12 लाख पहुंची केदारनाथ यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं की संख्या,भारी आपदा के बाद भी नहीं डगमगा रहे कदम

12 लाख पहुंची केदारनाथ यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं की संख्या,भारी आपदा के बाद भी नहीं डगमगा रहे कदम
ख़बर को शेयर करे

नई दिल्ली। उत्तराखंड में पिछले कई दिनों से लगातार हो रही बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त है। राज्य की सैकड़ों सड़कें टूटी हुई हैं,यहां लोगों का जीना मुहाल हो गया है लेकिन एक ओर बाबा के भक्त हैं जो कि किसी भी परेशानी से हारने को मंजूर नहीं हैं। यहां बाबा के भक्त पहले से भी ज्यादा संख्या में केदारनाथ के दर्शन करने पहुंच रहे हैं। इनकी संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है,केदारनाथ यात्रा करने वाले यात्रियों की संख्या 12 लाख पहुंच चुकी है जो की एक रिकॉर्ड है। श्रद्धालु ऊबड़-खाबड़ रास्तों से होते हुए केदारनाथ धाम पहुंच रहे हैं और बाबा केदार के दर्शन कर रहे हैं।

बाबा के दर पर पिछले कई रिकॉर्ड टूटे
उत्तराखंड में बाबा केदारनाथ में अब तक 12 लाख श्रद्धालुओं ने दर्शन किए हैं। केदारनाथ धाम में एक बार फिर से श्रद्धालुओं की सख्यां में वृद्धि देखने को मिल रही है। ग्यारहवें ज्योर्तिलिंग में अब तक का सबसे बड़ा रिकॉर्ड बन कर तैयार हो गया है। अभी तीन महीने की यात्रा शेष है,लेकिन जिस प्रकार से इस बार यात्रियों की संख्या में वृद्धि हुई उससे पिछले कई सालों के रिकॉर्ड टूटते हुए दिखाई दे रहे हैं।

श्रद्धालुओं की संख्या में लगातार बढोत्तरी
बारिश के बाद अब केदारनाथ यात्रा की दूसरे चरण य़ात्रा शुरू होने जा रही है और लगातार श्रद्धालुओं की संख्या में बढोत्तरी हो रही है। जिस प्रकार से देश-विदेश से श्रद्धालु बाबा के धाम में पहुंच रहे हैं उसे देखकर महसूस होता है कि पिछले कई सालों के रिकॉर्ड इस बार टूटने वाले हैं जिसके लिए प्रशासन पहले से तैयार दिखाई दे रहा है।

इसे भी पढ़े   कांग्रेस न छोड़ने की शपथ,एक परिवार में एक टिकट;सोनिया की तैयारी

रास्तों को ठीक कर रहा प्रशासन
आपको बता दें उत्तराखंड में हुई बारिश से अभी भी रास्ते बंद पड़े हुए हैं। जिला प्रशासन रास्तों को ठीक करने का प्रयास कर रहा है। पैदल मार्ग अभी भी क्षतिग्रस्त है,जिसे ठीक करने का प्रयास भी जारी है लेकिन आस्था के आगे सब कुछ नतमस्तक हैं। श्रद्धालु इन्हीं उबड़-खाबड रास्तों से होकर बारिश में बाबा के दर तक पहुंच रहे हैं। जिनकी संख्या आए दिन बढ़ती जा रही है।

बाबा केदारनाथ के दर्शन के लिए दुनिया के कोने-कोने से श्रद्धालु पहुंच रहे हैं। जिला प्रशासन भी इनके लिए 24 घंटे काम कर रहा है। बारिश के इस सीजन में कई बार यात्रा को बंद करना पड़ा लेकिन यात्रियों की संख्या में कमी नहीं आई है।


ख़बर को शेयर करे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *