Friday, December 2, 2022
Google search engine
Homeब्रेकिंग न्यूज़वाराणसी में दरोगा को गोली मारने वाले बदमाशों की मुठभेड़ में...

वाराणसी में दरोगा को गोली मारने वाले बदमाशों की मुठभेड़ में हुई मौत

वाराणसी | वाराणसी में पिछले दिनों रोहनिया क्षेत्र में दरोगा को गोली मारकर पिस्टल लूटने वाले बदमाशों और कमिश्नरेट पुलिस के बीच सोमवार सुबह बड़ागांव इलाके में मुठभेड़ हो गई। रिंग रोड किनारे तड़के हुई मुठभेड़ में पुलिस और बदमाशों के बीच जमकर गोलियां चलीं। मुठभेड़ में दो बदमाश मारे गए हैं। जबकि तीसरा मौके से फरार होने में कामयाब हो गया। 

पुलिस ने बदमाशों के पास से एक 9 एमएम पिस्टल और एक 32 बोर का पिस्टल, बाइक, मोबाइल फोन और जरूरी कागजात बरामद किए हैं। बदमाशों ने लक्सा थाने में तैनात दरोगा अजय कुमार पर कुछ दिन पहले ही जानलेवा हमला कर उनकी पिस्टल लूट ली थी। इसके बाद से ही पुलिस को बदमाशों की तलाश थी। 

क्राइम ब्रांच और बड़ागांव पुलिस को सूचना मिली कि बदमाश रिंग रोड के पास हैं। पुलिस टीम ने घेराबंदी की। इस दौरान बदमाशों ने टीम पर कई राउंड फायरिंग की। जिसमें क्राइम ब्रांच के आरक्षी शिव बाबू घायल हो गए। जवाबी कार्रवाई में दो बदमाशों को भी गोली लगी और वह घायल हो गए।  बदमाशों को  इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। यहां दोनों को मृत घोषित कर दिया गया। 

पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश के मुताबिक मौके पर फील्ड यूनिट सहित अन्य अधिकारियों को रवाना किया गया। बदमाशों के कब्जे से बरामद  9 एमएम पिस्टल दरोगा वाली ही निकली। नौ नवंबर को तीन बदमाशों ने लक्सा थाने में तैनात दरोगा को गोली मारी थी और पिस्टल लूट कर भाग गए थे। 

सगे भाई हैं पुलिस मुठभेड़ में मारे गए दोनों बदमाश

रिंग रोड पर भलेखा गांव के पुलिस मुठभेड़ में मारे गए दोनों बदमाश सगे भाई हैं। जो बदमाश पुलिस को चकमा देकर भागा, वह उनका तीसरा भाई है। तीनों हत्या और लूट की घटनाओं को अंजाम देने में माहिर हैं। बदमाशों की शिनाख्त बिहार के समस्तीपुर जिले के मोहद्दीनगर थाना के गोलवा निवासी रजनीश सिंह और मनीष सिंह के रूप में हुई। इनका तीसरा भाई लल्लन पुलिस को चकमा देकर भाग गया। 

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -spot_img

Most Popular

- Advertisment -spot_img
- Advertisment -spot_img