सचिवालय के उद्घाटन में निमंत्रण तक नहीं मिला-तेलंगाना राज्यपाल

सचिवालय के उद्घाटन में निमंत्रण तक नहीं मिला-तेलंगाना राज्यपाल
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली | देश में नए संसद भवन के उद्घाटन को लेकर रार मची हुई है। पीएम मोदी 28 मई को नए संसद भवन का उद्घाटन करने वाले हैं। कई विपक्षी दलों ने पीएम मोदी द्वारा संसद भवन के उद्घाटन पर सवाल उठाए हैं। विपक्षी दलों नियमों की दुहाई देकर इसे राष्ट्रपति का अपमान बता रहे हैं।

सचिवालय के उद्घाटन में निमंत्रण तक नहीं मिला
वहीं, अब तेलंगाना की राज्यपाल और पुडुचेरी की उपराज्यपाल तमिलिसाई सुंदरराजन ने अहम बयान दिया है। चेन्नई में एक कार्यक्रम के दौरान राज्यपाल ने कहा कि तेलंगाना सचिवालय भवन के उद्घाटन कार्यक्रम में निमंत्रण तक नहीं दिया गया था।

राज्यपाल ने कहा, हाल ही में तेलंगाना के सीएम के चंद्रशेखर राव ने सचिवालय भव्य इमारत का उद्घाटन किया था। उस वक्त सभी ने सवाल किया कि क्या राज्यपाल को आमंत्रित किया गया था। इस पर उन्होंने कहा कि नहीं, सीएम शासन कर रहे हैं। उद्घाटन समारोह में मुझे निमंत्रण तक नहीं दिया गया था। विपक्ष कहता है कि राष्ट्रपति एक गैर-राजनीतिक व्यक्ति हैं, लेकिन आप राज्यपालों के लिए ऐसा क्यों नहीं कहते?

कौन-कौन से दल कर रहे बहिष्कार?
संसद भवन उद्घाटन कार्यक्रम का बहिष्कार करने वाले दलों में कांग्रेस, टीएमसी, आम आदमी पार्टी, सपा, राजद, द्रमुक, जदयू, शिवसेना (यूबीटी), माकपा, भाकपा, एनसीपी, आईयूएमएल, झामुमो, केरल कांग्रेस (मणि), केएसपी, वीसीके, एमडीएमके, राष्ट्रीय लोकदल और आरएसपी, एआईयूडीएफ शामिल हैं।


ख़बर को शेयर करे
इसे भी पढ़े   वाराणसी में आज से शुरू हुई G-20 की बैठक, 15 फीट की पेंटिंग बनी आकर्षण का केंद्र

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *