विपक्षी गठबंधन I.N.D.I.A. ने मायावती से किया संपर्क,BSP ने रखी 40 सीटों की शर्त

विपक्षी गठबंधन I.N.D.I.A. ने मायावती से किया संपर्क,BSP ने रखी 40 सीटों की शर्त
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। सूत्रों के मुताबिक,विपक्षी गठबंधन I.N.D.I.A.ने बड़ा दांव चलते हुए बीएसपी सुप्रीमो मायावती से संपर्क किया है। लेकिन मायावती ने यूपी में 40 लोकसभा सीटें देने वाली शर्त विपक्षी गठबंधन के सामने रख दी है। मायावती 40 सीटों पर टिकट चाहती हैं। 31 अगस्त और 1 सितंबर को होने वाली विपक्षी गठबंधन की बैठक में मायावती को लेकर चर्चा हो सकती है। हालांकि, पहले मायावती ने अकेले चुनाव लड़ने की बात कही थी. लेकिन,अब विपक्षी गठबंधन I.N.D.I.A. मायावती को अपने साथ लाने की कवायद शुरू कर दी है।

450 लोकसभा सीटों पर होगा एक कैंडिडेट
सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे गठबंधन के चेयरमैन हो सकते हैं। गठबंधन ने मायावती से भी संपर्क साधा है। पर मायावती यूपी की 80 में से 40 लोकसभा सीटें अपनी पार्टी के लिए मांग रही हैं। इस पर मुंबई की बैठक में चर्चा होगी. सूत्रों के मुताबिक,ओडिशा, तेलंगाना,आंध्र प्रदेश और उत्तर पूर्व को छोड़कर देशभर से लगभग 450 लोकसभा सीटों की पहचान हो चुकी है, जहां इंडिया गठबंधन से सिंगल कैंडिडेट लोकसभा चुनाव में उतारे जाएंगे।

I.N.D.I.A. गठबंधन का होगा एक झंडा
सूत्रों के मुताबिक, I.N.D.I.A. गठबंधन मुंबई की मीटिंग में 2024 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को मात देने के लिए रणनीति बनाएगा। मुंबई की बैठक में इंडिया गठबंधन का एक झंडा तय हो जाएगा। राष्ट्रीय झंडे से मिलता-जुलता इंडिया गठबंधन का झंडा हो सकता है। खबर है कि I.N.D.I.A. गठबंधन का एक झंडा होगा। ये झंडा गठबंधन के प्रचार, बैठक और संयुक्त रैलियों में इस्तेमाल होगा। प्रस्ताव में गठबंधन के झंडे के रूप में चक्र को हटाकर तिरंगा झंडा को ही बरकरार रखना भी शामिल है। इसपर फैसला मुंबई की बैठक में होगा।

इसे भी पढ़े   मैक्सटर्न से मारपीट के मामले में एल्विश यादव ने मांगी माफी, बोले- मेरे मां-बाप को जिंदा जलाने की दी थी धमकी

कब शुरू होंगी गठबंधन की रैलियां?
सूत्रों के अनुसार, गठबंधन का एक झंडा तो होगा लेकिन राज्यों में पार्टियां अपने-अपने चुनाव चिन्ह पर चुनाव लड़ेंगी। मुंबई की बैठक के बाद सितंबर से देशभर में गठबंधन की साझा रैलियां शुरू हो जाएंगी,जिसमें 6-7 प्रमुख नेता और विपक्ष के सीएम आदि शामिल होंगे। सूत्रों के मुताबिक, गठबंधन ने तय किया है कि रैलियों और अन्य मौकों पर गठबंधन के नेता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर व्यक्तिगत हमले नहीं करेंगे बल्कि इसकी जगह सरकार और बीजेपी की नीतियों पर हमला करेंगे।

इसके अलावा बीजेपी को जातिगत गणना,महंगाई, बेरोजगारी समेत अन्य मुद्दों और सामाजिक मसलों पर घेरा जाएगा। सूत्रों के अनुसार,मुंबई में प्रस्ताव रखा जाएगा कि गठबंधन का एक चेयरमैन हो,एक चीफ कोऑर्डिनेटर हो और 4-5 क्षेत्रीय कोऑर्डिनेटर बनाए जाएं। सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस अध्यक्ष खरगे चैयरमैन हो सकते हैं।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *