदारियों को लेकर लापरवाही, किसी बात पर फोकस ना होना इसके आम साइड इफेक्ट हैं।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *