नहाने गए शिक्षक की गैस गीजर से मौत:दरवाजा तोड़कर बाहर निकाला

नहाने गए शिक्षक की गैस गीजर से मौत:दरवाजा तोड़कर बाहर निकाला
ख़बर को शेयर करे

सहारनपुर। सहारनपुर में बाथरूम में नहाते समय गीजर गैस लीक होने से एक शिक्षक की मौत हो गई। शिक्षक शुक्रवार सुबह नहाने के लिए बाथरूम में गए थे। जब 15 मिनट तक बाहर नहीं आए तो उनकी पत्नी ने बाहर से बाथरूम का दरवाजा खटखटाया।

कोई आवाज नहीं आने पर उन्होंने तुरंत परिवार के अन्य लोगों को इसकी जानकारी दी। सभी ने मिलकर बाथरूम का दरवाजा तोड़ा। दरवाजा तोड़कर अंदर गए तो देखा सामने शिक्षक बेहोशी की हालत में पड़े हुए थे। उनको अस्पताल लेकर जाया गया। जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

मामला सहारनपुर के सरसावा क्षेत्र के ग्राम झरौली बहलोलपुर का है। रणबीर चौधरी (35) शाहजहांपुर के किसान मजदूर इंटर कॉलेज में बायोलॉजी के टीचर थे। उनके दो बच्चे भी हैं। रणबीर अपने घर के अकेले बेटे थे। शुक्रवार को वो कॉलेज जाने की तैयारी कर रहे थे।

रोज 5 मिनट में निकल आते थे, आज बहुत देर हो गई थी
पत्नी सोनिया ने बताया, “मेरे पति मुझसे नाश्ता लगाने को बोलकर नहाने के लिए चले गए थे। मैं किचन में नाश्ता बना रही थी। रोज मेरे पति 5 मिनट में नहाकर बाथरूम से बाहर निकल आते थे। लेकिन आज 15 मिनट से ज्यादा हो गया था, वो बाथरूम से बाहर नहीं आए। जब मैं बाथरूम के पास गई तो पानी की भी आवाज नहीं आ रही थी। मेरा मन खराब होने लगा। मैंने घर के और लोगों को बुलाया। उन लोगों ने भी आवाजें दी लेकिन वो कुछ नहीं बोले।”

“उसके बाद सब ने मिलकर बाथरूम का दरवाजा तोड़ दिया। जब हम लोग अंदर गए तो मेरे पति बेहोशी की हालत में जमीन पर गिरे हुए थे। अंदर काफी धुआं था। उनका मुंह खुला हुआ था। हम लोग उनको उठाकर पास के अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टरों ने उनको मृत बता दिया।”

इसे भी पढ़े   पोते ने फावड़े से दादा को काट डाला

खेती का काम भी देखते थे रणबीर, समाजसेवी भी थे
परिवार के लोगों ने बताया, टीचर के साथ रणबीर खेती का काम भी देखते थे। वो समाज सेवा के लिए भी जाने जाते थे। रणबीर की मौत की खबर लगते ही कॉलेज का स्टाफ उनके घर पहुंच गया। साथ ही कैराना लोकसभा सांसद प्रदीप चौधरी और नकुड़ विधायक मुकेश चौधरी समेत कई नेता और अधिकारियों ने उनकी मौत पर शोक व्यक्त किया।

गैस गीजर से निकलती है कार्बन मोनोऑक्साइड गैस
राजकीय मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉक्टर अरविंद त्रिवेदी ने बताया, गैस गीजर एलपीजी गैस सिलेंडर से चलते हैं। गैस गीजर से कार्बन मोनोऑक्साइड और नाइट्रो ऑक्साइड गैस बनती है। ये गीजर बाथरूम से बाहर ही लगवाए जाते हैं। बाथरूम में ये गीजर लगवाने के लिए वेंटिलेशन की व्यवस्था भी जरूर करें। गीजर से विषैली गैस शुरुआत में ही निकलती है, उसे ऑन करते ही बाथरूम में तुरंत न जाएं।

दिमाग को डेड कर देती है कार्बन मोनोऑक्साइड गैस
डॉक्टर अरविंद त्रिवेदी ने बताया, गैस वाले गीजर से लीकेज होने पर कार्बन मोनोऑक्साइड गैस बाथरूम में मौजूद व्यक्ति को पहले बेहोश करती है और फिर उसके दिमाग पर असर करती है। ये सब इतनी जल्दी होता है कि शरीर को कुछ महसूस भी नहीं होता। अगर 5 मिनट से ज्यादा देर तक व्यक्ति बाथरूम में गैस के बीच में रह जाए तो ब्रेन डेड होने की संभावना रहती है। जो शायद रणबीर के साथ भी हुआ है।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *