पवार बोले- अपने करिश्मे की वजह से 2014 में जीते थे मोदी, उनकी डिग्री पर सवाल उठाना गलत

पवार बोले- अपने करिश्मे की वजह से 2014 में जीते थे मोदी, उनकी डिग्री पर सवाल उठाना गलत
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली | प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के नेता अजीत पवार का साथ मिल गया है। पवार ने कहा कि मंत्रियों की डिग्री पर सवाल उठाना सही नहीं है। लोगों को इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि किसी नेता ने अपने कार्यकाल में क्या हासिल किया है। पवार ने पीएम मोदी का भी जिक्र किया। कहा कि 2014 में अपने करिश्मा की वजह से वह चुनाव जीते थे। डिग्री के आधार पर किसी ने उन्हें वोट नहीं दिया था।

पवार ने क्या-क्या कहा?
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की डिग्री के बारे में रविवार को जनसभा को संबोधित करते हुए अजित पवार ने कहा, ‘साल 2014 में क्या जनता ने प्रधानमंत्री मोदी को उनकी डिग्री के आधार पर वोट दिया था? उनका जो करिश्मा था, उससे उन्हें मदद मिली और वो चुनाव जीतें।’

उन्होंने कहा, ‘अब वो नौ साल से देश का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। उनकी डिग्री के बारे में पूछना उचित नहीं है। हमें उनसे महंगाई और बेरोजगारी जैसे मुद्दों पर सवाल करना चाहिए। मंत्री की डिग्री कोई महत्वपूर्ण मुद्दा नहीं है।’

उन्होंने आगे पूछा, ‘अगर हमें उनकी डिग्री पर स्पष्टता मिलती है तो क्या महंगाई कम होगी? क्या उनकी डिग्री का स्टेटस जानने के बाद लोगों को नौकरी मिलेगी?’

केजरीवाल ने उठाए थे सवाल
बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री मोदी की डिग्री को लेकर सवाल उठाए थे। उन्होंने कहा था कि पीएम मोदी को अपने कॉलेज की डिग्रियों को जनता के बीच रखना चाहिए।

इसे भी पढ़े   जेपी नड्डा बोले- राहुल में अहंकार बड़ा और समझ छोटी, राजनीतिक फायदे के लिए किया OBC समाज का अपमान

दिल्ली सीएम ने अपनी ट्वीट में कहा, ‘क्या देश को यह जानने का भी अधिकार नहीं है कि उनके पीएम ने कितनी पढ़ाई की है? उन्होंने अदालत में अपनी डिग्री दिखाने का कड़ा विरोध किया… क्यों? और जो उनकी डिग्री देखने की मांग करेंगे उन पर जुर्माना लगाया जाएगा? यह क्या हो रहा है? अनपढ़ या कम पढ़ा-लिखा पीएम देश के लिए बहुत खतरनाक है।’


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *