चोटिल खिलाड़ियो को लेकर Rohit Sharma का बड़ा बयान

चोटिल खिलाड़ियो को लेकर Rohit Sharma का बड़ा बयान
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। टीम इंडिया के चोटिल खिलाड़ियो की संख्या दिनों-दिन बढ़ती ही जा रही है और ये किसी भी टीम के लिए खशी की बात तो नहीं हो सकती। जहां एक ओर भारतीय टीम में चोटिल खिलाड़ियों की बढ़ती संख्या चिंता का विषय बनती जा रही है वहीं कप्तान रोहित शर्मा को नहीं लगता कि कार्यभार प्रबंधन के तहत राष्ट्रीय टीम का कोई खिलाड़ी 31 मार्च से शुरू होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग मैचों से हटेगा।

जसप्रीत बुमराह से लेकर श्रेयस अय्यर तक राष्ट्रीय टीम के चोटिल खिलाड़ियों की संख्या बढ़ती ही जा रही है और रोहित ने कहा की अक्टूबर-नवंबर में स्वदेश में होने वाले एकदिवसीय विश्वकप से पहले कार्यभार प्रबंधन की जिम्मेदारी आईपीएल फ्रेंचाइजी मालिकों और स्वयं खिलाड़ियों पर होगी। ऑस्ट्रेलिया के हाथों तीसरा और अंतिम वनडे 21 रन से हारने और सीरीज 1-2 से गंवाने के बाद रोहित ने पत्रकारों से कहा,‘‘यह चिंताजनक है। हमें उन खिलाड़ियों की कमी खल रही है जिन्हें वास्तव में अंतिम एकादश में शामिल रहना था।’’

खिलाड़ी अपना ध्यान रख सकते हैं- रोहित शर्मा
उन्होंने कहा,‘‘वे (खिलाड़ी) सभी वयस्क हैं। इसलिए वे अपने शरीर का अच्छी तरह से ध्यान रख सकते हैं और अगर उन्हें लगता है कि क्रिकेट अधिक हो रही है तो वे इस बारे में बात कर सकते हैं और एक या दो मैचों से विश्राम ले सकते हैं। वैसे मुझे संदेह है कि ऐसा होगा।’’आईपीएल 28 मई को समाप्त होगा जिसके बाद भारतीय खिलाड़ियों को लंदन के ओवल में सात जून से शुरू होने वाले विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में खेलने के लिए केवल एक सप्ताह से अधिक का ही समय मिल पाएगा।

इसे भी पढ़े   चलती बस में नाबालिग लड़की से कथित गैंगरेप;दो आरोपी गिरफ्तार

रोहित ने कहा कि 50 ओवरों के विश्व कप को देखते हुए भारतीय टीम प्रबंधन ने खिलाड़ियों के कार्यभार प्रबंधन को लेकर आईपीएल फ्रेंचाइजी मालिकों को संकेत दे दिए हैं। उन्होंने कहा,‘‘यह सब अब फ्रेंचाइजी पर निर्भर है। खिलाड़ियों पर अब फ्रेंचाइजी का अधिकार है इसलिए हमने उन्हें कुछ हद तक संकेत दे दिए हैं। आखिर में यह फ्रेंचाइजी का फैसला होगा और सबसे महत्वपूर्ण यह खिलाड़ियों की जिम्मेदारी है कि वह अपने शरीर का ध्यान रखें।’’

भारत को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पूरी द्विपक्षीय श्रृंखला के दौरान बुमराह की सेवाएं नहीं मिली जबकि अहमदाबाद में चौथे और अंतिम टेस्ट मैच के दौरान अय्यर के पीठ की चोट फिर से उभर आई और वह इसके बाद वनडे सीरीज में नहीं खेल पाए। रोहित ने कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो खिलाड़ियों को फिट रखने के लिए हर कोई अपनी तरफ से सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रहा है। हम खिलाड़ियों के प्रबंधन पर काफी ध्यान दे रहे हैं और इसलिए हमने बीच-बीच में कुछ खिलाड़ियों को विश्राम भी दिया।’’

विश्वकप तक हमारे 15 सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी तैयार रहें-रोहित शर्मा
उन्होंने कहा,‘‘हम अपनी तरफ से उनके कार्यभार प्रबंधन को लेकर सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रहे हैं। मैं विशेषज्ञ नहीं हूं जो आपको बता सकूं कि चोट फिर से क्यों उभर रही हैं। हमारी मेडिकल टीम इस पर ध्यान दे रही है और यह सुनिश्चित करने की कोशिश कर रही है कि विश्वकप तक हमारे 15 सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी तैयार रहें।’’

कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान अय्यर का आईपीएल के शुरुआती मैचों में खेलने की संभावना नहीं है। रोहित ने कहा,‘‘ निश्चित तौर पर जब आप बहुत अधिक क्रिकेट खेलते हैं तो चोटिल होने की संभावना बनी रहती है। इसलिए इस पर बहुत अधिक गौर नहीं करते हुए आप उन्हीं चीजों पर नियंत्रण कर सकते हैं जो आपके हाथ में हैं। चोटिल होने पर खिलाड़ियों को भी निराशा होती है। वह खेलना चाहते हैं इसलिए यह दुखद है लेकिन आखिर में आप इस मामले में कुछ खास नहीं कर सकते।’’

इसे भी पढ़े   पुलिसकर्मियों ने सिपाही की बीवी के साथ की छेड़छाड़,तीन कर्मी निलंबित

ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *