नाबालिग लड़की का किडनैप,दो दिन तक बंधक बना किया रेप,तालाब में फेंका

नाबालिग लड़की का किडनैप,दो दिन तक बंधक बना किया रेप,तालाब में फेंका
ख़बर को शेयर करे

रायपुर। छत्तीसगढ़ में एक 16 साल की नाबालिग लड़की से रेप का मामला सामने आया है। घटना गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले की है। पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि 16 साल की एक लड़की का अपहरण कर लिया गया। उसे एक घर में बंधक बनाकर रखा गया,जहां उसके साथ बार-बार बलात्कार किया गया। बाद में आरोपी ने उसके साथ मारपीट की। इस दौरान लड़की बेहोश हो गई तो उसे मृत समझकर एक तालाब में फेंक दिया। हालांकि बेहोश होने के बावजूद पीड़िता तालाब में डूबी नहीं। तालाब में लड़की को गांववालों ने देखा तो पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने लड़की को अस्पताल में भर्ती कराया है। उसके शरीर पर गंभीर चोटों के निशान हैं। इस मामले में पुलिस ने मामला दर्ज कर एक 26 वर्षीय आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की मां फरार है। उस पर अपने बेटे को रेप के लिए उकसाने का आरोप है।

शाम को पैदल घर जा रही थी
पुलिस को दिए पीड़िता के बयान के मुताबिक,28 दिसंबर की शाम को नाबालिग पैदल घर जा रही थी, तभी आरोपी ने उसे लिफ्ट की पेशकश की। उसने मना कर दिया लेकिन आरोपी ने उसे घर छोड़ने का झूठ बोलकर अपनी बाइक पर बैठा लिया। बाद में आरोपी उसे घर ले जाने के बजाय पास के जंगल में ले गया,जहां उसने उसके साथ रेप किया। फिर उसे जबरन रायपुर से लगभग 220 किमी दूर पेंड्रा क्षेत्र में अपने घर ले गया,जहां उसने उसे दो दिनों तक बंद रखा और उसके साथ बार-बार बलात्कार किया।

इसे भी पढ़े   प्यार के लिए जान कुर्बान कर दी..झूल गए फंदे से,होटल के कमरे में मिला प्रेमी युगल का शव

एडिशनल एसपी मनीषा ठाकुर रावटे ने बताया कि पीड़िता ने पुलिस को बताया कि जब उसने विरोध किया तो उसे बेरहमी से पीटा गया और धमकी दी गई। जांचकर्ताओं का कहना है कि आरोपी की मां इस सब की गवाह थी, लेकिन उसने न तो आरोपी बेटे को रोकने की कोशिश की, न ही नाबालिग को बचाया और न ही पुलिस को सूचना दी।

तालाब में फेंक दिया:पुलिस
पुलिस का कहना है कि दो दिनों तक बलात्कार और पिटाई के बाद नाबालिग पीड़िता बेहोश हो गई। इस पर आरोपी मां और बेटे को लगा कि वह मर गई है। इसलिए उन्होंने उसे एक तालाब में फेंक दिया। स्थानीय लोगों ने उसे तालाब के किनारे पाया और पुलिस को सूचना दी। पुलिस मौके पर पहुंची और पीड़िता को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसका इलाज चल रहा है।

आरोपी की मां फरार:पुलिस
एडिशनल एसपी मनीषा ठाकुर रावटे ने कहा कि लड़की के माता-पिता ने 28 दिसंबर को पुलिस को उसके लापता होने की सूचना दी थी। पीड़िता बयान देने के लिए पर्याप्त रूप से स्वस्थ हो गई, तो पुलिस ने शिकायत दर्ज की। आरोपी 26 वर्षीय व्यक्ति को पोक्सो अधिनियम के तहत गिरफ्तार कर लिया। उसकी मां का अभी तक पता नहीं चल सका है। वो फरार है।


ख़बर को शेयर करे

Related articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *