Wednesday, July 6, 2022
spot_img
Homeखेलतीसरे टी20 में टीम इंडिया को हर हाल में चाहिए जीत,नहीं तो...

तीसरे टी20 में टीम इंडिया को हर हाल में चाहिए जीत,नहीं तो टूट जाएगा सीरीज का सपना

Updated on 14/June/2022 3:53:36 PM

नई दिल्ली। भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीसरा टी20 इंटरनेशनल मुकाबला आज शाम 7 बजे से विशाखापत्तनम में खेला जाएगा। पांच मैचों की टी20 इंटरनेशनल सीरीज में अब साउथ अफ्रीका ने भारत पर 2-0 से बढ़त बना ली है। टीम इंडिया को तीसरा टी20 मैच हर हाल में जीतना होगा,नहीं तो वह सीरीज गंवा देगी।

ऋतुराज गायकवाड़ की तकनीक पर सवाल
ऋषभ पंत की अगुवाई वाली टीम कई विभागों में संघर्ष कर रही है और उसे एक दिन के अंदर इन कमजोरियों को दूर करना होगा। यदि पहले मैच में भारत खराब गेंदबाजी के कारण हारा तो दूसरे मैच में बल्लेबाजों ने निराश किया. भारतीय सलामी बल्लेबाज अभी तक पावरप्ले में अच्छी शुरुआत देने में नाकाम रहे हैं। ईशान किशन ने अब तक अच्छा प्रदर्शन किया है, लेकिन ऋतुराज गायकवाड़ पहले मैच में 23 और दूसरे मैच में केवल एक रन बना पाए। तेज गेंदबाजों के सामने उनकी तकनीक पर सवाल भी उठने लगे हैं।

ऋषभ पंत कप्तानी का जिम्मा उठाने में नाकाम
श्रेयस अय्यर ने अच्छी शुरुआत की है,लेकिन वह अपेक्षित तेजी से रन नहीं बना पाए हैं जिससे आगे के बल्लेबाजों पर दबाव बन रहा है। हार्दिक पांड्या ने पहले मैच में कुछ दर्शनीय शॉट लगाए थे, लेकिन कटक के विकेट पर वह भी नहीं चल पाए थे। वह गेंदबाजी में भी नाकाम रहे हैं। केएल राहुल के चोटिल होने के कारण कप्तानी का जिम्मा संभालने वाले ऋषभ पंत अब तक 29 और पांच रन बना पाए हैं। उन्होंने 45 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 23.9 के औसत और 126.6 के स्ट्राइक रेट से केवल तीन अर्धशतक बनाए हैं,जो उनकी प्रतिभा के अनुरूप नहीं है।

युजवेंद्र चहल को बाहर किया जा सकता है?
गेंदबाजी में युजवेंद्र चहल ने अब तक निराश किया है। डेविड मिलर, रासी वान डेर डुसेन और हेनरिक क्लासेन जैसे बल्लेबाजों ने उनके खिलाफ आसानी से रन बनाए हैं। तीसरे मैच में युजवेंद्र चहल को बाहर किया जा सकता है। टीम प्रबंधन युवा लेग स्पिनर रवि बिश्नोई या ऑलराउंडर वेंकटेश अय्यर को ले सकता है। वेंकटेश आईपीएल में पारी का आगाज भी करते रहे हैं।

आवेश खान विकेट लेने में असफल रहे
भुवनेश्वर कुमार को छोड़कर भारतीय गेंदबाज विकेट लेने में असफल रहे हैं। भारतीय गेंदबाज एक या दो ओवरों में रन लुटाकर पहले की गयी मेहनत पर पानी फेर दे रहे हैं। अब जबकि सीरीज दांव पर लगी है तब उन्हें हर हाल में अच्छा प्रदर्शन करना होगा। भारतीय टीम प्रबंधन ऐसे में अब तक एक भी विकेट नहीं लेने वाले आवेश खान की जगह तेज गेंदबाज उमरान मलिक या अर्शदीप सिंह को डेब्यू का मौका दे सकता है।

दक्षिण अफ्रीका हर विभाग में अच्छा प्रदर्शन कर रहा
दूसरी तरफ दक्षिण अफ्रीका हर विभाग में अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। उसके गेंदबाज विकेट निकाल रहे हैं और बल्लेबाज साझेदारियां निभा रहे हैं। पहले मैच में मिलर और वान डेर डुसेन ने कमाल दिखाया तो दूसरे मैच में क्लासेन ने 81 रन की प्रवाहमय पारी खेली। गेंदबाजी में कैगिसो रबाडा,एनरिक नोर्किया और वायने पर्नेल अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img